‘ऑनेस्टी इज़ द बेस्ट पोलिसी’ रखनी चाहिए। लेकिन यह वाक्य अब बेअसर हो गया है। इसलिए अब से हमारा नया वाक्य रखना, ‘डिसओनेस्टी इज़ द बेस्ट फूलिशनेस’। वह पहलेवाला पॉज़िटिव वाक्य लिखकर तो लोग घनचक्कर हो गए हैं। ‘बीवेयर ऑफ थीव्ज़’ का बोर्ड लिखा है, फिर भी लोग लुट गए तो फिर बोर्ड किस काम का? फिर भी लोग यह ‘ऑनेस्टी इज़ द बेस्ट पोलिसी’ का बोर्ड लगाते हैं, फिर भी ऑनेस्टी रह नहीं पाती। तो वह बोर्ड किस काम का? अब तो नये शास्त्रों की और नये सूत्रों की ज़रूरत है। इसलिए हम कहते हैं कि, ‘डिसऑनेस्टी इज़ द बेस्ट फूलिशनेस’ का बोर्ड लगाना।

Youtube के बारे में पहले एक Post में आपको बता चुका हूँ | कि Youtube से पैसे कैसे कमाए Video Upload करके | Youtube एक Video Sharing Website है,  जिसके द्वारा आप अपने Video को All World में Share कर सकते है | और Video पर Ads लगाकर पैसे भी कमा सकते है | Youtube पर पैसे कमाने के लिए ये Post पढ़े | Youtube Video को Monetize करके Adsense से पैसे कैसे कमाए ?
पैसे कौन कमाना नहीं चाहता | कम समय में पैसा कमाने के लिए या जल्द अमीर बनने के लिए लोग दिन रात मेहनत करके पैसे कमाते हैं वहीं दूसरी तरफ पैसा कमाने के गलत तरीके अपना कर भी लोग कम समय में पैसे कमाने की चेष्टा रखते हैं | गलत तरीके से पैसा कमाना अच्छी बात बिल्कुल भी नहीं है क्योंकि गलत तरीके से पैसे कमाने की लालच में आप अपना समय, मेहनत और पैसा दोनों ही हो सकते हैं |
तो मित्रों अब मुझे समझ आया कि भारत इतना गरीब कैसे हुआ, किन्तु एक प्रश्न अभी भी सामने है कि स्वीटजरलैंड जैसा देश आज इतना अमीर कैसे है जो आज भी किसी भी प्रकार का कार्य न करने पर भी मज़े कर रहा है। तो मित्रों यहाँ आप जानते होंगे कि स्वीटजरलैंड में स्विस बैंक नामक संस्था है, केवल यही एक काम है जो स्वीटजरलैंड को सबसे अमीर देश बनाए बैठा है। स्विस बैंक एक ऐसा बैंक है जो किसी भी व्यक्ति का कित ना भी पैसा कभी भी किसी भी समय जमा कर लेता है। रात के दो बजे भी यहाँ काम चलता मिलेगा। आपसे पूछा भी नहीं जाएगा कि यह पैसा आपके पास कहाँ से आया? और उसपर आपको एक रुपये का भी ब्याज नहीं मिलेगा। और ये बैंक आपसे पैसा लेकर भारी ब्याज पर लोगों को क़र्ज़ देता है। खाताधारी यदि अपना पैसा निकालने से पहले यदि मर जाए तो उस पैसा का मालिक स्विस बैंक होगा, क्यों कि यहाँ उत्तराधिकार जैसी कोई परम्परा नहीं है। और स्वीटजरलैंड अकेला नहीं है, ऐसे ७० देश और हैं जहाँ काला धन जमा होता है इनमे पनामा और टोबैको जैसे देश हैं।

एजेन्सी । ब्राजिलियन स्टार मार्सेलो भिएइराले कर छलीको आरोप स्वीकार गरेका छन् । उनले कर छलीको आरोप स्वीकार गर्दै चार महिनाको जेल सजाय र जरिवाना तिर्ने भएका स्पेनिस सञ्चारमाध्यमले जनाएका छन् । आफ्नो आय विदेशी फर्मलाई व्यवस्थित गर्न लगाएर ३० वर्षका मार्सेलोले चार लाख ९० हजार युरो कर छली गरेको आरोप स्पेनिस अधिकारीले लगाएका थिए । मार्सेलोले ७ लाख ५० हजार युरो जरिवाना तिर्नु पर्ने भएको छ ।

क्यूबर आपको ऑनलाइन शॉपिंग पर कैशबैक का उल्लेख करने और अर्जित करने देता है जो आप करते हैं। आपको बस उस वेबसाइट का चयन करना है, जिसके माध्यम से आप क्यूबर आवेदन से खरीदारी करना चाहते हैं और आपको उस वेबसाइट पर पुनर्निर्देशित किया जाएगा या एक आवेदन जहां आप अपनी पसंद के उत्पाद खरीद सकते हैं। उसी के लिए कैशबैक जल्द ही आपके क्यूबर वॉलेट में जमा कर दिया जाएगा।
×