हर कोई कार्यालय में अनन्त घंटे बिताए बिना ऑनलाइन पैसा कमाने के लिए चाहता है, लेकिन दुर्भाग्य से हर कोई जानता है कि इस सपने को वास्तविकता में बदलने के लिए कैसे। ज्यादातर लोगों का मानना ​​है कि कोई दैनिक दफ्तरों के बिना अमीर बन सकता है वे पारिवारिक समारोहों को खोने, हर डॉलर बचाने और आशा करते हैं कि कुछ दिन चीजें बदलेगी। यदि हम आपको बताते हैं कि हम आज आपके लिए चीजें बदल सकते हैं, तो क्या होगा?
धनबाद, झरिया, गोविंदपुर में प्रदीप देवरालिया, कृष्ण गोपाल अग्रवाल, ओम प्रकाश डोकानिया, अतुल डोकानिया, अमित डोकानिया, रोहित शर्मा, योगेंद्र सिंह, अरुण कुमार सिंह, दो सीए सुमित कुमार सुल्तानियां (एस के सुल्तानिया एंड कंपनीज) तथा श्याम सुंदर साह शामिल हैं। दोनों चार्टर्ड एकाउंटेंट की भूमिका की टीम गंभीरता से जांच कर रही है। बताया गया कि पेपर कंपनियों के माध्यम से काले धन को सफेद करने से संबंधित कई दस्तावेज सीए के ठिकानों से मिले हैं। 50 से अधिक कंपनियों के दस्तावेज मिले हैं। देवरालिया एवं डोकानिया परिवार में कारोबारी साझेदारी के अलावा रिश्तेदारी भी है।  
Internet में आपको ऐसे बहुत सारे websites मिल जायेंगे, जहाँ लोग अपना online course लेते हैं. Udemy एक बेहतर platform है आपके knowledge को share करने का. यहाँ register करके आप अपने complete course video और documents के जरिये upload कर सकते है. फिर आपको उस cource की एक price set करना पड़ेगा. जो कोई भी आपका cource लेना चाहेगा, वो Udemy के जरिये payment करके जब और जहाँ चाहे उसे पढ़ पायेगा. Udemy कुछ commission रखके आपको आपका payment दे देता है.
ऐड पढ़कर कमाईः ऐसी कई वेबसाइट्स हैं जहां साइनअप करके आप ऐड पढ़कर भी कमाई कर सकते हैं. साइनअप करने के बाद, आपको रेग्युलर बेसिस पर इन साइट्स पर लॉग इन करना होगा और अपने अकाउंट के डैशबोर्ड पर नजर आने वाले ऐड पर क्लिक करना होगा. ऐसी ज्यादातर साइट्स आपको एसएमएस के जरिए ऐड भेजती भी हैं और पढ़ने के लिए रकम भी देती हैं. हर रोज 10-20 मिनट कंप्यूटर पर बिताकर आप ऑफिस जाने से ज्यादा कमा सकते हैं.
भारत ने पिछले खेलों में 57 मेडल जीते थे लेकिन आज उसके पदकों की संख्या 59 तक पहुंच गई जबकि अभी दो दिन की प्रतियोगिताएं बाकी हैं। भारत के गोल्ड पदकों की संख्या भी 13 तक पहुंच गई है जो 2014 से दो अधिक है। जॉनसन 800 मीटर दौड़ के मेडल की दौड़ में हमवतन मनजीत सिंह से पिछड़ गए थे लेकिन आज वह इसकी भरपाई करने में सफल रहे। जॉनसन ने तीन मिनट 44.72 सेकंड के समय के साथ ईरान के आमिर मोरादी (तीन मिनट 45 . 62 सेकेंड) को पछाड़कर गोल्ड मेडल जीता। आमिर का यह सीजन का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है।
दोस्तों आप जो भी नौकरी या फिर कोई काम कर रहे हो उसको कभी मत छोड़ो उसके साथ-साथ कुछ और करने की हिम्मत रखो दोस्तों अगर आप अपने काम के साथ-साथ 1 से 2 घंटे कोई और काम करते हैं तो आपको बहुत ज्यादा बचत होगी वह काम क्या होंगे मैं आपको बताऊंगा दोस्तों मान लीजिए आप दिन में 8 घंटे ड्यूटी करते हैं जैसे कि अगर आप सुबह 8:00 बजे ड्यूटी पर जाते हैं शाम 5:00 बजे घर वापस आते हैं
फ्रीलांसिंग वर्क ऐसा कार्य है जिसमे काम करने की पूरी आजादी होती हैं | ना कोई ऑफिस न कोई समय सीमा ना ही कोई वर्क प्रेशर | आप जब चाहें, जैसा चाहें, जहाँ चाहें और जितना चाहें काम करें आपको उसके हिसाब से पैसा मिलता हैं |  अगर आप कहीं नौकरी कर रहें है तो भी पार्टटाइम यह काम कर सकते हैं या अगर आप कहीं नौकरी नहीं भी कर रहें है तो फुल टाइम काम करके इससे पैसा कमा सकते हैं |
उसके बाद १८७० में अंग्रेजों के विरुद्ध क्रान्ति छेड़ी हमारे देश के गौरव स्वामी दयानंद सरस्वती ने, उनके बाद लोकमान्य तिलक, लाला लाजपतराय, वीर सावरकर जैसे वीरों ने। फिर गांधी जी, भगत सिंह, उधम सिंह, चंद्रशेखर जैसे बीरों ने। अंतिम लड़ाई लड़ने वालों में नेताजी सुभाष चन्द्र बोस रहे हैं। सन १९३९ में द्वितीय विश्व युद्ध के समय जब हिटलर इंग्लैण्ड को मारने के लिये तैयार खड़ा था तो अंग्रेज साकार ने भारत से एक हज़ार ७३२ करोड़ रुपये ले जा कर युद्ध लड़ने का निश्चय किया और भारत वासियों को वचन दिया कि युद्ध के बाद भारत को आज़ाद कर दिया जाएगा और यह राशि भारत को लौटा दी जाएगी। किन्तु अंग्रेज अपने वचन से मुकर गए।
यह एक और सबसे अच्छा ऑनलाइन व्यवसाय है जो किसी को भी शुरू कर सकते है. वहाँ की तरह कई स्वतंत्र साइटों रहे हैं Upwork, Fiverr, फ्रीलांसर जहां आप एक स्वतंत्र और बोली परियोजनाओं के रूप में शामिल हो सकते हैं. लेकिन अगर आप एक क्षेत्र पर कुछ विशेष कौशल की आवश्यकता है. सबसे फ्रीलांसरों और अधिक परियोजनाओं को पाने के लिए इतने सारे कौशल का उल्लेख है, लेकिन इस तरह से वे ठेके ढीला. बस क्या तुम नहीं, अपने प्रासंगिक sills में विशेषज्ञता रहे हैं उल्लेख.
केन्द्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री श्री राधा मोहन सिंह ने आज नई दिल्ली में कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने वर्ष 2022 तक किसानों की आय दुगनी करने का लक्ष्य देश के सामने रखा है। इस लक्ष्य को हासिल करने के लिए कृषि मंत्रालय लगातार काम कर रहा है। इस लक्ष्‍य को प्राप्त करने के लिए प्रधानमंत्री ने एक सात सूत्रीय कार्यनीति का भी आह्वान किया है जिसका विवरण निम्‍नानुसार है:
किसानों को बेहतर गुणवत्ता वाले बीज दिए जाएंगे। उनके खेत की मिट्टी की गुणवत्ता के हिसाब से बीज मिलेंगे। इसके अलावा गोदाम और कोल्ड स्टोरेज की चेन बनाने पर जोर होगा ताकि किसानों की फसल बरबाद न हो। इससे खाद्य प्रसंस्करण को भी मजबूती मिलेगी। राष्ट्रीय कृषि बाजार की स्थापना, फसलों की बेहतर कीमत के लिए 585 स्टेशनों पर ई-प्लेटफॉर्म, नई फसल बीमा योजना और मुर्गी पालन और सहायक गतिविधियों के जरिये किसानों की आय दोगुनी की जाएगी। 

तो मित्रो इसका उत्तर यहाँ से मिलता है। उस समय अफ्रीका और लैटिन अमरीका तक व्यापार का काम दो देशों चीन और भारत से होता था। आप सब जानते ही होंगे कि अफ्रीका दुनिया का सबसे बड़ा स्वर्ण उत्पादक क्षेत्र रहा है और आज भी है। इसके अलावा अफ्रीका की चिकित्सा पद्धति भी अद्भुत रही है। सबसे ज्यादा स्वर्ण उत्पादन के कारण अफ्रीका भी एक बहुत अमीर देश रहा है। अंग्रेजों द्वारा दी गयी ४५० साल की गुलामी भी इस देश से वह गुण नहीं छीन पायी जो गुण प्रकृति ने अफ्रीका को दिया। अंग्रेजों ने अफ्रीका को न केवल लूटा बल्कि बर्बरता से उसका दोहन किया। भारत और अफ्रीका का करीब ३००० साल से व्यापारिक सम्बन्ध रहा है। भौगोलिक दृष्टि से समुद्र के रास्ते दक्षिण एशिया से अफ्रीका या लैटिन अमरीका जाने के लिये इंग्लैण्ड के पास से निकलना पड़ता था। तब इंग्लैण्ड वासियों की नज़र इन जहाज़ों पर पड़ गयी। और आप जानते होंगे कि इंग्लैण्ड में कूछ नही था, लोगों का काम लूटना और मार के खाना ही था, ऐसे में जब इन्होने देखा कि माल और सोने भरे जहाज़ भारत जा रहे हैं तो इन्होने जहाज़ों को लूटना शुरू किया। किन्तु अब उन्होंने सोचा कि क्यों न भारत जा कर उसे लूटा जाए।।। तब कूछ लोगों ने मिल कर एक संगठन खड़ा किया और वे इंग्लैण्ड के राजा रानी से मिले और उनसे कहा कि हम भारत में व्यापार करना चाहते हैं हमें लाइसेंस की आवश् यकता है। अब राज परिवार ने कहा कि भारत से कमाया गया धन राज परिवार, मंत्रिमंडल, संसद और अधीकारियों में भी बंटेगा। इस समझौते के साथ सन १७५० में थॉमस रो ईस्ट इण्डिया कम्पनी के नाम से जहांगीर के दरबार में पहुंचा और व्यापार करने की आज्ञा मांगी। और तब से १९४७ तक क्या हुआ है वह तो आप भी जानते है।
14 मेरे भाइयो, अगर कोई कहे कि मैं परमेश्‍वर में विश्‍वास करता हूँ तो ऐसे विश्‍वास का क्या फायदा अगर वह उसके मुताबिक अच्छे काम नहीं करता? क्या ऐसा विश्‍वास उसे उद्धार दिला सकता है? 15 अगर किसी भाई या बहन के पास कपड़े न हों और उसके पास दो वक्‍त की रोटी भी न हो, 16 और तुममें से कोई उससे यह कहे: “ठीक-ठाक रहो, अच्छा खाओ और अच्छा पहनो,” मगर तुम उसे तन ढकने के लिए कपड़ा और पेट भरने के लिए कुछ न दो, तो इसका क्या फायदा? 17 उसी तरह, जिस विश्‍वास के साथ काम न हों, ऐसा विश्‍वास मरा हुआ है।

मैंने आपको पहले से ही इसके बारे में थोडा knowledge दे दिया है, अब details में जाते हैं. हर कोई seller अपने product को online sell करने में success हासिल कर नहिं पाता. इसीलिए वो affiliate marketing के जरिये अपना selling करता है. मान लीजिये आपका एक कपडे का दुकान है, पर आप उसके अच्छा sell नहिं कर पा रहें. तो आप किसीको बोलेंगे के, अगर वो आपके कपडे sell करने में मदद करता है तो आप उसे हर sell में इतनी percent का commission देंगे. येही होता है affiliate marketing.
राजिव भाई दीक्षित के निधन पर मुझे भी बहुत दुःख हुआ, दो दिन तक तो किसी काम में मन ही नहीं लगा, मन में बेचैनी भी थी की एक और अनमोल रत्न भारत माँ ने खो दिया…मै उनसे कई बार मिला…उनके ज्ञान और व्यक्तित्व से बहुत प्रभावित हुआ…उन पर एक लेख लिखने की बहुत इच्छा है, किन्तु कुछ दिनों से अपने ऑफिस के काम से ट्यूर पर ही रहा तो अधिक समय न मिला…किन्तु अब जल्दी ही एक लेख राजिव भाई पर लिखने वाला हूँ…आशा है आपको पसंद आये…
5 मेरे प्यारे भाइयो, सुनो। क्या परमेश्‍वर ने ऐसों को नहीं चुना जो दुनिया में गरीब हैं ताकि वे विश्‍वास में धनी और उस राज के वारिस बनें, जिसका वादा उसने उनसे किया है जो उससे प्यार करते हैं? 6 लेकिन तुमने गरीब इंसान को बेइज़्ज़त किया है। क्या अमीर तुम पर अत्याचार नहीं करते और तुम्हें घसीटकर अदालतों में नहीं ले जाते? 7 क्या वे उस बढ़िया नाम की निंदा नहीं करते, जिस नाम से तुम बुलाए गए हो? 8 अब अगर तुम शास्त्रवचन के मुताबिक इस शाही नियम का पालन करते हो: “तुझे अपने पड़ोसी से वैसे ही प्यार करना है जैसे तू खुद से करता है,” तो तुम बहुत अच्छा काम कर रहे हो। 9 लेकिन अगर तुम भेदभाव दिखाना जारी रखते हो, तो तुम पाप कर रहे हो और यह नियम तुम्हें गुनहगार ठहराता है।
केन्द्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री श्री राधा मोहन सिंह ने आज नई दिल्ली में कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने वर्ष 2022 तक किसानों की आय दुगनी करने का लक्ष्य देश के सामने रखा है। इस लक्ष्य को हासिल करने के लिए कृषि मंत्रालय लगातार काम कर रहा है। इस लक्ष्‍य को प्राप्त करने के लिए प्रधानमंत्री ने एक सात सूत्रीय कार्यनीति का भी आह्वान किया है जिसका विवरण निम्‍नानुसार है:
बेईमानी करने का दबाव इतना ज़बरदस्त है कि ज़रूरत पड़ने पर लोग इससे पीछे नहीं हटते। ऑस्ट्रेलिया में बिज़नेस मैनेजरों का एक सर्वे लिया गया जिसमें 10 में से 9 ने कहा कि रिश्‍वतखोरी और भ्रष्टाचार “गलत है मगर इसके बिना काम भी नहीं चलता।” उन्होंने यह भी कहा कि कोई कॉन्ट्रैक्ट हासिल करने या कंपनी के फायदे के लिए वे अपने उसूलों की बलि चढ़ाने को भी तैयार हैं।
क्यूबर न केवल एक तेज रिचार्ज ऐप है बल्कि यह आपको अपने दोस्तों को इसे संदर्भित करके पक्ष में कमाता है। क्यूबर एक समृद्ध समुदाय बन जाता है जो आपको जीवनकाल में रॉयल्टी कमाता है, तब भी जब आप सक्रिय रूप से इसका उपयोग नहीं कर रहे हैं। यह सबसे बड़ा फायदा है और सरल है – ऐप को अपने मित्रों को देखें और कमाएं एक पूर्व निर्धारित नकद बैक दर संरचना के अनुसार, आपके मित्रों द्वारा किए जाने वाले किसी भी लेन-देन के लिए, आपको उस लेन-देन पर नकद वापस राशि मिलती है। यह दर 14 स्तर तक तय की जाती है, अर्थात् 14 वीं स्तर तक रेफरल के लिए, आप क्यूबर वॉलेट पैसे कमा सकते हैं। क्यूबर केवल रिचार्ज, यूटिलिटी बिल और शॉपिंग और कैशबैक सुविधाओं के साथ कैशबैक ऐप को देखें और कमाएं
×