दोस्त यह इन्टरनेट मार्केटिंग है और यहाँ आज कल इतनी वेबसाइटै हो गई है की इनकी जानकारी शायद ही कोई रखता होगा और इस भीड़ में सभी वेबसाइटों के मालिक अपनी वेबसाइट पर अधिक से अधिक लोगों को लाना चाहते है फिर चाहें वो Google से आये या पैसे देकर तो इसमें होता क्या है. यह जो वेबसाइट का मालिक ही वो किसी ऐसी वेबसाइट जो सबसे अधिक लोग रोज देखते है उसके मालिक से सम्पर्क करता है और उससे कहता की आप मेरी वेबसाइट का एक छोटा सा बैनर या पता अपनी वेबसाइट पर लगा दें में आपको हर महीने इतने पैसे दूंगा और इस तरह से जब उसकी वेबसाइट का लिंक या पता उस वेबसाइट पर लगा जाता है तो जो सबसे पोपुलर वेबसाइट है उस पर जितने भी लोग आयेंगे उनमे से %10 लोग तो उस वेबसाइट के बैनर पर क्लिक करेंगे ही करेंगे यदि बैनर अच्छा हुआ और वेबसाइट भी काम की हुई तो अधिक भी आयेंगे.

उसे YouTube पर लेकर आना है दोस्तों अगर आप पढ़ाना जानते हैं कॉमेडी वीडियो बनाना जानते हैं फनी वीडियोस बनाना जानते हैं या फिर कोई भी एक नॉलेज जो आप ज्यादा जानते हैं तो आप YouTube के माध्यम से वीडियो में शेयर कर सकते हैं अगर बंधुओं को आपकी वीडियो पसंद आती है लोग आपकी वीडियो देखते हैं तो आपको बहुत ज्यादा पैसा भी मिलेगा जिस दिन आप YouTube पर फेमस हो गए फिर आपके पीछे पैसा भागेगा पैसे के पीछे आप नहीं यह भी अमीर बनने का चांस है
आपने खरगोश और कछुये की कहानी तो  सुनी होगी , सब जानते है कैसे खरगोश पहले से ही बहुत अच्छे से दौड़ना सुरु किया था और बीच में जाकर सो जाने  वजह से race हर जाता है  और कछुआ  slow और लगातार चलने की वजह से race जीत जाता है। लेकिन  कोई ऐसा creature होता की जो सुरु भी अच्छे से करता और पूरे रास्ते consistent  रहता बिलकुल आखिर में finish लाइन तक,तो वो creature खरगोश  और कछुआ दोनो को ही हरा देता। 
अमीर होने का मतलब यह है कि आप किसी भी ऋण से मुक्त हैं. अधिकांश अमीर लोग अपने माथे कोई व्यक्तिगत ऋण नहीं लेते हैं. उद्योगपतियों में से कोई भी, जो अन्यथा ऋण से भरे कंपनियों को चलाता है, को व्यक्तिगत रूप से दिवालिया घोषित किया जाता है. लेकिन एक आम आदमी कर्ज लेता है क्योंकि उनके पास अब खर्च करने के लिए पैसा नहीं है. जब आप पैसे खर्च करना चाहते हैं और आपके पास पैसे ना हों तो आपको ऋण की जरुरत होती है. इसलिए, आप अपनी भविष्य की आय उधार लेते हैं और उस आय को भारी ब्याज के साथ चुकाते हैं. यदि आप कमाने से ज्यादा चुकाते हैं, तो आप कभी भी अमीर कैसे होंगे? ऋण या खर्च हमारी आय की शक्ति को दूर कर देते हैं क्योंकि अंत में वे बैंक या वित्तीय संस्थान के खाते में जमा हो जाते हैं. यदि आप 15 साल के लिए हर महीने 20,000 EMI का भुगतान करते हैं, तो आप 36 लाख रुपये का भुगतान करने में असमर्थ हैं. यदि आप कर्ज लेते हैं, तो आप कभी भी अमीर नहीं होंगे.
इकनॉमिक टाइम्स| ઈકોનોમિક ટાઈમ્સ | Pune Mirror | Bangalore Mirror | Ahmedabad Mirror | ItsMyAscent | Education Times | Brand Capital | Mumbai Mirror | Times Now | Indiatimes | नवभारत टाइम्स | महाराष्ट्र टाइम्स | ವಿಜಯ ಕರ್ನಾಟಕ | Go Green | AdAge India | Eisamay | IGN India | NavGujarat Samay | Times of India | Samayam Tamil | Samayam Telugu | Miss Kyra | Bombay Times | Filmipop | BrainBaazi | BrainBaazi APP

9 जो भाई गरीब है वह इसलिए खुशी मनाए* कि उसे ऊँचा किया गया है+ 10 और जो अमीर है वह इसलिए खुशी मनाए कि उसे दीन किया गया है,+ क्योंकि वह ऐसे मिट जाएगा जैसे मैदान में उगनेवाला फूल। 11 जैसे सूरज के चढ़ने पर उसकी तपती धूप से पौधा मुरझा जाता है और उसका फूल सूखकर गिर जाता है और उसकी खूबसूरती मिट जाती है, ठीक वैसे ही अमीर आदमी भी ज़िंदगी की भाग-दौड़ में मिट जाएगा।+
◼Connect With Us On Social-media◼ ◾ Like Our Page On Facebook ▶www.facebook.com/techguptahindi ◾Follow Us On Twitter ▶ www.twitter.com/techguptahindi◾ Follows us on Instagram ▶ www.instagram.com/techguptahindi ==================== ==================== NOTE :- The Video is for education purpose, any misuse of the video, the channel won't be responsible. ▶ ALL THE IMAGES/PICTURES SHOWN IN THE VIDEO BELONGS TO THE RESPECTED OWNERS AND NOT ME.. ▶ I AM NOT THE OWNER OF ANY PICTURES SHOWED IN THE VIDEOS ▶ All content used is ©copyright to Techgupta , Use or commercial display or editing of the content without proper authorization is not allowed. ▶ Background Music ◀BACKGROUND MUSIC CRADIT GOES TO !!!
7 इसलिए, खुद को परमेश्‍वर के अधीन करो, मगर शैतान* का सामना करो और वह तुम्हारे पास से भाग जाएगा। 8 परमेश्‍वर के करीब आओ और वह तुम्हारे करीब आएगा। अरे पापियो, अपने हाथ धोओ, अरे दुचित्ते लोगो, अपने दिलों को शुद्ध करो। 9 अपनी दुर्दशा पर मातम करो और रोओ। तुम्हारी हँसी मातम में और तुम्हारी खुशी उदासी में बदल जाए। 10 यहोवा की नज़रों में खुद को नम्र करो और वह तुम्हें ऊँचा करेगा।

तो मित्रों अब यदि इन काले अंग्रेजों से आज़ादी चाहिए तो फिर से कोई स्वतंत्रता संग्राम छेड़ना होगा, कोई क्रान्ति को जन्म देना होगा। फिर से किसी को मंगल पण्डे बनना होगा, किसी को भगत सिंह तो किसी को सुभाष चन्द्र बोस बनना होगा। क्यों कि जीवन जीने के केवल दो हे तरीके इस देश में बचे हैं कि या तो जो हो रहा है उसे सहते रहो, शान्ति के नाम पर यथास्थिति बनाए रखो, और सब कूछ सहते सहते मर जाओ या फिर खड़े हो जाओ एक संकल्प के साथ और आवाज़ उठाओ अन्याय के विरुद्ध, फिर से खड़ी करो एक क्रान्ति, और केवल मै और मेरा पारिवार की विचारधारा से भार आकर मेरा राष्ट्र की विचारधारा को अपनाओ। किन्तु आज इस देश में यथास्थिति वाले लोग अधिक है। उन्ही से पूछना चाहूँगा कि क्या ये दिन देखने के लिये ही तुम्हारे पूर्वजों ने जीवन का बलिदान दिया था, क्या उनका त्याग व्यर्थ जाएगा, क्या आज तुम्हारे पूर्वजों को तुम प र गर्व होगा, क्या आने वाली पीढी को तुम पर गर्व होगा, क्या अपनी आने वाली पीढ़ी के लिये विरासत में तुम इन काले अंग्रेजों को छोड़ के जाओगे? आचार्य विष्णु गुप्त (चाणक्य) ने कहा था कि जितनी हानि इस राष्ट्र को दुर्जनों कि दुर्जनता से हुई है उससे कहीं अधिक हानि इस राष्ट्र को सज्जनों कि निष्क्रियता से हुई है। क्या आप सज्जन हमेशा निष्क्रीय ही बने रहेंगे? अब कोई भी यह पूछ सकता है कि हम क्या करें? मित्रों करने को बहुत कूछ है करने की इच्छा शक्ति होनी चाहिए। यदि आप में इच्छा शक्ति है, यदि आप में ज्ञान है तो आप खुद अपने लिये राह बना सकते हैं। चाणक्य ने मगध सम्राट धननंद के दरबार में उसे ही ललकारते हुए कहा था कि मेरे ज्ञान में अगर शक्ति है तो मै अपना पोषण कर सकने वाले सम्राटों का निर्माण स्वयं कर लूँगा।


वैसे तो Internet पैसे कमाने के बहुत से तरीके है | लेकिन में यहाँ आप लोगो को 2 तरीको के बारे में बताने जा रहा हूँ | जिनकी सहायता से मैं भी पैसे कमा रहा हूँ, और इसमें कोई रिस्क भी नही है | और इसमें आपको Internet से पैसे कमाने के लिए किसी Degree की जरूरत नही है | लेकिंन आप Internet से पैसे तभी कमा सकते है | जब आपका किसी चीज में रूचि रखते हो | जैसे मान लीजिये आपका खाना बनाने में Interest है | तो आप खाने से सम्बंधित Blog बनाकर, अपने द्वारा तैयार अपनी Recipes को अपने Blog पर डाल सकते हैं |
अमीर लोग 50 फीसदी पैसे बचाते हैं. बाकी 50 फीसदी वहां निवेश कर रहे हैं जहां आपको अच्छे रिटर्न मिले. “क्या आपको पता है यदि आप निवेश साधन में तीस साल के लिए 800 रुपये प्रति माह मासिक नेटफ्लिक्स चार्ज को बचाते हैं और निवेश करते हैं जो सालाना 15 प्रतिशत देता है, तो आप 55 लाख रुपये जमा कर सकते हैं? यह बुद्धिमानी से निवेश करने का तरीका है. यदि आपकी आयु 30 वर्ष से कम हैं, तो इक्विटी/स्टॉक-लिंक्ड उत्पादों में अपनी बचत का एक बड़ा हिस्सा निवेश करें. ऋण केवल आपकी बचत का एक छोटा सा हिस्सा होना चाहिए.  म्यूचुअल फंड के माध्यम से, आप अपनी बचत को विभिन्न प्रकार के फंडों में फैला सकते हैं. सोने के लिए 5 फीसदी एक्सपोजर लें. 5 से 10 साल की अवधि के साथ रियल एस्टेट में निवेश न करें, और बेहतर विकल्प हैं, रेगो कहते हैं.
13 सुनो, तुम जो कहते हो: “आज या कल हम इस या उस शहर में जाएँगे और वहाँ एक साल बिताएँगे और व्यापार करेंगे और खूब पैसा कमाएँगे,” 14 जबकि तुम नहीं जानते कि कल तुम्हारे जीवन का क्या होगा। क्योंकि तुम उस धुंध की तरह हो जो थोड़ी देर दिखायी देती है और फिर गायब हो जाती है। 15 इसके बजाय, तुम्हें यह कहना चाहिए: “अगर यहोवा की मरज़ी हो, तो हम कल का दिन देखेंगे और यह काम या वह काम करेंगे।” 16 मगर तुम अपनी बड़ी-बड़ी डींगों पर घमंड करते हो। ऐसा हर तरह का घमंड दुष्टता है। 17 इसलिए, अगर एक इंसान सही काम करना जानता है और फिर भी नहीं करता, तो यह उसके लिए पाप है।
शारदीय नवरात्र के शुभारंभ के पहले दिन बुधवार को घट स्थापना की जाएगी। नवरात्र की अष्टमी 17 अक्तूबर को और नवमी 18 को मनाई जाएगी। शास्त्री उमाकांत अवस्थी ने बताया कि पवित्र स्थान की मिट्टी से वेदी बनाकर उसमें जौ और गेहूं बोएं। फिर उन पर कलश को विधिपूर्वक स्थापित करें।  कलश के ऊपर मूर्ति की प्रतिष्ठा करने का विधान है। मूर्ति न हो तो कलश के पीछे स्वास्तिक और उसके दोनों कोनों में दुर्गाजी का चित्र, पुस्तक व शालीग्राम को विराजित कर भगवान विष्णु का पूजन कर दें। 
और आज इन्ही काले अंग्रेजों की संताने आज हम पर शाशन कर रही हैं। वरना क्या वजह है कि मध्य प्रदेश के इंदौर शहर में नयी दुनिया नामक एक अखबार की पुस्तक का विमोचन करने पहुंचे चिताम्बरम ने यह कहा कि भारत तो हज़ारों वर्षों से भयंकर गरीब देश है। और इन्ही काले अंग्रेजों की एक और संतान हमारे प्रधान मंत्री जी हैं। जब ये प्रधान मंत्री बनने के बाद पहली बार ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय गए तो वहां उन्हà ��ंने कहा कि भारत तो सदियों से गरीब देश रहा है, ये तो भला हो अंग्रेजों का जिन्होंने आकर हमें अँधेरे से बाहर निकाला, हमारे देश में ज्ञान का सूरज लेकर आये, हमारे देश का विकास किया आदि आदि। अगले दिन लन्दन के सभी बड़े बड़े अखबारों में हैडलाइन छपी थी की भारत शायद आज भी मानसिक रूप से हमारा गुलाम है। और ये वही काले अंग्रेज हैं जो खुद तो देश का पैसा स्विस बैंक में जमा करते गए किन्तु गुजरात जैसे प्रदेश में भी विकास करने वाले नरेन्द्र भाई मोदी पर पता नहीं क्या क्या घटिया आरोप लगाते रहे। मानसिक गुलामी की बाढ़ इतनी आगे बढी कि हमारा मीडिया भी उसमे गोते खाने लगा। देश पर २०० साल तक राज़ करने वाली ईस्ट इण्डिया कम्पनी को एक भारतीय उद्योगपति संजीव मेहता ने १५० लाख डॉलर मूल्य देकर खरीद लिया, जिस कम्पनी ने भारत को २०० साल गुलाम बनाया वह कम्पनी आज एक भारतीय की गुलाम हो गयी है, किन्तु देश के किसी भी चैनल पर इसे नहीं देखा गया क्यों कि हमारा टीआरपी पसाद मीडिया तो उस समय सानिया शोएब की कथित प्रेम कहानी को कवर करने में बिजी था न, उस समय देश से ज्यादा शायद ये दो प्रेम के पंछी मीडिया के लिये जरूरी थे।
In December 2013, a Falcon 9 successfully carried a satellite to geosynchronous transfer orbit, a distance at which the satellite would lock into an orbital path that matched the Earth's rotation. In February 2015, SpaceX launched another Falcon 9 fitted with the Deep Space Climate Observatory (DSCOVR) satellite, aiming to observe the extreme emissions from the sun that affect power grids and communications systems on Earth.

भारतीय कोच हरेंद्र सिंह ने स्वीकार किया, ‘मलयेशिया जीत का हकदार था। हमने काफी गलतियां कीं और इसका खामियाजा भुगतना पड़ा। हम चीजों को सामान्य नहीं रख पाए। हमने अपना भारतीय कौशल दिखाने की कोशिश की और ऐसा करते हुए लय गंवा दी। यह भारतीय हॉकी के लिए बड़ा झटका है। ओलिंपिक के लिए राह अब कहीं अधिक मुश्किल होगी। हमने क्वॉलिफाइ करने का सबसे आसान मौका गंवा दिया।’
5 उसी तरह, जीभ भी हमारे शरीर का एक छोटा-सा अंग है फिर भी यह बड़ी-बड़ी डींगें मारती है। देखो! पूरे जंगल में आग लगाने के लिए बस एक छोटी-सी चिंगारी काफी होती है। 6 जीभ भी एक आग है। यह हमारे शरीर के अंगों में बुराई की एक दुनिया है, क्योंकि यह पूरे शरीर को कलंकित कर देती है और इंसान की पूरी ज़िंदगी में* आग लगा देती है और यह गेहन्‍ना* की आग की तरह भस्म कर देती है। 7 हर तरह के जंगली जानवर, पक्षी, रेंगनेवाले जीव-जंतु और समुद्री जीवों को तो पालतू बनाया जा सकता है और इंसान ने उन्हें काबू में कर पालतू बनाया भी है, 8 मगर जीभ को कोई भी इंसान काबू में नहीं कर सकता। यह ऐसी खतरनाक और बेकाबू चीज़ है जो जानलेवा ज़हर से भरी है। 9 इसी से हम अपने पिता यहोवा का गुणगान करते हैं, और इसी से इंसानों को बद्‌-दुआ देते हैं जिन्हें “परमेश्‍वर की छवि में” बनाया गया है। 10 एक ही मुँह से गुणगान और बद्‌-दुआ दोनों निकलते हैं।

सुन तस्करीका घटना पछिल्लो समय वृद्धि हुँदै गएका छन् । यसमाथि सरकारले अनुसन्धान बढाउँदै लगेपछि नयाँ–नयाँ रहस्यहरु सतहमा आएका छन् । बढ्दो सुन तस्करीलाई आज कान्तिपुर दैनिक र नयाँ पत्रिकाले केलाएका छन् । ‘सुन तस्करीको लहरो’ शीर्षकको मूल समाचारमा कान्तिपुरले लेखेको छ– उच्च प्रहरी अधिकारीसहित २० जनालाई पक्राउ गरी अनुसन्धान गरिरहेको विशेष समितिले घटना खोतल्दै जाँदा संगठित जालो क्रमशः खुल्दै गइरहेको छ ।’
थॉमस रो ने सबसे पहले सूरत के एक महल नुमा घर को लूटा जो आज भी मौजूद है। फिर पड़ोस के गाँव में और फिर और आगे। खाली हाथ आये इन अंग्रजों के पास जब करोड़ों की संपत्ति आई तो इन्होने अपनी खुद की सेना बनायी। उसके बाद सन १७५७ में रोबर्ट क्लाइव बंगाल के रास्ते भारत आया उस समय बंगाल का राजा सिराजुद्योला था। उसने अंग्रेजों से संधि करने से मना कर दिया तो रोबर्ट क्लाइव ने युद्ध की धमकी दी और केवल ३५० अंग्रेज सैनिकों के साथ युद्ध के लिये गया। बदले में सिराजुद्योला ने १८००० की सेना भेजी और सेनापति बनाया मीर जाफर को। तब रोबर्ट क्लाइव ने मीर जाफर को पत्र भेज कर उसे बंगाल की राज गद्दी का लालच देकर उससे संधि कर ली। रोबर्ट क्लाइव ने अपनी डायरी में लिखा था कि बंगाल की राजधानी जाते हुए मै और मीर जाफर सबसे आगे, हमारे पीछे मेरी ३५० की अंग्रेज सेना और उनके पीछे बंगाल की १८००० की सेना। और रास्‍ते में जितने भी भारतीय हमें मिले उन्होंने हमारा कोई विरोध नहीं किया, उस समय यदि सभी भारतीयों ने मिल कर हमारा विरोध किया होता या हम पर पत्थर फैंके होते तो शायद हम कभी भारत में अपना साम्राज्य नहीं बना पाते। वो डायरी आज भी इंग्लैण्ड में है। मीर जाफर को राजा बनवाने के बाद धोखे से उसे मार कर मीर कासिम को राजा बनाया और फिर उसे मरवाकर खुद बंगाल का राजा बना। ६ साल लूटने के बाद उसका स्थानातरण इंग्लैण्ड हुआ और वहां जा कर जब उससे पूछा गया कि कितना माल लाये हो तो उसने कहा कि मै सोने के सिक्के, चांदी के सिक्के और बेश कीमती हीरे जवाहरात लाया हूँ। मैंने उन्हें गिना तो नहीं किन्तु इन्हें भारत से इंग्लैण्ड लाने के लिये मुझे ९०० पानी के जहाज़ किराये पर लेने पड़े। अब सोचो एक अकेला रोबर्ट क्लाइव ने इतना लूटा तो भारत में उसके जैसे ८४ ब्रीटिश अधीकारी आये जिन्होंने भारत को लूटा। रोबर्ट क्लाइव के बाद वॉरेन हेस्टिंग्स नामक अंग्रेज अधीकारी आया उसने भी लूटा, उसके बाद विलियम पिट, उसके बाद कर्जन, लौरेंस, विलियम मेल्टिन और न जाने कौन कौन से लुटेरों ने लूटा। और इन सभी ने अपने अपने वाक्यों में भारत की जो व्याख्या की उनमे एक बात सबमे सामान है। सबने अपने अपने शब्दों में कहा कि भारत सोने की चिड़िया नहीं सोने का महासागर है। इनका लूटने का प्रारम्भिक तरीका यह था कि ये किसी धनवान व्यक्ति को एक चिट्ठी भेजते थे जिसमे एक करोड़, दो करोड़ या पांच करोड़ स्वर्ण मुद्राओं की मांग करते थे और न देने पर घर में घुस कर लूटने की धमकी देते थे। ऐसे में एक भारतीय सोचता कि अभी नहीं दिया तो घर से दस गुना लूट के ले जाएगा अत: वे उनकी मांग पूरी करते गए। धनवानों के बाद बारी आई देश के अन्य राज्यों के राजाओं की। वे अन्य राज परीवारों को भी ऐसे ही पत्र भेजते थे। कूछ राज परिवार जो कायर थे उनकी मांग मान लेते थे किन्तु कूछ साहसी लोग ऐसे भी थे जो उन्हें युद्ध के लिये ललकारते थे। फिर अंग्रेजों ने राजाओं से संधि करना शुरू कर दिया।
7. डाटा एंट्री जॉबः देश में कई तरह की डाटा एंट्री जॉब है, लेकिन साथ ही ऐसी कई कंपनीज भी हैं, जो फर्जी डाटा एंट्री जॉब के नाम पर ठगने का भी काम करती हैं. वह आपसे रजिस्ट्रेशन अमाउंट मांगती हैं और अगर आप एक बार इसे दे देते हैं तो उनकी तरफ से रेस्पॉन्स आना ही बंद हो जाता है. इंटरनेट पर इस जॉब की भरमार है इसलिए गूगल पर कंपनी का रेप्युटेशन जरूर चेक करें.

इनमें से जो सबसे ज्यादा Famous हैं वो हैं Blogging और दूसरा है Youtube से पैसे कमाना उसे Monitize कर के. क्या आपने कभी ये सोचा की Youtube के Personalities क्यूँ अपने channel को Full Time Job की तरह Treat करते हैं? इसके जवाब बिलकुल आसान है क्यूंकि वो अपने Youtube Channel से अच्छा पैसे कमाते हैं. तो अब आप सोच रहे होंगे की आखिर कैसे वो ऐसा कर पाते हैं जो घबराये नहीं क्यूंकि आज में आप लोगों को यूट्यूब से पैसे कैसे कमाए के बारे में बताने वाला हूँ जिससे की आप भी Online अच्छा पैसा कमा सकते हैं. तो फिर देरी किस बात की चलिए शुरू करते हैं और जानते हैं की Youtube से पैसे कमाने का तरीका in Hindi.

दुनियाभर के लोग पैसे कमाने के लिए दिन रात मेहनत करते है कोई शारीरिक श्रम करता है तो कोई बौद्धिक श्रम. सभी अपनी रोजमर्रा की जरुरतों को पूरा करने के लिए पैसा कमाने में लगे रहते हैं. इस मेहनती दुनिया में इंटरनेट एक ऐसी जगह बनकर उभर रही है जहां आप बिना कोई मेहनत किए हजारों रुपए कमा सकते है वह भी घर बैठे. इंटरनेट पर ऐसी अनेक वेबसाइट है जहां से आप घर बैठे पैसे कमा सकते है. मौजूदा वक्त में जब यह देश संचार क्रांति के युग से गुज़र रहा है तब लोग रोज़ नए-नए ऐसे तरीके खोज रहे है जिससे वह अपनी ज़िन्दगी और बेहतर बनाना चाहते है. आज कल सबके हाथों में एक स्मार्टफोन मिल ही जाता है, आपको मालूम ना हो पर यह फ़ोन आपको हज़ारो रुपए कमाने में मदद कर सकता है. स्मार्टफोन में आप ऐसे बहुत से एप इनस्टॉल कर सकते है जिनकी मदद से आप लखपति तो नहीं लेकिन अपने रोज़ मर्रा के होने वाले खर्च निकाल सकते हैं. आइए जानते है ऐसी ही कुछ एप के बारे में.


भारत की उभरती अर्थव्यवस्था ने कई ऐसे लोगों के सितारे बुलन्द किए, जो पहली बार बिजनेस में उतर रहे थे. आन्या गुप्ता ने उनसे लंबी बातचीत कर उनकी जिंदगियों का 'फर्स्ट पर्सन' ब्यौरा लिया और 'कैप्टनशिप 'नाम से किताब लिखी. ये सीरीज उन आत्मकथाओं का संक्षिप्त रूपांतर है. चित्र अनीता बालचंद्रन के हैं और प्रकाशन ब्लूम्सबरी का. मूल हिंदी अनुवाद भावना पांडेय का है.
Make Money in Hindi : अगर आप अपने काम से प्रेम करते हों, लेकिन उसमें ज़्यादा पैसा नहीं मिलता हो, तो आपकी दौलत-निर्माण (wealth Creation) की ऐसी रणनीति बनाने की ज़रूरत है, जो ‘दिन की नौकरी’ पर निर्भर न हो। अपने काम से प्रेम करना बहुत अच्छी बात है, लेकिन अगर आप दौलतमंद भी बनना चाहते हैं, तो आपको एक चीज़ सुनिश्चित कर लेनी चाहिए। नौकरी करने में इतने व्यस्त न हो जाएँ कि दौलतमंद बनने की बात भूल ही जाएँ। आपको यह कभी नहीं भूलना चाहिए कि आपकी प्रिय नौकरी के साथ आपको कौन से दूसरे काम या रणनीतियों का इस्तेमाल करने की ज़रूरत है, ताकि आपको दूसरी या वैकल्पिक आमदनी हो सके।
अब आप सोच रहे होंगे कि अपने प्रोडक्ट के बारे में किसे बताएं और फोटो किसे दें तो हम आपकी जानकारी के लिए बता देना चाहते हैं भारत में आज के समय में कई सारी कंपनियां लोगों का ऑनलाइन सामान सेल कराती हैं इनमें से. फ्लिपकार्ट, अमेज़न, स्नैपडील, शॉपक्लूज आदि कंपनी आपके सामान को इंटरनेट की दुनिया में सेल करने का काम करती है जिससे आपकी ऑनलाइन इनकम होना शुरू हो जाएगी.
आपने जरुर इस बिज़नेस का नाम तोह सुना ही होगा,इस बिज़नेस के द्वारा भी हम crorepati बन सकते है,इस बिज़नेस में हमें product को डायरेक्ट बेचना है,यानी हमें product को खरीदकर दुसरे लोगो को इस product को खरीदने के लिए सुझाव देना होगा,हमें ये काम अकेले नहीं करना होता बल्कि लोगो को काम पर रखकर ये काम करना होता है,इस बिज़नेस में ख़ास बात ये होती है की हम इस बिज़नेस में लोगो को काम पर रख सकते है,और हमें उन्हें पैसे देने के लिए महीने का खर्चा भुगतने की जरुरत भी नहीं होती.
हालांकि, Google प्लस सर्किल को गोद लेने के लिए यह निश्चित रूप से आसान है, अपने क्षितिज को ऑफ़लाइन विस्तृत करने का एक तरीका यहां है: सुसान कैन कहते हैं, "यादृच्छिक लोगों के समूह की बजाय व्यक्तिगत बातचीत की श्रृंखला के रूप में उपस्थित होने वाली अगली पार्टी के पास जाएं, शांत: दुनिया में अंतर्दृष्टि की शक्ति जो बात करना बंद नहीं कर सकती है। अधिक ध्यान केंद्रित करें और आपकी इंप्रेशन स्थायी होने की संभावना है, जिससे आप दोस्ती के करीब एक कदम रख सकें।
आयकर विभाग के आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि शुक्रवार शाम तक पूरी तस्वीर साफ होगी। आयकर महानिदेशक अन्वेषण, पटना एस आर मल्लिक के निर्देश पर सहायक निदेशक आयकर अन्वेषण धनबाद सुनील किसन आगवणे के नेतृत्व में छापेमारी चल रही है। इसमें आयकर विभाग के झारखंड-बिहार के 110 अधिकारी एवं कर्मचारी तथा 125 पुलिसकर्मी शामिल हैं। संयुक्त निदेशक अन्वेषण रांची प्रणव कुमार कोले भी धनबाद पहुंचे हैं। धनबाद में नौ कंपनियों की जांच आयकर टीम कर रही है, जो अस्तित्व में हैं और इन्हीं के तहत कारोबार संचालित है।  

दोस्तों हमने आज आपको हमारी इस पोस्ट मे बताया की Google se Paise Kaise Kamaye हमने हमारी इस पोस्ट को आसान से आसान भाषा मे लिखने की कोशिस की है, अगर आपको हमारी पोस्ट पसंद आई हो कृपया करके इस पोस्ट को ज्यादा से ज्यादा शेयर कीजिये, आप हमारी वेबसाइट पर बेल आइकॉन को प्रेस करके हमारी हर एक नयी आने वाली पोस्ट से जुड़े रह सकते है, हमने आपको हमारी पिछली पोस्ट मे यह भी बताया था Whatsapp se Paise Kaise Kamaye और यह भी बताया था की Whatsapp Kaise Download Kare
ऑनलाइन रिसर्च: युवा अपना अधिकतर समय इंटरनेट पर बिताते हैं, ऐसे में क्यों न इसे अपना काम की चीज ही बना लें। हालांकि ऑनलाइन रिसर्च का काम सुनने में बड़ा बोरिंग लगता है लेकिन इससे आपको अच्छी कमाई के साथ कई विषयों के बारे में जानकारी पाने का अवसर भी मिलता है। आप इसके लिए बिजनेस या मीडिया हाउसेस या फिर किसी कंपनी में काम कर सकते हैं। अधिकतर समय यह काम घर से भी किया जा सकता है।

नमस्कार दोस्तों, मैं Prabhanjan, HindiMe(हिन्दीमे) का Technical Author & Co-Founder हूँ. Education की बात करूँ तो मैं एक Enginnering Graduate हूँ. मुझे नयी नयी Technology से सम्बंधित चीज़ों को सीखना और दूसरों को सिखाने में बड़ा मज़ा आता है. मेरी आपसे विनती है की आप लोग इसी तरह हमारा सहयोग देते रहिये और हम आपके लिए नईं-नईं जानकारी उपलब्ध करवाते रहेंगे. :) #We HindiMe Team Support DIGITAL INDIA
तो मित्रो इसका उत्तर यहाँ से मिलता है। उस समय अफ्रीका और लैटिन अमरीका तक व्यापार का काम दो देशों चीन और भारत से होता था। आप सब जानते ही होंगे कि अफ्रीका दुनिया का सबसे बड़ा स्वर्ण उत्पादक क्षेत्र रहा है और आज भी है। इसके अलावा अफ्रीका की चिकित्सा पद्धति भी अद्भुत रही है। सबसे ज्यादा स्वर्ण उत्पादन के कारण अफ्रीका भी एक बहुत अमीर देश रहा है। अंग्रेजों द्वारा दी गयी ४५० साल की गुलामी भी इस देश से वह गुण नहीं छीन पायी जो गुण प्रकृति ने अफ्रीका को दिया। अंग्रेजों ने अफ्रीका को न केवल लूटा बल्कि बर्बरता से उसका दोहन किया। भारत और अफ्रीका का करीब ३००० साल से व्यापारिक सम्बन्ध रहा है। भौगोलिक दृष्टि से समुद्र के रास्ते दक्षिण एशिया से अफ्रीका या लैटिन अमरीका जाने के लिये इंग्लैण्ड के पास से निकलना पड़ता था। तब इंग्लैण्ड वासियों की नज़र इन जहाज़ों पर पड़ गयी। और आप जानते होंगे कि इंग्लैण्ड में कूछ नही था, लोगों का काम लूटना और मार के खाना ही था, ऐसे में जब इन्होने देखा कि माल और सोने भरे जहाज़ भारत जा रहे हैं तो इन्होने जहाज़ों को लूटना शुरू किया। किन्तु अब उन्होंने सोचा कि क्यों न भारत जा कर उसे लूटा जाए।।। तब कूछ लोगों ने मिल कर एक संगठन खड़ा किया और वे इंग्लैण्ड के राजा रानी से मिले और उनसे कहा कि हम भारत में व्यापार करना चाहते हैं हमें लाइसेंस की आवश् यकता है। अब राज परिवार ने कहा कि भारत से कमाया गया धन राज परिवार, मंत्रिमंडल, संसद और अधीकारियों में भी बंटेगा। इस समझौते के साथ सन १७५० में थॉमस रो ईस्ट इण्डिया कम्पनी के नाम से जहांगीर के दरबार में पहुंचा और व्यापार करने की आज्ञा मांगी। और तब से १९४७ तक क्या हुआ है वह तो आप भी जानते है।
अपनी वेबसाइट बनाने में मदद के लिए ऑनलाइन पर्याप्त सामग्री उपलब्ध है. इसमें आपकी वेबसाइट के लिए डोमेन, टेम्पलेट्स और डिजाइन चुनना शामिल है. जब आप बेवसाइट बना लेते हैं तो आपकी बेवसाइट पर आने वाले ग्राहक गूगल एडसेंस पर जैसे ही साइन अप करते हैं तो आपकी वेबसाइट पर दिखाई देने वाले विज्ञापन पर क्लिक किए जाने से आपको पैसे कमाने में मदद मिलती है. आपकी वेबसाइट पर जितना अधिक ट्रैफिक मिलता है, उतना अधिक कमाई की संभावना अधिक होगी.
मित्रों श्री राजीव दीक्षित के एक व्याक्यान में उन्होंने बताया था कि वे एक बार जर्मनी गए थे और वहां एक प्रोफेसर से उनका विवाद हो गया। विवाद का विषय था ”भारत महान या जर्मनी?” जब कोई निर्णय नहीं निकला तो उन्होंने एक रास्ता बनाया कि दोनों जन एक दूसरे से उसके देश के बारे में कुछ सवाल पूछेंगे और जिसके जवाब में सबसे ज्यादा हाँ का उत्तर होगा वही जीतेगा और उसी का देश महान। अब राजीव भाई ने प्रश्न पूछना शुरू किया। उनका पहला प्रश्न था-

Share Market in Hindi आईये जानें शेयर बाजार को कैसे करें कमाई और कैसे बचें रिस्क से यहां निवेश करने से पहले जान लें यह सब पहलू। शेयर बाजार में पैसा बनाना बहुत आसान है उसी प्रकार यहां पैसा खोना भी बहुत आसान है। इससे बचा जा सकता है अगर आप स्वंय शेयर मार्केट के बारे में अधिक से अधिक जानकारी एकत्र करें, शोध करें और दूसरों के दिये टिप्स पर न जायें। शेयर बाजार में निवेश करने से पहले जान लें यह पहलु जिनसे आपको पता चले कि कैसे करें कमाई और कैसे बचें रिस्क से।

ई-कॉमर्स कंपनियों का उदाहरण है जो घर के उपकरणों से शुरू शारीरिक उत्पादों को बेचने के लिए ले लो, पुस्तकें सब कुछ करने के लिए apparels. किताबें जलाने का उदाहरण लें, पर ऑनलाइन पाठ्यक्रम Udemy, ई बुक्स, सॉफ्टवेयर है जो जानकारी आधारित उत्पादों रहे हैं. सेवा के मामले में, आप आभासी सहायक की तरह विभिन्न सेवाएं प्रदान कर सकते हैं, ग्राहक सेवा, दिन देखभाल, कोचिंग आदि.


After leaving Penn, Elon Musk headed to Stanford University in California to pursue a PhD in energy physics. However, his move was timed perfectly with the Internet boom, and he dropped out of Stanford after just two days to become a part of it, launching his first company, Zip2 Corporation. An online city guide, Zip2 was soon providing content for the new websites of both The New York Times and the Chicago Tribune. In 1999, a division of Compaq Computer Corporation bought Zip2 for $307 million in cash and $34 million in stock options.
क्यूबर न केवल एक तेज रिचार्ज ऐप है बल्कि यह आपको अपने दोस्तों को इसे संदर्भित करके पक्ष में कमाता है। क्यूबर एक समृद्ध समुदाय बन जाता है जो आपको जीवनकाल में रॉयल्टी कमाता है, तब भी जब आप सक्रिय रूप से इसका उपयोग नहीं कर रहे हैं। यह सबसे बड़ा फायदा है और सरल है – ऐप को अपने मित्रों को देखें और कमाएं एक पूर्व निर्धारित नकद बैक दर संरचना के अनुसार, आपके मित्रों द्वारा किए जाने वाले किसी भी लेन-देन के लिए, आपको उस लेन-देन पर नकद वापस राशि मिलती है। यह दर 14 स्तर तक तय की जाती है, अर्थात् 14 वीं स्तर तक रेफरल के लिए, आप क्यूबर वॉलेट पैसे कमा सकते हैं। क्यूबर केवल रिचार्ज, यूटिलिटी बिल और शॉपिंग और कैशबैक सुविधाओं के साथ कैशबैक ऐप को देखें और कमाएं
×