अगर आप आजीविका चलाने के लिए नौकरी करते हैं और आपको यह उम्मीद नहीं है कि वह नौकरी आपको अमीर बनाएगी, तब आप ज़रूर उस काम से प्रेम करते होंगे, है ना ? नहीं, यह कोई चालाकी भरा सवाल नहीं है। यह तो हमारी महत्वाकांक्षाओं की प्राथमिकता तय करने के बारे में है। अगर हम सिर्फ़ पैसे की खातिर काम करते हैं, तो इसमें समझदारी लगती है कि हम ज़्यादा से ज़्यादा कमाएँ, जितना हम कमा सकते हैं, जितना हम चाहते हैं।

चित्रा विहार झुग्गी बस्ती में लोगों ने अवैध रूप से दर्जनों दुकानें बना ली थीं। सड़क पर ही मोटरसाइकिल रिपेय¨रग से लेकर कई तरह की दुकानें खोल रखी थीं। निगम दस्ते ने यहां गत 10 जून को कार्रवाई की थी। यहां से काफी सामान भी जब्त किया था। लेकिन निगम दस्ते के जाते ही लोगों ने फिर से दुकान सजानी शुरू कर दी। गत 12 जून को महापौर नीमा भगत ने यहां का दौरा किया तो स्थानीय निगम पार्षद बबीता खन्ना ने उन्हें इस मामले की जानकारी दी। महापौर के निर्देश पर निगम उपायुक्त अतीक अहमद ने सहायक आयुक्त एके ¨सह व प्रशासनिक अधिकारी अंकित श्रीवास्तव के नेतृत्व में विशेष दस्ता बनाया। शनिवार को इंस्पेक्टर ललित शर्मा, देवेंद्र शर्मा, विपिन भाटी व संजय गुप्ता सहित स्वास्थ्य विभाग की टीम ने यहां फिर से कार्रवाई की और बुलडोजर की मदद से अवैध कब्जे को ढहा दिया।
मित्रों जैसा कि आप सब लोग जानते ही होंगे कि विश्व में इस समय करीब २०० देश हैं। संयुक्त राष्ट्र संघ के पिछले वर्ष के एक सर्वेक्षण के अनुसार विश्व में ८६ महा दरिद्र देश हैं और उनमे भारत १७वे स्थान पर आता है। अर्थात ६९ महा दरिद्र देश भारत से ज्यादा अमीर हैं। केवल १६ महा दरिद्र देश विश्व में ऐसे हैं जो भारत के बाद आते हैं। दुनिया का सबसे अमीर देश इसके अनुसार स्वीटजरलैंड है। मित्रों अब प्रश्न यहाँ से उठता है कि स्वीटजरलैंड सबसे अमीर कैसे है? मेरे एक परीचित एवं अग्रज तुल्य देश के एक वैज्ञानिक श्री राजिव दीक्षित से मिली एक जानकारी के अनुसार स्वीटजरलैंड में कुछ भी नहीं होता। कुछ भी का मतलब कुछ भी नहीं। वहां किसी प्रकार का कोई व्यापार नहीं है, कोई खेती नहीं, कोई छोटा मोटा उद्योग भी नहीं है। फिर क्या कारण है कि स्वीटजरलैंड दुनिया का सबसे अमीर देश है?

तो मित्रो इसका उत्तर यहाँ से मिलता है। उस समय अफ्रीका और लैटिन अमरीका तक व्यापार का काम दो देशों चीन और भारत से होता था। आप सब जानते ही होंगे कि अफ्रीका दुनिया का सबसे बड़ा स्वर्ण उत्पादक क्षेत्र रहा है और आज भी है। इसके अलावा अफ्रीका की चिकित्सा पद्धति भी अद्भुत रही है। सबसे ज्यादा स्वर्ण उत्पादन के कारण अफ्रीका भी एक बहुत अमीर देश रहा है। अंग्रेजों द्वारा दी गयी ४५० साल की गुलामी भी इस देश से वह गुण नहीं छीन पायी जो गुण प्रकृति ने अफ्रीका को दिया। अंग्रेजों ने अफ्रीका को न केवल लूटा बल्कि बर्बरता से उसका दोहन किया। भारत और अफ्रीका का करीब ३००० साल से व्यापारिक सम्बन्ध रहा है। भौगोलिक दृष्टि से समुद्र के रास्ते दक्षिण एशिया से अफ्रीका या लैटिन अमरीका जाने के लिये इंग्लैण्ड के पास से निकलना पड़ता था। तब इंग्लैण्ड वासियों की नज़र इन जहाज़ों पर पड़ गयी। और आप जानते होंगे कि इंग्लैण्ड में कूछ नही था, लोगों का काम लूटना और मार के खाना ही था, ऐसे में जब इन्होने देखा कि माल और सोने भरे जहाज़ भारत जा रहे हैं तो इन्होने जहाज़ों को लूटना शुरू किया। किन्तु अब उन्होंने सोचा कि क्यों न भारत जा कर उसे लूटा जाए।।। तब कूछ लोगों ने मिल कर एक संगठन खड़ा किया और वे इंग्लैण्ड के राजा रानी से मिले और उनसे कहा कि हम भारत में व्यापार करना चाहते हैं हमें लाइसेंस की आवश् यकता है। अब राज परिवार ने कहा कि भारत से कमाया गया धन राज परिवार, मंत्रिमंडल, संसद और अधीकारियों में भी बंटेगा। इस समझौते के साथ सन १७५० में थॉमस रो ईस्ट इण्डिया कम्पनी के नाम से जहांगीर के दरबार में पहुंचा और व्यापार करने की आज्ञा मांगी। और तब से १९४७ तक क्या हुआ है वह तो आप भी जानते है।

Blogging का मतलब यह होता है दोस्तों की आपको अपनी खुद की वेबसाइट बनाकर उसपर अलग-अलग तरह की पोस्ट करना होती है, आपको अपनी सारी पोस्ट खुद ही लिख कर डालना होती है, आप किसी भी वेबसाइट का Content अपनी वेबसाइट पर नहीं डाल सकते हो, आप किसी के भी ब्लॉग की पोस्ट अपने ब्लॉग पर नहीं डाल सकते हो आपको अपनी वेबसाइट की जितनी भी पोस्ट है उनको खुद ही तैयार करना होगी, अगर आपने किसी के ब्लॉग को कॉपी करके किसी पोस्ट को डाल दिया तो आपके ब्लॉग पर कभी भी Google AdSense Approve नहीं होगा क्युकी जब आप Google AdSense के लिए Google पर Apply करते हो तब Google का ही वर्कर उस वेबसाइट को देख कर ही उसे AdSense के लिए Approve करता है, यह काम इतना भी आसन नहीं है जितना सुनने मे लगता है लेकिन इतना भी कठिन नहीं है |
Internet से पैसे कमाने के लिए मैं जितने भी ऊपर Website बताई है | वह सब Real Payment करेगीं | अगर fake Website होती तो वह ज्यादा दिन तक नही चलती | और यह सब कई सालो से चलती आ रही है | Fraud Website 1-2 के अन्दर बंद हो जाती है | बाकी आप इन Website के terms पढ़कर उसके बारे में पता लगा सकते है, कि यह site कब से काम कर रही है | By The Way अगर आपको पोस्ट पसंद आये, तो जरुर share करें |
आज के टाइम में average  लोगो के लिए competition बहुत ही ज्यादा है और  आपको competition से उप्पर उठने का एक ही तरीका है। वो भी  Be Obsessed &  be extra –ordinary  अगर आप किसी भी successful इंसान को देखोगे की वो अपने काम को लेकर कितना ज्यादा Obsessed  रहते है।  उनको किसी और काम में ध्यान ही नहीं जाता।  उनका ध्यान सिर्फ और सिर्फ बस एक ही काम में होता है मतलब की वो लोग जिस तरह की focused और dedicated के साथ उस काम को करते है जिस्से देखकर एक normal इंसान को लगेगा की ये इंसान तो सच में पागल है या कोई बीमारी है। लेकिन सच बात तो ये है की obsession कोई बीमारी नहीं बल्कि गिफ्ट है। 
मुझे पूर्ण आशा है की मैंने आप लोगों को Facebook से पैसे कैसे कमाए के बारे में पूरी जानकारी दी और में आशा करता हूँ आप लोगों को Facebook से पैसे कमाने के तरीके के बारे में समझ आ गया होगा. मेरा आप सभी पाठकों से गुजारिस है की आप लोग भी इस जानकारी को अपने आस-पड़ोस, रिश्तेदारों, अपने मित्रों में Share करें, जिससे की हमारे बिच जागरूकता होगी और इससे सबको बहुत लाभ होगा. मुझे आप लोगों की सहयोग की आवश्यकता है जिससे मैं और भी नयी जानकारी आप लोगों तक पहुंचा सकूँ.
क्यूबर न केवल एक तेज रिचार्ज ऐप है बल्कि यह आपको अपने दोस्तों को इसे संदर्भित करके पक्ष में कमाता है। क्यूबर एक समृद्ध समुदाय बन जाता है जो आपको जीवनकाल में रॉयल्टी कमाता है, तब भी जब आप सक्रिय रूप से इसका उपयोग नहीं कर रहे हैं। यह सबसे बड़ा फायदा है और सरल है – ऐप को अपने मित्रों को देखें और कमाएं एक पूर्व निर्धारित नकद बैक दर संरचना के अनुसार, आपके मित्रों द्वारा किए जाने वाले किसी भी लेन-देन के लिए, आपको उस लेन-देन पर नकद वापस राशि मिलती है। यह दर 14 स्तर तक तय की जाती है, अर्थात् 14 वीं स्तर तक रेफरल के लिए, आप क्यूबर वॉलेट पैसे कमा सकते हैं। क्यूबर केवल रिचार्ज, यूटिलिटी बिल और शॉपिंग और कैशबैक सुविधाओं के साथ कैशबैक ऐप को देखें और कमाएं
×