ऑनलाइन रिसर्च: युवा अपना अधिकतर समय इंटरनेट पर बिताते हैं, ऐसे में क्यों न इसे अपना काम की चीज ही बना लें। हालांकि ऑनलाइन रिसर्च का काम सुनने में बड़ा बोरिंग लगता है लेकिन इससे आपको अच्छी कमाई के साथ कई विषयों के बारे में जानकारी पाने का अवसर भी मिलता है। आप इसके लिए बिजनेस या मीडिया हाउसेस या फिर किसी कंपनी में काम कर सकते हैं। अधिकतर समय यह काम घर से भी किया जा सकता है।
आज के वक्त में इंटरनेट के जरिए भी ट्यूशन कारोबार अच्छा चल रहा है। ई-ट्यूटर भी ऑनलाइन कमाई के चर्चित तरीकों में से एक है। इनमें तमाम इंस्टीट्यूट से लेकर ऑनलाइन वेबसाइट भी अलग-अलग विषयों के लोगों को पेड ई-ट्यूटर रखती हैं।www.tutorvista.com औरwww.2tion.net जैसी प्रमुख वेबसाइट्स पिछले कुछ समय से भारत में ये सुविधा दे रही है। यूजर्स ऐसी ही साइटों पर खुद को रजिस्टर कर चंद घंटे पढ़ाकर मोटी कमाई कर सकते हैं।

Navratri 2018 Day 3Vasant Kunj Triple MurderTitli Cyclone in OdishaRampal Case VerdictNarendra ModiStock Market CrashJ&K Civic Polls 2018Internet ShutdownGujarat NewsKarti ChidambaramAlpesh ThakorRahul GandhiSensex TodayTitli StormSatta Matka TricksMovierulz WebsiteMJ AkbarSatta Matka 2018Latest Bollywood Movies 2018TamilGun Website 2018Petrol Price TodayTamilRockers WebsiteBigg Boss Contestants ListJanhvi Kapoor PhotosTop Bollywood MoviesSunny Leone Hot PhotosPoonam Pandey PhotosBigg Boss 12 LiveJasleen Matharu Hot PhotosSatta Matka KingKriti Verma Hot PhotosTravel Tips in HindiAaj Ka RashifalBejan DaruwallaIncome Tax in HindiShare BazarRashifal 2018Tech News in HindiHindi NewsAssembly Elections 2018Lucknow NewsLive Cricket ScoreMumbai NewsPunjab NewsKashmir NewsTravel news in HindiFilmywap 2018UP NewsBihar NewsTV News in Hindi

धनबाद, झरिया, गोविंदपुर में प्रदीप देवरालिया, कृष्ण गोपाल अग्रवाल, ओम प्रकाश डोकानिया, अतुल डोकानिया, अमित डोकानिया, रोहित शर्मा, योगेंद्र सिंह, अरुण कुमार सिंह, दो सीए सुमित कुमार सुल्तानियां (एस के सुल्तानिया एंड कंपनीज) तथा श्याम सुंदर साह शामिल हैं। दोनों चार्टर्ड एकाउंटेंट की भूमिका की टीम गंभीरता से जांच कर रही है। बताया गया कि पेपर कंपनियों के माध्यम से काले धन को सफेद करने से संबंधित कई दस्तावेज सीए के ठिकानों से मिले हैं। 50 से अधिक कंपनियों के दस्तावेज मिले हैं। देवरालिया एवं डोकानिया परिवार में कारोबारी साझेदारी के अलावा रिश्तेदारी भी है।  

क्यूबर न केवल एक तेज रिचार्ज ऐप है बल्कि यह आपको अपने दोस्तों को इसे संदर्भित करके पक्ष में कमाता है। क्यूबर एक समृद्ध समुदाय बन जाता है जो आपको जीवनकाल में रॉयल्टी कमाता है, तब भी जब आप सक्रिय रूप से इसका उपयोग नहीं कर रहे हैं। यह सबसे बड़ा फायदा है और सरल है – ऐप को अपने मित्रों को देखें और कमाएं एक पूर्व निर्धारित नकद बैक दर संरचना के अनुसार, आपके मित्रों द्वारा किए जाने वाले किसी भी लेन-देन के लिए, आपको उस लेन-देन पर नकद वापस राशि मिलती है। यह दर 14 स्तर तक तय की जाती है, अर्थात् 14 वीं स्तर तक रेफरल के लिए, आप क्यूबर वॉलेट पैसे कमा सकते हैं। क्यूबर केवल रिचार्ज, यूटिलिटी बिल और शॉपिंग और कैशबैक सुविधाओं के साथ कैशबैक ऐप को देखें और कमाएं

×