अगर आप अपनी जिंदगी में success होना चाहते है तोह एक लक्ष्य बनाइये,अगर आपकी जिंदगी में एक साथ बहुत कुछ चल रहा है,या फिर आप एक साथ कई लक्ष्य पूरा करने का प्रयत्न कर रहे है तोह आप कभी भी अमीर नहीं बन सकते.क्योकि करोरपति बनना कोई ऐसा काम नहीं की आप एक हाथ में किताब लिए है और याद कर रहे है,दूसरी ओर टीवी देख रहे है,ऐसा करने पर हो सकता है आप exam में पास भी हो जाओ लेकिन दोस्तों अमीर बनने के लिए एक लक्ष्य का होना बहुत ही जरुरी है.
ऑनलाइन कारोबार दिन-ब-दिन बढ़ती हैं और प्रत्येक कंपनी अपने अपने ऑनलाइन बाजार विकसित करने के लिए वेबसाइट की जरूरत है. सॉफ्टवेयर विकास वेब विकास और डिजाइन जैसे महान मांग में हैं. प्रत्येक कंपनी अपने व्यापार के ऑनलाइन विकसित करने के लिए अपनी वेबसाइट की जरूरत है. आप जैसे विभिन्न साइटों से वेब डिजाइन परियोजनाओं प्राप्त कर सकते हैं Fiver, फ्रीलांसर, गुरु आदि. या आप अपनी खुद की वेबसाइट बनाने के द्वारा अपनी सेवा प्रदान कर सकते हैं.
एक चीज़ तो हमें पहले से ही पता है की अगर किसी चीज़ को करने में आपको मज़ा आता है तो यकीन मानिये उस काम को करने से आपको ये कभी नहीं लगेगा की आप कोई काम कर रहे हैं. बल्कि ऐसे काम करने में आपकी रूचि और बढ़ेगी. इसके साथ साथ अगर उस काम को करने से आपको पैसे भी मिल जाये तो क्या बात है. Facebook का इस्तमाल हम सभी लोग रोजाना करते हैं तो मैंने सोचा क्यूँ न आप लोगों को ये बता दिया जाये की फेसबुक से पैसे कैसे कमाए. तो बिना देरी किये चलिए शुरू करते हैं.
After leaving Penn, Elon Musk headed to Stanford University in California to pursue a PhD in energy physics. However, his move was timed perfectly with the Internet boom, and he dropped out of Stanford after just two days to become a part of it, launching his first company, Zip2 Corporation. An online city guide, Zip2 was soon providing content for the new websites of both The New York Times and the Chicago Tribune. In 1999, a division of Compaq Computer Corporation bought Zip2 for $307 million in cash and $34 million in stock options.
थॉमस रो ने सबसे पहले सूरत के एक महल नुमा घर को लूटा जो आज भी मौजूद है। फिर पड़ोस के गाँव में और फिर और आगे। खाली हाथ आये इन अंग्रजों के पास जब करोड़ों की संपत्ति आई तो इन्होने अपनी खुद की सेना बनायी। उसके बाद सन १७५७ में रोबर्ट क्लाइव बंगाल के रास्ते भारत आया उस समय बंगाल का राजा सिराजुद्योला था। उसने अंग्रेजों से संधि करने से मना कर दिया तो रोबर्ट क्लाइव ने युद्ध की धमकी दी और केवल ३५० अंग्रेज सैनिकों के साथ युद्ध के लिये गया। बदले में सिराजुद्योला ने १८००० की सेना भेजी और सेनापति बनाया मीर जाफर को। तब रोबर्ट क्लाइव ने मीर जाफर को पत्र भेज कर उसे बंगाल की राज गद्दी का लालच देकर उससे संधि कर ली। रोबर्ट क्लाइव ने अपनी डायरी में लिखा था कि बंगाल की राजधानी जाते हुए मै और मीर जाफर सबसे आगे, हमारे पीछे मेरी ३५० की अंग्रेज सेना और उनके पीछे बंगाल की १८००० की सेना। और रास्‍ते में जितने भी भारतीय हमें मिले उन्होंने हमारा कोई विरोध नहीं किया, उस समय यदि सभी भारतीयों ने मिल कर हमारा विरोध किया होता या हम पर पत्थर फैंके होते तो शायद हम कभी भारत में अपना साम्राज्य नहीं बना पाते। वो डायरी आज भी इंग्लैण्ड में है। मीर जाफर को राजा बनवाने के बाद धोखे से उसे मार कर मीर कासिम को राजा बनाया और फिर उसे मरवाकर खुद बंगाल का राजा बना। ६ साल लूटने के बाद उसका स्थानातरण इंग्लैण्ड हुआ और वहां जा कर जब उससे पूछा गया कि कितना माल लाये हो तो उसने कहा कि मै सोने के सिक्के, चांदी के सिक्के और बेश कीमती हीरे जवाहरात लाया हूँ। मैंने उन्हें गिना तो नहीं किन्तु इन्हें भारत से इंग्लैण्ड लाने के लिये मुझे ९०० पानी के जहाज़ किराये पर लेने पड़े। अब सोचो एक अकेला रोबर्ट क्लाइव ने इतना लूटा तो भारत में उसके जैसे ८४ ब्रीटिश अधीकारी आये जिन्होंने भारत को लूटा। रोबर्ट क्लाइव के बाद वॉरेन हेस्टिंग्स नामक अंग्रेज अधीकारी आया उसने भी लूटा, उसके बाद विलियम पिट, उसके बाद कर्जन, लौरेंस, विलियम मेल्टिन और न जाने कौन कौन से लुटेरों ने लूटा। और इन सभी ने अपने अपने वाक्यों में भारत की जो व्याख्या की उनमे एक बात सबमे सामान है। सबने अपने अपने शब्दों में कहा कि भारत सोने की चिड़िया नहीं सोने का महासागर है। इनका लूटने का प्रारम्भिक तरीका यह था कि ये किसी धनवान व्यक्ति को एक चिट्ठी भेजते थे जिसमे एक करोड़, दो करोड़ या पांच करोड़ स्वर्ण मुद्राओं की मांग करते थे और न देने पर घर में घुस कर लूटने की धमकी देते थे। ऐसे में एक भारतीय सोचता कि अभी नहीं दिया तो घर से दस गुना लूट के ले जाएगा अत: वे उनकी मांग पूरी करते गए। धनवानों के बाद बारी आई देश के अन्य राज्यों के राजाओं की। वे अन्य राज परीवारों को भी ऐसे ही पत्र भेजते थे। कूछ राज परिवार जो कायर थे उनकी मांग मान लेते थे किन्तु कूछ साहसी लोग ऐसे भी थे जो उन्हें युद्ध के लिये ललकारते थे। फिर अंग्रेजों ने राजाओं से संधि करना शुरू कर दिया।
Facebook से पैसे कैसे कमाए? Facebook क्या है ये तो शायद सभी Internet users को पता ही है. पर क्या आपको Facebook से पैसे कमाने का तरीका के बारे मैं पता है? जी हाँ आपने बिलकुल सही सुना की Facebook से बिलकुल पैसे कमाया जा सकता है. ये बात सुनकर बहुतों को आश्चर्य हो रहा होगा पर यकीन मानिये मैं झुठ नहीं बोल रहा हूँ. आज हम इसी के बारे में पूरी तरह से जानेंगे की आखिर कैसे हम Facebook से पैसे कमा सकते हैं.
मोबाइल फोन रिचार्ज करना और बिल भुगतान करना तेजी से और कुशल मोबाइल एप्लिकेशन के साथ आसान हो गया है क्यूबर के साथ, आप तुरंत किसी भी फोन को रिचार्ज कर सकते हैं, पोस्ट-पेड बिल भुगतान कर सकते हैं, डीटीएच, गैस, बिजली बिल, प्रीपेड / पोस्ट-पेड डेटाकॉर्ड बिल, पुस्तक बस या फ्लाईट ऑनलाइन आदि के लिए भुगतान कर सकते हैं। आपके रिचार्ज के साथ आगे बढ़ सकते हैं यह केवल कुछ ही कदम दूर है।
×