10 क्योंकि जो कोई मूसा के सारे कानून का पालन करता है, मगर सिर्फ एक ही आज्ञा को तोड़ता है, तो वह सारे कानून को तोड़ने का कसूरवार ठहरता है। 11 क्योंकि जिस परमेश्‍वर ने यह कहा: “तू शादी के बाहर यौन-संबंध न रखना,” उसी ने यह भी कहा: “तू खून न करना।” इसलिए अगर तू ने शादी के बाहर यौन-संबंध नहीं रखे, मगर तू ने खून किया, तो तू कानून को तोड़ने का गुनहगार ठहरा। 12 तुम उन लोगों की तरह बोलो और उन लोगों की तरह काम करते रहो, जिनका न्याय आज़ाद लोगों के कानून के मुताबिक होनेवाला है। 13 क्योंकि जो दया नहीं दिखाता उसका न्याय भी बिना दया दिखाए किया जाएगा। दया, दंड पर जीत हासिल करती है।
ऑनलाइन कारोबार दिन-ब-दिन बढ़ती हैं और प्रत्येक कंपनी अपने अपने ऑनलाइन बाजार विकसित करने के लिए वेबसाइट की जरूरत है. सॉफ्टवेयर विकास वेब विकास और डिजाइन जैसे महान मांग में हैं. प्रत्येक कंपनी अपने व्यापार के ऑनलाइन विकसित करने के लिए अपनी वेबसाइट की जरूरत है. आप जैसे विभिन्न साइटों से वेब डिजाइन परियोजनाओं प्राप्त कर सकते हैं Fiver, फ्रीलांसर, गुरु आदि. या आप अपनी खुद की वेबसाइट बनाने के द्वारा अपनी सेवा प्रदान कर सकते हैं.
अगर आप crorepati बनना चाहते है तोह आपको अपने लक्ष्य से प्यार होना बहुत ही जरुरी है,अगर आप अपनी गर्लफ्रेंड के साथ लम्बे समय तक रिलेशन में रहते है तोह ये पक्का है की आपको उससे बिछुड़ने पर बहुत ज्यादा दुःख होगा,अगर 2 मिनिट का relation है तोह उसको आप 2 मिनिट में ही भूल जाओगे,अगर 2 दिन का relation है तोह आप लगभग 2 दिन में ही भूल सकते है लेकिन अगर काफी समय का relation है तोह उसको भूलना बहुत मुश्किल होता है,आप जिस तरह से अपनी गर्लफ्रेंड से प्यार करते हो उसी तरह से आप अपने लक्ष्य से प्यार कर लीजिये,
मित्रों भारत को विश्व में सोने की चिड़िया कहा गया किन्तु एक बात सोचने वाली है कि यहाँ तो कोई सोने की खाने नहीं हैं फिर यहाँ विश्व का सबसे बड़ा सोने का भण्डार बना कैसे? यहाँ प्रश्न जरूर पैदा होते हैं किन्तु एक उत्तर यह मिलता है कि हम हमेशा से गरीब नहीं थे। अब जब भारत में सोना नहीं होता तो साफ़ है कि भारत में सोना आया विदेशों से। किन्तु हमने तो कभी किसी देश को नहीं लूटा। इतिहास में ऐसा कोई भी साक्ष्य नहीं है जिससे भारत पर ऐसा आरोप लगाया जा सके कि भारत ने अमुक देश को लूटा, भारत ने अमुक देश को गुलाम बनाया, न ही भारत ने आज कि तरह किसी देश से कोई क़र्ज़ लिया फिर यह सोना आया कहाँ से? तो यहाँ जानकारी लेने पर आपको कूछ ऐसे सबूत मिलेंगे जिससे पता चलता है कि कालान्तर में भारत का निर्यात विश्व का ३३% था। अर्थात विश्व भर में होने वाले कुल निर्यात का ३३% निर्यात भारत से होता था। हम ३५०० वर्षों तक दुनिया में कपडा निर्यात करते रहे क्यों की भारत में उत्तम कोटी का कपास पैदा होता था। तो दुनिता को सबसे पहले कपडा पहनाने वाला देश भारत ही रहा है। कपडे के बाद खान पान की अनेक वस्तुएं भारत दुनिया में निर्यात करता था क्यों कि खेती का सबसे पहले जन्म भारत में ही हुआ है। खान पान के बाद भारत में करीब ९० अलग अलग प्रकार के खनीज भारत भूमी से निकलते है जिनमे लोहा, ताम्बा, अभ्रक, जस्ता, बौक् साईट, एल्यूमीनियम और न जाने क्या क्या होता था। भारत में सबसे पहले इस्पात बनाया और इतना उत्तम कोटी का बनाया कि उससे बने जहाज सैकड़ों वर्षों तक पानी पर तैरते रहते किन्तु जंग नहीं खाते थे। क्यों की भारत में पैदा होने वाला लौह अयस्क इतनी उत्तम कोटी का था कि उससे उत्तम कोटी का इस्पात बनाया गया। लोहे को गलाने के लिये भट्टी लगानी पड़ती है और करीब १५०० डिग्री ताप की जरूरत पड़ती है और उस समय केवल लकड़ी ही एक मात्र माध्यम थी जिसे जलाया जा सके। और लकड़ी अधिकतम ७०० डिग्री ताप दे सकती है फिर हम १५०० डिग्री तापमान कहा से लाते थे वो भी बिना बिजली के? तो पता चलता है कि भारत वासी उस समय कूछ विशिष्ट रसायनों का उपयोग करते थे अर्थात रसायन शास्त्र की खोज भी भारत ने ही की। खनीज के बाद चिकत्सा के क्षेत्र में भी भारत का ही सिक्का चलता था क्यों कि भारत की औषधियां पूरी दुनिया खाती थी। और इन सब वस्तुओं के बदले अफ्रीका जैसे स्वर्ण उत्पादक देश भारत को सोना देते थे। तराजू के एक पलड़े में सोना होता था और दूसरे में कपडा। इस प्रकार भारत में सोने का भण्डार बना। एक ऐसा देश जहाँ गाँव गाँव में दैनिक जीवन की लगभग सभी वस्तुएं लोगों को अपने ही आस पास मिल जाती थी केवल एक नमक के लिये उन्हें भारत के बंदरगाहों की तरफ जाना पड़ता था क्यों कि नमक केवल समुद्र से ही पैदा होता है। तो विश्व का एक इ तना स्वावलंबी देश भारत रहा है और हज़ारों वर्षों से रहा है और आज भी भारत की प्रकृती इतनी ही दयालु है, इतनी ही अमीर है और अब तो भारत में राजस्थान में बाड़मेर, जैसलमेर, बीकानेर में पेट्रोलियम भी मिल गया है तो आज भारत गरीब क्यों है और प्रकृति की कोई दया नहीं होने के बाद यूरोप इतना अमीर क्यों?
उदाहरण के तौर पर एक व्यक्ति ने मेहनत कर एक किताब लिखी उस पर कुछ रूपये लगा दिए और उसे पब्लिश करवा दीया साथ में अपनी रोयाल्टी भी ले ली अब क्या हुआ की वही किताब लोगों को पसंद आ गयी लोगों ने उसे इतना पसंद किया की वही किताब बेहिसाब बिकने लगी और साथ में फायदा ये हुआ की उसी किताब की कॉपी नहीं बनवाइ जा सकती थी क्योंकि किताब के मालिक ने किताब पर अपनी रोयाल्टी ले ली थी.
मित्रों भारत को विश्व में सोने की चिड़िया कहा गया किन्तु एक बात सोचने वाली है कि यहाँ तो कोई सोने की खाने नहीं हैं फिर यहाँ विश्व का सबसे बड़ा सोने का भण्डार बना कैसे? यहाँ प्रश्न जरूर पैदा होते हैं किन्तु एक उत्तर यह मिलता है कि हम हमेशा से गरीब नहीं थे। अब जब भारत में सोना नहीं होता तो साफ़ है कि भारत में सोना आया विदेशों से। किन्तु हमने तो कभी किसी देश को नहीं लूटा। इतिहास में ऐसा कोई भी साक्ष्य नहीं है जिससे भारत पर ऐसा आरोप लगाया जा सके कि भारत ने अमुक देश को लूटा, भारत ने अमुक देश को गुलाम बनाया, न ही भारत ने आज कि तरह किसी देश से कोई क़र्ज़ लिया फिर यह सोना आया कहाँ से? तो यहाँ जानकारी लेने पर आपको कूछ ऐसे सबूत मिलेंगे जिससे पता चलता है कि कालान्तर में भारत का निर्यात विश्व का ३३% था। अर्थात विश्व भर में होने वाले कुल निर्यात का ३३% निर्यात भारत से होता था। हम ३५०० वर्षों तक दुनिया में कपडा निर्यात करते रहे क्यों की भारत में उत्तम कोटी का कपास पैदा होता था। तो दुनिता को सबसे पहले कपडा पहनाने वाला देश भारत ही रहा है। कपडे के बाद खान पान की अनेक वस्तुएं भारत दुनिया में निर्यात करता था क्यों कि खेती का सबसे पहले जन्म भारत में ही हुआ है। खान पान के बाद भारत में करीब ९० अलग अलग प्रकार के खनीज भारत भूमी से निकलते है जिनमे लोहा, ताम्बा, अभ्रक, जस्ता, बौक् साईट, एल्यूमीनियम और न जाने क्या क्या होता था। भारत में सबसे पहले इस्पात बनाया और इतना उत्तम कोटी का बनाया कि उससे बने जहाज सैकड़ों वर्षों तक पानी पर तैरते रहते किन्तु जंग नहीं खाते थे। क्यों की भारत में पैदा होने वाला लौह अयस्क इतनी उत्तम कोटी का था कि उससे उत्तम कोटी का इस्पात बनाया गया। लोहे को गलाने के लिये भट्टी लगानी पड़ती है और करीब १५०० डिग्री ताप की जरूरत पड़ती है और उस समय केवल लकड़ी ही एक मात्र माध्यम थी जिसे जलाया जा सके। और लकड़ी अधिकतम ७०० डिग्री ताप दे सकती है फिर हम १५०० डिग्री तापमान कहा से लाते थे वो भी बिना बिजली के? तो पता चलता है कि भारत वासी उस समय कूछ विशिष्ट रसायनों का उपयोग करते थे अर्थात रसायन शास्त्र की खोज भी भारत ने ही की। खनीज के बाद चिकत्सा के क्षेत्र में भी भारत का ही सिक्का चलता था क्यों कि भारत की औषधियां पूरी दुनिया खाती थी। और इन सब वस्तुओं के बदले अफ्रीका जैसे स्वर्ण उत्पादक देश भारत को सोना देते थे। तराजू के एक पलड़े में सोना होता था और दूसरे में कपडा। इस प्रकार भारत में सोने का भण्डार बना। एक ऐसा देश जहाँ गाँव गाँव में दैनिक जीवन की लगभग सभी वस्तुएं लोगों को अपने ही आस पास मिल जाती थी केवल एक नमक के लिये उन्हें भारत के बंदरगाहों की तरफ जाना पड़ता था क्यों कि नमक केवल समुद्र से ही पैदा होता है। तो विश्व का एक इ तना स्वावलंबी देश भारत रहा है और हज़ारों वर्षों से रहा है और आज भी भारत की प्रकृती इतनी ही दयालु है, इतनी ही अमीर है और अब तो भारत में राजस्थान में बाड़मेर, जैसलमेर, बीकानेर में पेट्रोलियम भी मिल गया है तो आज भारत गरीब क्यों है और प्रकृति की कोई दया नहीं होने के बाद यूरोप इतना अमीर क्यों?
फोटो स्टॉक रखने वाली वेबसाइट भी आपके ऑनलाइन कमाई का जरिया बन सकती है। दुनिया भर में www.shutterstock.com ,www.shutterpoint.com और www. istockphoto.com जैसी कई वेबसाइट फोटो खरीदकर उसका भुगतान करती हैं। इन कंपनियों से टाइअप करके आप मंथली बेसिस पर कमाई कर सकते हैं। कंपनियां प्रोजेक्ट के तौर पर भी आपको असाइनमेंट देती हैं। मेंबर को फोटो वेबसाइट पर सब्मिट करना होता है। इसके बाद साइट की पॉलिसी के अनुसार आपको 15 से 85 फीसदी तक रॉयल्टी मिलती है। इसमें लाखों रुपए तक की कमाई संभव है।
सुन तस्करीका घटना पछिल्लो समय वृद्धि हुँदै गएका छन् । यसमाथि सरकारले अनुसन्धान बढाउँदै लगेपछि नयाँ–नयाँ रहस्यहरु सतहमा आएका छन् । बढ्दो सुन तस्करीलाई आज कान्तिपुर दैनिक र नयाँ पत्रिकाले केलाएका छन् । ‘सुन तस्करीको लहरो’ शीर्षकको मूल समाचारमा कान्तिपुरले लेखेको छ– उच्च प्रहरी अधिकारीसहित २० जनालाई पक्राउ गरी अनुसन्धान गरिरहेको विशेष समितिले घटना खोतल्दै जाँदा संगठित जालो क्रमशः खुल्दै गइरहेको छ ।’
अमीर लोग 50 फीसदी पैसे बचाते हैं. बाकी 50 फीसदी वहां निवेश कर रहे हैं जहां आपको अच्छे रिटर्न मिले. “क्या आपको पता है यदि आप निवेश साधन में तीस साल के लिए 800 रुपये प्रति माह मासिक नेटफ्लिक्स चार्ज को बचाते हैं और निवेश करते हैं जो सालाना 15 प्रतिशत देता है, तो आप 55 लाख रुपये जमा कर सकते हैं? यह बुद्धिमानी से निवेश करने का तरीका है. यदि आपकी आयु 30 वर्ष से कम हैं, तो इक्विटी/स्टॉक-लिंक्ड उत्पादों में अपनी बचत का एक बड़ा हिस्सा निवेश करें. ऋण केवल आपकी बचत का एक छोटा सा हिस्सा होना चाहिए.  म्यूचुअल फंड के माध्यम से, आप अपनी बचत को विभिन्न प्रकार के फंडों में फैला सकते हैं. सोने के लिए 5 फीसदी एक्सपोजर लें. 5 से 10 साल की अवधि के साथ रियल एस्टेट में निवेश न करें, और बेहतर विकल्प हैं, रेगो कहते हैं.
9 जो भाई गरीब है वह अपने ऊँचे किए जाने पर खुशी मनाए, 10 और जो अमीर है वह अपने दीन किए जाने पर खुशी मनाए, क्योंकि वह ऐसे मिट जाएगा जैसे मैदान में उगनेवाला फूल। 11 जैसे सूरज के चढ़ने पर उसकी तपती धूप से घास-पत्ते मुरझा जाते हैं और उनका फूल सूखकर गिर जाता है और उसकी खूबसूरती मिट जाती है, ठीक वैसे ही एक अमीर आदमी भी अपनी ज़िंदगी की भाग-दौड़ में मिट जाएगा।
वैसे तो आपको इन्टरनेट पे हजारो वेबसाइट मिल जायेंगे जहा पे आप फ्रीलान्स कंटेंट राइटर बन सकते है जैसे की कंटेंट मार्ट (ContentMart) और ट्रूलांसर (Truelancer) इत्यादि वेबसाइट है जहा पर आप एक कंटेंट राइटर की तरह काम कर सकते है आप किसी भी टॉपिक पर कंटेंट लिख सकते है इसके आप इन्टरनेट का भी सहारा ले सकते रिसर्च कर सकते है और जितना लम्बा कंटेंट लिखेंगे आपको उसी हिसाब से पैसे मिलेंगे तो ये भी एक तरीका है ऑनलाइन इंटरनेट से पैसे कमाने का.

Book print ads| Online shopping | Matrimonial | Astrology | Jobs | Tech Community | Property | Buy car | Bikes in India | Free Classifieds | Send money to India | Used Cars | Restaurants in Delhi | Remit to India | Buy Mobiles | Listen Songs | News | TimesMobile | Real Estate Developers | Restaurant Deals in Delhi | Car Insurance | Gadgets Now | Free Business Listings | CouponDunia | Remit2India | Techradar | AliveAR | Getsmartapp App | ETMoney Finance App | Feedback | Auto
Ad-Sense Approve होने के बाद आप उसका Ads Code अपने Blog पर लगाकर पैसे कमा सकते है | जैसाकि आप देख सकते है की मेरे Blog पर भी Adds लगे हुए है | एक बात साफ है कि Ad-Sense Approve करना बहुत ही कठिनाई का काम है, इसमें जरा सी गलती की वजह से Ad-Sense Account Approve नहीं हो पाता है | तो Friends इसके लिए आप BidVertiser का Use कर सकते है | BidVertiser में Ad-Sense से थोड़े कम पैसे मिलते है | लेकिन कुछ भी ना मिले उससे तो अच्छा ही है |
उदाहरण के तौर पर एक व्यक्ति ने मेहनत कर एक किताब लिखी उस पर कुछ रूपये लगा दिए और उसे पब्लिश करवा दीया साथ में अपनी रोयाल्टी भी ले ली अब क्या हुआ की वही किताब लोगों को पसंद आ गयी लोगों ने उसे इतना पसंद किया की वही किताब बेहिसाब बिकने लगी और साथ में फायदा ये हुआ की उसी किताब की कॉपी नहीं बनवाइ जा सकती थी क्योंकि किताब के मालिक ने किताब पर अपनी रोयाल्टी ले ली थी.
5 उसी तरह, जीभ भी हमारे शरीर का एक छोटा-सा अंग है फिर भी यह बड़ी-बड़ी डींगें मारती है। देखो! पूरे जंगल में आग लगाने के लिए बस एक छोटी-सी चिंगारी काफी होती है। 6 जीभ भी एक आग है। यह हमारे शरीर के अंगों में बुराई की एक दुनिया है, क्योंकि यह पूरे शरीर को कलंकित कर देती है और इंसान की पूरी ज़िंदगी में* आग लगा देती है और यह गेहन्‍ना* की आग की तरह भस्म कर देती है। 7 हर तरह के जंगली जानवर, पक्षी, रेंगनेवाले जीव-जंतु और समुद्री जीवों को तो पालतू बनाया जा सकता है और इंसान ने उन्हें काबू में कर पालतू बनाया भी है, 8 मगर जीभ को कोई भी इंसान काबू में नहीं कर सकता। यह ऐसी खतरनाक और बेकाबू चीज़ है जो जानलेवा ज़हर से भरी है। 9 इसी से हम अपने पिता यहोवा का गुणगान करते हैं, और इसी से इंसानों को बद्‌-दुआ देते हैं जिन्हें “परमेश्‍वर की छवि में” बनाया गया है। 10 एक ही मुँह से गुणगान और बद्‌-दुआ दोनों निकलते हैं।
22 लेकिन वचन पर चलनेवाले बनो,+ न कि सिर्फ सुननेवाले जो झूठी दलीलों से खुद को धोखा देते हैं। 23 क्योंकि जो कोई वचन को सुनता है मगर उस पर चलता नहीं,+ वह उस इंसान के जैसा है जो आईने में अपना* चेहरा देखता है। 24 वह अपनी सूरत देखता है और चला जाता है और फौरन भूल जाता है कि वह किस तरह का इंसान है। 25 मगर जो इंसान आज़ादी दिलानेवाले खरे कानून को करीब से जाँचता* है+ और उसमें लगा रहता है, ऐसा इंसान सुनकर भूलता नहीं मगर उस पर चलता है और इससे वह खुशी पाता है।+
एक बार register करने के बाद आप अपने skill को Fiverr में sell कर सकते है. जिसकी कीमत $5 से start होता है. हर एक sell को एक Gig कहा जाता है. जब कोई user आपका gig user आपका gig खरीदता है, तो उसके बदले आपको $5 मिलते है. पर Fiverr हर sell का 20% खुद रखके बाकी आपको दे देता है. Fiverr पे काम करना बहुत ही आसान होता है और मैंने खुद भी काम किया है. अगर आपका भी ऐसा कोई talent है तो आप आज ही यहाँ register करिए.
मित्रों आज़ादी के बाद भारत में भ्रष्टाचार तो इतना बढ़ा कि मधु कौड़ा जैसे मुख्यमंत्री ने झारखंड का मुख्यमंत्री बनकर केवल दो साल में ५६०० करोड़ की संपत्ति स्विस बैंक में जमा करवा दी। जब मधु कौड़ा जैसा मुख्यमंत्री केवल दो साल में ५६०० करोड़ रुपये भारत के एक गरीब राज्य से लूट सकता है तो ६३ सालों से सत्ता में बैठे काले अंग्रेजों ने इस अमीर देश से कितना लूटा होगा? ऐसे ही थोड़े ही राजीव गांधी ने कहा था कि जब मै एक रूपया देश की जनता को देता हूँ तो जनता तक केवल १५ पैसे पहुँचते हैं। कूछ समय पहले उत्तर प्रदेश के एक आईएएस अधिकारी अखंड प्रताप सिंह के घर जब इन्कम टैक्स का छापा पड़ा तो उनके घर से ४८० करोड़ रुपये मिले। पूछताछ में अखंड प्रताप सिंह ने बताया कि ऐसे मेरे १९ घर और हैं। और इस प्रकार से ये पैसा पहुंचता है स्विस बैंक।
लक्जरी कार या महंगे मोबाइल जो नए-नए बाजार में आए हैं, को खरीदने से पहले खुद से कभी पूछा है कि, क्या तुम्हें वाकई इसकी जरुरत है या फिर तुम्हारे नजदीकी पड़ोसी या दोस्त ने ख़रीदा है इसलिए? तथ्य यह है कि, यहां तक कि सबसे बुद्धिमान लोग अपने पैसे के साथ बेवकूफाना हरकतें करते हैं- चाहे वह लापरवाह खर्च या समय के साथ जुड़ने वाले छोटे-छोटे खर्च हों. और जब वे चिंता करते रहते हैं कि उनके पैसे वास्तव में कहां जाते हैं, तो इन खर्चों के कारण उनके कड़ी मेहनत वाले पैसे खर्च हो चुके होते हैं.
धनबाद, झरिया, गोविंदपुर में प्रदीप देवरालिया, कृष्ण गोपाल अग्रवाल, ओम प्रकाश डोकानिया, अतुल डोकानिया, अमित डोकानिया, रोहित शर्मा, योगेंद्र सिंह, अरुण कुमार सिंह, दो सीए सुमित कुमार सुल्तानियां (एस के सुल्तानिया एंड कंपनीज) तथा श्याम सुंदर साह शामिल हैं। दोनों चार्टर्ड एकाउंटेंट की भूमिका की टीम गंभीरता से जांच कर रही है। बताया गया कि पेपर कंपनियों के माध्यम से काले धन को सफेद करने से संबंधित कई दस्तावेज सीए के ठिकानों से मिले हैं। 50 से अधिक कंपनियों के दस्तावेज मिले हैं। देवरालिया एवं डोकानिया परिवार में कारोबारी साझेदारी के अलावा रिश्तेदारी भी है।  

अफ़ग़ानिस्तान | अफ्रीका | अल्बानिया | एलजीरिया | अंडोरा | अंगोला | अंतिगुया और बार्बूडा | अरब | अर्जेंटीना | आर्मीनिया | ऑस्ट्रेलिया | ऑस्ट्रिया | आज़रबाइजान | बहामा | बहरीन | बांग्लादेश | बारबाडोस | बेलोरूस | बेल्जियम | बेलीज | बेनिन | भूटान | बोलीविया | बोस्निया और हर्जेगोविना | बोत्सवाना | ब्राज़िल | बुल्गारिया | बुर्किना फासो | बुस्र्न्दी | कंबोडिया | कैमरून | कनाडा | केप वर्दे | काग़ज़ का टुकड़ा | चिली | चीन | कोलम्बिया | कोमोरोस | कांगो | कोस्टा रिका | क्रोएशिया | क्यूबा | साइप्रस | चेक | चेक गणतंत्र | दारेस्सलाम | डेनमार्क | जिबूती | डोमिनिकन | डोमिनिकन गणराज्य | पूर्वी तिमोर | इक्वेडोर | मिस्र | अल साल्वाडोर | इरिट्रिया | एस्तोनिया | इथियोपिया | फ़िजी | फिनलैंड | फ्रांस | गैबॉन | गाम्बिया | जॉर्जिया | जर्मनी | घाना | ग्रेट ब्रिटेन | ग्रेट ब्रिटेन(यूके) | यूनान | ग्रेनाडा | ग्वाटेमाला | गिन्नी | गिनी-बिसाऊ | गुयाना | हैती | होंडुरस | हांगकांग | हंगरी | आइसलैंड | इंडिया | इंडोनेशिया | ईरान | इराक | आयरलैंड | इज़राइल | इटली | आइवरी कोस्ट | जमैका | जापान | जॉर्डन | कज़ाकस्तान | केन्या | किरिबाती | कोसोवो | कुवैत | किरगिज़स्तान | लाओस | लाटविया | लेबनान | लेसोथो | लाइबेरिया | लीबिया | लिचेंस्टीन | लिथुआनिया | लक्ज़म्बर्ग | मकाओ | मैसेडोनिया | मेडागास्कर | मलावी | मलेशिया | मालदीव | माली | माल्टा | मार्शल | मार्टीनिक | मॉरिटानिया | मॉरीशस | मेक्सिको | माइक्रोनेशिया | मोल्दोवा | मोनाको | मंगोलिया | मोंटेनेग्रो | मोरक्को | मोजाम्बिक | म्यांमार | नामीबिया | नाउरू | नेपाल | नीदरलैंड | Neves Augusto नेविस | न्यूज़ीलैंड | निकारागुआ | नाइजर | नाइजीरिया | उत्तरी कोरिया | उत्तरी आयरलैंड | उत्तरी आयरलैंड(यूके) | नॉर्वे | ओमान | पाकिस्तान | पलाऊ | फिलीस्तीनी क्षेत्र | पनामा | पापुआ न्यू गिनी | पैराग्वे | पेरू | फिलीपींस | पोलैंड | पुर्तगाल | पर्टो रिको | कतर | रीयूनियन | रोमानिया | रूस | रवांडा | सेंट लूसिया | समोआ | सैन मैरिनो | साओ टोम और प्रिंसिपे | सऊदी अरब | सेनेगल | सर्बिया | सेशल्स | सिएरा लियोन | सिंगापुर | स्लोवाकिया | स्लोवेनिया | सोलोमन | सोमालिया | दक्षिण अफ़्रीका | दक्षिण कोरिया | स्पेन | श्री लंका | सूडान | सूरीनाम | स्वाज़ीलैंड | स्वीडन | स्विट्ज़रलैंड | सीरियाई अरब | ताइवान | ताजिकिस्तान | तंज़ानिया | थाईलैंड | टोगो | टोंगा | त्रिनिदाद और टोबैगो | ट्यूनीशिया | तुर्कस्तान | तुर्कमेनिस्तान | तुवालु | संयुक्त राज्य अमेरिका | युगांडा | यूके | यूक्रेन | संयुक्त अरब अमीरात | युनाइटेड किंगडम | संयुक्त राज्य | संयुक्त राज्य(संयुक्त राज्य अमेरिका) | उरुग्वे | उज़्बेकिस्तान | वानुअतु | वेटिकन | वेनेजुएला | वेनेजुएला के बोलिवर | वियतनाम | विंसेंट | यमन | जाम्बिया | जिम्बाब्वे | GDI | ग्लोबल डोमेन इंटरनेशनल, इंक. | GDI पंजीकरण भाषा मैनुअल - GDI खाता सेटअप भाषा गाइड | Freedom.WS | WEBSITE.WS | .WS डोमेन | .WS डोमेन संबद्ध | डॉट WS बुलबुला | डॉट कॉम बुलबुला | डॉट WS उछाल | डॉट कॉम बूम | जीवन के लिए आय | GDI पृथ्वी वेबसाइट | ग्लोबल पृथ्वी वेबसाइट | नेटवर्किंग लेख वेबसाइट |
बहुत-से लोग तो यह तक दावा करते हैं कि सफलता की सीढ़ी चढ़ने के लिए बेईमानी करना ज़रूरी है। एक अनुभवी बिज़नेसमैन कहता है: “लोग एक-दूसरे से आगे निकलना चाहते हैं इसलिए कहते हैं, ‘काम पूरा करने के लिए मैं कुछ भी करने को तैयार हूँ, किसी भी हद तक जाने को तैयार हूँ।’” लेकिन क्या यह सोच सही है? या फिर जो बेईमानी को जायज़ ठहराते हैं, वे ‘झूठी दलीलों से खुद को धोखा दे रहे हैं’? (याकूब 1:22) आइए देखें कि ईमानदारी दिखाने के क्या फायदे होते हैं। (g12-E 01)
दोस्तों हमने आज आपको हमारी इस पोस्ट मे बताया की Google se Paise Kaise Kamaye हमने हमारी इस पोस्ट को आसान से आसान भाषा मे लिखने की कोशिस की है, अगर आपको हमारी पोस्ट पसंद आई हो कृपया करके इस पोस्ट को ज्यादा से ज्यादा शेयर कीजिये, आप हमारी वेबसाइट पर बेल आइकॉन को प्रेस करके हमारी हर एक नयी आने वाली पोस्ट से जुड़े रह सकते है, हमने आपको हमारी पिछली पोस्ट मे यह भी बताया था Whatsapp se Paise Kaise Kamaye और यह भी बताया था की Whatsapp Kaise Download Kare
पछिल्लो समय आर्थिक गतिविधिमा आएको सुधारका कारण रोजगारी, उत्पादन तथा उत्पादकत्व बढ्दा प्रतिव्यक्ति आयमा सुधार आएको पूर्व अर्थसचिव डा. शान्तराज सुवेदीले बताए । ‘नेपालीको औसत आय बढ्नुमा पुनर्निर्माण, ठूला तथा राष्ट्रिय गौरवका आयोजनाका निर्माणले लिएको गति, सरकारी खर्चमा भएको बढोत्तरीले नेपालको कुल गार्हस्थ उत्पादन बढ्न जाँदा त्यसको प्रभाव प्रतिव्यक्ति आयमा देखियो’, पूर्व अर्थसचिव डा. सुवेदीले अन्नपूर्णसँग भनेका छन्, ‘पछिल्लो समय विद्युत् आपूर्ति बढ्न जाँदा उद्योग क्षेत्रको उत्पादन बढ्नुका साथै निर्माणमा प्रगति हुँदै गएको छ ।’

१३ वैशाख, काठमाडौं । आज बिहीबार, राजधानीबाट प्रकाशित राष्ट्रिय दैनिक पत्रिकाहरुको पहिलो प्राथमिकतामा आर्थिक विषय परेको छ । तथ्यांक विभागले सार्वजनिक गरेको आर्थिक तथ्यांकलाई आधार बनाउँदै देशको अर्थतन्त्रको समीक्षा गरेका छन् । पत्रपत्रिकाका अनुसार, प्रतिव्यक्ति आय १ लाख नाघेको छ । मुलुकको कुल ग्रार्हस्थ उत्पादन ३० खर्ब रुपैयाँमाथि पुगेपछि प्रतिव्यक्ति आम्दानी पनि त्यसैअनुसार बढेको हो ।
यहाँ पे skill(कला) का मतलब है Internet based skill, जैसे SEO, SMO, Coding, Web Designing, Link Building, Logo designing, etc. दिन ब दिन Internet merketing बढ़ रहा है. तो लोग अपना online business को बढ़ाने केलिए experts को ढून्दते है, जो पैसे के बदले उनका काम करदे. क्यूंकि वो अगर वोही काम करेंगे तो उनको बहुत time लग सकता है. अगर आप भी ऐसे किसी online काम में माहिर है तो आप भी घर बैठे पैसे कमा सकते हैं. अपनी skill के जरिये money कमाने का सबसे बेहतर platform है Fiverr. और भी बहुत सारे websites है, पर ये सबसे popular है.
साथ ही जानिये कि किस तरह निवेश को डाइवर्सिफाई करके निवेश के रिस्क को कम किया जा सकता है. निवेश के लिए कंपनी कैसे चुन सकते हैं. किस तरीके से निवेश को डाइवर्सिफाई कर सकते हैं. लार्ज कैप, मिड कैप और स्माल कैप कम्पनियों में निवेश का क्या नजरिया होना चाहिए. हेजिंग क्या है और इससे शेयर बाजार में निवेश के रिस्क को कैसे कम किया जाता है. फ्यूचर और ऑप्शन्स क्या हैं यह भी समझने की कोशिश करेंगे.
गुरुवार को प्रेसवार्ता के दौरान जानकारी देते हुए एसपी डॉ सत्यप्रकाश ने बताया कि बुधवार की सुबह बारुण ओवरब्रिज के समीप डेहरी के व्यवसायी संजीत कुमार जायसवाल की स्कार्पियो लूटने के उद्देश्य से गोली मारकर हत्या कर दी थी. पूछताछ के क्रम में बताया है कि इस घटना में श्रवण पासवान व अमित सिंह भी शामिल थे. स्कार्पियो को लूट कर रांची में ले जाना था और वहां पर किसी बड़े आदमी का अपहरण कर फिरौती की वसूली करनी थी.
उत्पादों की बिक्री पिछले एक सरल और आसान ऑनलाइन व्यापार विचार है. आप अपने उत्पादों के साथ ही अन्य लोगों को बेच सकते हैं. बस आप थोक विक्रेताओं के साथ अच्छा कनेक्शन की आवश्यकता है. आप सस्ती कीमत के साथ बहुत में खरीदने के लिए और ईबे की तरह अलग अलग साइटों पर बेच सकते हैं, वीरांगना, एक उच्च मूल्य के साथ स्नैपडील. आप इस के लिए अपनी खुद की वेबसाइट की जरूरत नहीं. इस तरह, आप अंतरराष्ट्रीय बाजार में उत्पादों को बेचने और दुनिया भर के ग्राहकों के साथ संबंध बना सकते हैं.
क्या आपको पता है की Youtube से पैसे कैसे कमाए? यदि हाँ तो शायद आपने YouTube के बारे में पहले से ही जानकरी होगी जो की अच्छी बात है लेकिन यदि नहीं तो चिंता करने की कोई आत नहीं क्यूंकि आज में आप लोगों को Youtube से पैसे कैसे कमाए के बारे में पूरी जानकारी देने वाला हूँ जिससे की आपके मन में मेह्जुद सारी संकाएँ दूर हो सकेंगी और आप भी दुसरे Youtubers की तरह इससे अच्छा खासा पैसे कम सकेंगे.
यह काला धन कैसा कहलाता है, वह समझाऊँ। यदि बाढ़ का पानी अपने घर में घुस जाए तो अपने को खुशी होती है कि घर बैठे पानी आया। तो जब वह बाढ़ का पानी उतरेगा तब पानी तो चला जाएगा, और फिर जो कीचड़ रहेगा, उस कीचड़ को धोकर निकालते-निकालते तेरा दम निकल जाएगा। यह कालाधन बाढ़ के पानी की तरह है, वह रोम-रोम में काटकर जाएगा। इसलिए मुझे सेठों से कहना पड़ा कि, ‘सावधानी से चलना।’
Facebook से पैसे कैसे कमाए? Facebook क्या है ये तो शायद सभी Internet users को पता ही है. पर क्या आपको Facebook से पैसे कमाने का तरीका के बारे मैं पता है? जी हाँ आपने बिलकुल सही सुना की Facebook से बिलकुल पैसे कमाया जा सकता है. ये बात सुनकर बहुतों को आश्चर्य हो रहा होगा पर यकीन मानिये मैं झुठ नहीं बोल रहा हूँ. आज हम इसी के बारे में पूरी तरह से जानेंगे की आखिर कैसे हम Facebook से पैसे कमा सकते हैं.
अगर आपके पैसे है तो दस लोग आपके साथ रहेंगे अगर आपके पास पैसे नहीं है तो मुस्किल है कि कोई आपका साथ दे इसलिए आपके पास पैसा होना बहुत जरुरी है अब बात आती है पैसे कमाने की तो इन्टरनेट से online paise kaise kamaye. जिन लोगो की जॉब होती है तो उन्हें कोई पैसो की दिक्कत नहीं होती है लेकिन लोग पढ़े लिखे होने के बावजूद जॉब नहीं मिल पा रही है तो उनके लिए इन्टरनेट एक बेहतरीन ऑप्शन है जहां आपका कोई बॉस नहीं होता आप अपनी मर्जी के मालिक होते है.
हेलो दोस्तों हर किसी के मन में एक यही सवाल चलता रहता है क्या अमीर कैसे बने हां तो दोस्तों आज मैं आपको बताऊंगा अमीर बनने के कुछ ऐसे तरीके जो फिर आप किसी से नहीं बोलोगे क्या अमीर कैसे बने अगर दोस्तों मेरे बताए हुए यह 3 नियम और 3 तरीके आजमाते हो तो आपको कोई भी अमीर बनने से नहीं रोक सकता दोस्तों अब आपको यह पूरा पोस्ट विस्तार से पढ़ना है ताकि आपके समझ में सब कुछ आ जाए
मित्रों मै जानता हूँ कि ये लेख कूछ अधिक लम्बा हो गया है और इसमें लिखी गयी सभी बातों को आप भी जानते होंगे, किन्तु फिर भी इन सब बातों को एक साथ पिरो कर आपके सामने लाना जरूरी था क्यों कि कूछ राष्ट्र विरोधी शक्तियां चर्चा के समय बहुत से ऊट पटांग सवाल कर सकती हैं, तथ्यों की मांग उनकी तरफ से होती रहती है, जहाँ तक हो सकता था मैंने बहुत कूछ लिख देने की कोशिश की है, इस लिये मैंने पूरा इतिहास ही लिख डाला। अब भी यदि किसी तथ्य की आवश्यकता है तो हम पुराने समय में नहीं जा सकते कि सब कूछ आप को सीधा प्रसारण दिखा सकें। आशा करता हूँ कि सभी प्रश्नों के उत्तर आपको मिल जाएंगे और फिर भी कूछ रह जाए तो मै उत्तर देने के लिये प्रस्तुत हूँ।
दोस्तों यदि आप किसी एक क्षेत्र में विशेष जानकारी रखते हैं चाहे वह किसी भी क्षेत्र की क्यों ना हो तो आप एक कंसलटेंट का काम कर सकते हैं यानी आप लोगों को उस क्षेत्र में सलाह दे सकते हैं. इसके लिए आपको हो सकता है कुछ समय जरूर लगेगा पैसे कमाने के लिए जैसे-जैसे आपके नेटवर्क बढ़ते जाएंगे वैसे-वैसे आपकी इनकम बढ़ती जाएगी. इसके लिए आपको इंटरनेट की दुनिया में अपनी पहचान बनानी होगी तभी लोग आपसे सलाह लेना शुरू करेंगे पहले अपने पर्सनल नेटवर्क में सलाह देना शुरु कीजिए फिर उनसे कहना शुरू करें कि वह अपने दोस्तों और रिश्तेदारों को बताएं कि आप क्या करते हैं.
×