Elon Reeve Musk (born June 28, 1971) is a South African-born American entrepreneur and businessman who founded X.com in 1999 (which later became PayPal), SpaceX in 2002 and Tesla Motors in 2003. Musk became a multimillionaire in his late 20s when he sold his start-up company, Zip2, to a division of Compaq Computers. Musk made headlines in May 2012, when SpaceX launched a rocket that would send the first commercial vehicle to the International Space Station. He bolstered his portfolio with the purchase of SolarCity in 2016, and cemented his standing as a leader of industry by taking on an advisory role in the early days of President Donald Trump's administration.

तो मित्रों अब यदि इन काले अंग्रेजों से आज़ादी चाहिए तो फिर से कोई स्वतंत्रता संग्राम छेड़ना होगा, कोई क्रान्ति को जन्म देना होगा। फिर से किसी को मंगल पण्डे बनना होगा, किसी को भगत सिंह तो किसी को सुभाष चन्द्र बोस बनना होगा। क्यों कि जीवन जीने के केवल दो हे तरीके इस देश में बचे हैं कि या तो जो हो रहा है उसे सहते रहो, शान्ति के नाम पर यथास्थिति बनाए रखो, और सब कूछ सहते सहते मर जाओ या फिर खड़े हो जाओ एक संकल्प के साथ और आवाज़ उठाओ अन्याय के विरुद्ध, फिर से खड़ी करो एक क्रान्ति, और केवल मै और मेरा पारिवार की विचारधारा से भार आकर मेरा राष्ट्र की विचारधारा को अपनाओ। किन्तु आज इस देश में यथास्थिति वाले लोग अधिक है। उन्ही से पूछना चाहूँगा कि क्या ये दिन देखने के लिये ही तुम्हारे पूर्वजों ने जीवन का बलिदान दिया था, क्या उनका त्याग व्यर्थ जाएगा, क्या आज तुम्हारे पूर्वजों को तुम प र गर्व होगा, क्या आने वाली पीढी को तुम पर गर्व होगा, क्या अपनी आने वाली पीढ़ी के लिये विरासत में तुम इन काले अंग्रेजों को छोड़ के जाओगे? आचार्य विष्णु गुप्त (चाणक्य) ने कहा था कि जितनी हानि इस राष्ट्र को दुर्जनों कि दुर्जनता से हुई है उससे कहीं अधिक हानि इस राष्ट्र को सज्जनों कि निष्क्रियता से हुई है। क्या आप सज्जन हमेशा निष्क्रीय ही बने रहेंगे? अब कोई भी यह पूछ सकता है कि हम क्या करें? मित्रों करने को बहुत कूछ है करने की इच्छा शक्ति होनी चाहिए। यदि आप में इच्छा शक्ति है, यदि आप में ज्ञान है तो आप खुद अपने लिये राह बना सकते हैं। चाणक्य ने मगध सम्राट धननंद के दरबार में उसे ही ललकारते हुए कहा था कि मेरे ज्ञान में अगर शक्ति है तो मै अपना पोषण कर सकने वाले सम्राटों का निर्माण स्वयं कर लूँगा।
11. ऑनलाइन बिक्रीः ऐसे कई लोग हैं जो अपने प्रॉडक्ट को ईबे, अमेजन, फ्लिपकार्ट जैसी बड़ी शॉपिंग वेबसाइट्स पर बेचकर लाखों कमा रहे हैं. आपको सिर्फ एक अच्छा प्रॉडक्ट चाहिए, इसके बाद ऐसी किसी भी साइट पर साइनअप करें, अपने प्रॉडक्ट को प्राइस के साथ लिस्ट करें और बेचना शुरू कर दें. आपको किसी से बात करने की भी जरूरत नहीं. आपको ऑर्डर मेलबॉक्स के जरिए मिल जाएगा और कुरियर कंपनी के जरिए उसे डिलिवर कर दें, बस.
शंकर जी हमारे देश में राहुल गांधी कोई अकेला नेता नहीं है जो हमें उसी पर निर्भर होना पड़े| हमें राहुल गांधी की जरुरत नहीं है, हमें तो जरुरत है आप जैसे देश भक्तों की जो देश के लिये समर्पण का भाव रखते हैं, जो देश के इतिहास पर गर्व करते हैं, उसकी संस्कृती पर गर्व करते हैं, उसकी शक्ति पर गर्व करते हैं| केवल राहुल ही एक अकेला रास्ता नहीं है, यह देश इतना शक्तिशाली है कि खुद अपने लिये नए और उपयुक्त रास्ते बना सकता है| सबसे बड़ी शक्ति आवाम की है, आवाम खुद इतनी बड़ी शक्ति है कि बड़ी से बड़ी सत्ता को उखाड़ कर फेंक सकती है, बड़ी से बड़ी व्यवस्था को बदल सकती है| दुःख है तो बस इस बात का कि यह शक्ति बिखरी हुई है| जिस दिन यह शक्ति संगठित हो जाएगी तो जिस तरह अंग्रेज भागे थे हमारा देश छोड़ कर इन काले अंग्रेजो को भी हम देश से निकाल कर बाहर फेंक देंगे| जरुरत बस एक होने की है| आप और हम राष्ट्र आराधन करते रहें तो यह भी संभव है|
इस वेबसाईट को बनाने का मेन उद्येश्य यह है कि, इस वेब पोर्टल में सीएससी (कॉमन सर्विस सेंटर) में भाग लेने के लिए सीएससी (सामान्य सेवा केंद्र), संरचना, पात्रता और योग्यता की सुविधाओं के बारे में आवश्यक जानकारी शामिल है। सीएससी के सभी जिला प्रबंधको का विवरण, इस वेबसाइट पर ईमेल आईडी, पता और फोन नंबर के साथ आपको महत्वपूर्ण जानकारी भी मिलेगी। मुझे कंप्यूटर, वेबसाईट, इंटरनेट, सीएससी, के बारे मे बहुत सी जानकारी है तो क्यो ना ओ जानकारी मे आपके साथ शेअर करू, और उस जानकारी का आप सबको फायदा हो, और हमारे सारे भाईओ और बहनो को तरक्की पर ले जाऊ अगर आप भी मेरे साथ साथ उचे शिखर पर जाते है तो मुझे भी बहुत अच्छा महसूस होगा अगर आप रोजाना हमारी वेबसाइट पर आते है तो आपको ढेर सारी जानकारी यहापर मिलती रहेगी और आपको इसका जरूर फायदा होगा इसलिए मैं आपको कहना चाहता हु की आप हमारी वेबसाइट पर उपलब्ध सभी जानकारी का अच्छेसे फायदा ले और आपको ऐसा लगता है की मैं ऐसे ही कोई आपके लिए अच्छी जानकारी दू तो आप मुझे सुजाव  भी दे सकते है मई जरूर आपके लिए कोशिश करूँगा की आपकी फरमाइश की हुयी जानकारी मैं आप तक पहुँचा सकु, और में आपके साथ एक बात और शेअर करना चाहता हु की हमारी वेबसाइट पर मौजूद आपने हमको आपकी दी हुयी जानकारी पूरी तरह से सुरक्षित है हम आपको कोई भी ईमेल आईडी या कोई भी ऐसे अन्य बाते जो आपने हमारे साथ शेअर की है ओ हम किसीके साथ शेअर नहीं करते मुझे उम्मीद है की आप हमारी वेबसाइट पर रोजाना आकर आपके काम की अच्छी जानकारी प्राप्त करोगे और आगे बढ़ोगे. धन्यवाद !
अगर आपको लेखन से प्यार है, तो कई साइट पैसे देकर ऑनलाइन बुक लिखवाने से लेकर उसकी रॉयल्टी से कमाई करने का मौका देती हैं। इन्हीं साइटों में से एक है । अमेजन किंडल डायरेक्ट पब्लिशिंग के नाम से यह फीचर चलाती है। इसमें कोई भी ऑनलाइन बुक लिखकर उसे किंडल बुकस्टोर पर डाल सकता है। इसकी बिक्री पर लेखक को 70 फीसदी तक रॉयल्टी मिलती है। साइट और सेल्फ पब्लिश बुक की अधिक जानकारी के लिए https://kdp.amazon.com/ पर क्लिक करें। इस पर आप अपना अकाउंट भी बनाकर रेगुलर मेम्बर बन सकते हैं।
किन्तु आज भी अंग्रेजों के बनाए सभी क़ानून यथावत चल रहे हैं अंग्रेजों की चिकित्सा पद्धति यथावत चल रही है। और कूछ काम तो हमारे देश के नेताओं ने अंग्रेजों से भी बढ़कर किये। अंग्रेजों ने भारत को लूटने के लिये २३ प्रकार के टैक्स लगाए किन्तु इन काले अंग्रेजों ने ६४ प्रकार के टैक्स हम भारत वासियों पर थोप दिए। और इसी टैक्स को बचाने के लिये देश के लोगों ने टैक्स की चोरी शुरू की जिससे काला बाजारी जैसी समस्या सामने आई। मंत्रियों ने इतने घोटाले किये कि देश की जनता भूखी मरने लगी। भारत की आज़ादी के बाद जब पहली बार संसद बैठी और चर्चा चल रही थी राष्ट्र निर्माण की तो कई सांसदों ने नेहरु से कहा कि वह इंग्लैण्ड से वह उधार की राशी मांगे जो द्वितीय विश्व युद्ध के समय अंग्रेजों ने भारत से उधार के तौर पर ली थी और उसे राष्ट्र निर्माण में लगाए। किन्तु नेहरु ने कहा कि अब वह राशि भूल जाओ। तब सांसदों का कहना था कि इन्होने जो २०० साल तक हम पर जो अत्याचार किया है क्या उसे भी भूल जाना चाहिए? तब नेहरु ने कहा कि हाँ भूलना पड़ेगा, क्यों कि अंतर्राष्ट्रीय संबंधों में सब कूछ भुलाना पड़ता है। और तब यही से शुरुआत हुई सता की लड़ाई की और राष्ट्र निर्माण तो बहुत पीछे छूट गया था।
Wooplr नाम की एक वेबसाइट है जहां पर आप फ्री में एक शॉपिंग स्टोर खोल सकते हैं वह भी अपने मोबाइल से और आप वहां से अच्छा पैसा कमा सकते हैं सिंपल है दोस्तों इस वेबसाइट पर अकाउंट बनाने के लिए Facebook अकाउंट की जरूरत पड़ती है Facebook अकाउंट तो आप पहले से ही चला रहे होंगे बस सिंपल सा है रजिस्ट्रेशन कर लीजिए और एक शॉपिंग स्टोर खोल लीजिए वहां पर WhatsApp Facebook पर बंदूकों प्रोडक्ट शेयर करिए कोई भी बंदा उस सामान को खरीदेगा आपको 20 परसेंट कमीशन मिलेगा

इन्टरनेट से पैसे कमाने के लिए आपके ज्ञान ही जरुरी नहीं है अगर आपके पास कुछ अच्छा और अलग टैलेंट है तो आप इन्टरनेट से नाम भी कमा सकते है पोपुलर बन सकते और पैसे भी कमा सकते है आज कल बहोत सारे लोग यही काम कर रहे है इन्टरनेट सिर्फ जानकारी लेने के लिए नहीं बना है यहाँ पर आप अपने टैलेंट जैसे ऑनलाइन कुछ भी कर जैसे डांस सिखा के लोगो को पढ़ा के , गाना सुनाके लोगो को एंटरटेन करके भी अपने नाम कमा सकते है और सेलेब्रिटी भी बन सकते है और साथ ही साथ पैसे भी कमा सकते है तो आइये जान लेते है इंटरनेट से पैसे कमाने के अलग अलग तरीके.
×