अफ़ग़ानिस्तान | अफ्रीका | अल्बानिया | एलजीरिया | अंडोरा | अंगोला | अंतिगुया और बार्बूडा | अरब | अर्जेंटीना | आर्मीनिया | ऑस्ट्रेलिया | ऑस्ट्रिया | आज़रबाइजान | बहामा | बहरीन | बांग्लादेश | बारबाडोस | बेलोरूस | बेल्जियम | बेलीज | बेनिन | भूटान | बोलीविया | बोस्निया और हर्जेगोविना | बोत्सवाना | ब्राज़िल | बुल्गारिया | बुर्किना फासो | बुस्र्न्दी | कंबोडिया | कैमरून | कनाडा | केप वर्दे | काग़ज़ का टुकड़ा | चिली | चीन | कोलम्बिया | कोमोरोस | कांगो | कोस्टा रिका | क्रोएशिया | क्यूबा | साइप्रस | चेक | चेक गणतंत्र | दारेस्सलाम | डेनमार्क | जिबूती | डोमिनिकन | डोमिनिकन गणराज्य | पूर्वी तिमोर | इक्वेडोर | मिस्र | अल साल्वाडोर | इरिट्रिया | एस्तोनिया | इथियोपिया | फ़िजी | फिनलैंड | फ्रांस | गैबॉन | गाम्बिया | जॉर्जिया | जर्मनी | घाना | ग्रेट ब्रिटेन | ग्रेट ब्रिटेन(यूके) | यूनान | ग्रेनाडा | ग्वाटेमाला | गिन्नी | गिनी-बिसाऊ | गुयाना | हैती | होंडुरस | हांगकांग | हंगरी | आइसलैंड | इंडिया | इंडोनेशिया | ईरान | इराक | आयरलैंड | इज़राइल | इटली | आइवरी कोस्ट | जमैका | जापान | जॉर्डन | कज़ाकस्तान | केन्या | किरिबाती | कोसोवो | कुवैत | किरगिज़स्तान | लाओस | लाटविया | लेबनान | लेसोथो | लाइबेरिया | लीबिया | लिचेंस्टीन | लिथुआनिया | लक्ज़म्बर्ग | मकाओ | मैसेडोनिया | मेडागास्कर | मलावी | मलेशिया | मालदीव | माली | माल्टा | मार्शल | मार्टीनिक | मॉरिटानिया | मॉरीशस | मेक्सिको | माइक्रोनेशिया | मोल्दोवा | मोनाको | मंगोलिया | मोंटेनेग्रो | मोरक्को | मोजाम्बिक | म्यांमार | नामीबिया | नाउरू | नेपाल | नीदरलैंड | Neves Augusto नेविस | न्यूज़ीलैंड | निकारागुआ | नाइजर | नाइजीरिया | उत्तरी कोरिया | उत्तरी आयरलैंड | उत्तरी आयरलैंड(यूके) | नॉर्वे | ओमान | पाकिस्तान | पलाऊ | फिलीस्तीनी क्षेत्र | पनामा | पापुआ न्यू गिनी | पैराग्वे | पेरू | फिलीपींस | पोलैंड | पुर्तगाल | पर्टो रिको | कतर | रीयूनियन | रोमानिया | रूस | रवांडा | सेंट लूसिया | समोआ | सैन मैरिनो | साओ टोम और प्रिंसिपे | सऊदी अरब | सेनेगल | सर्बिया | सेशल्स | सिएरा लियोन | सिंगापुर | स्लोवाकिया | स्लोवेनिया | सोलोमन | सोमालिया | दक्षिण अफ़्रीका | दक्षिण कोरिया | स्पेन | श्री लंका | सूडान | सूरीनाम | स्वाज़ीलैंड | स्वीडन | स्विट्ज़रलैंड | सीरियाई अरब | ताइवान | ताजिकिस्तान | तंज़ानिया | थाईलैंड | टोगो | टोंगा | त्रिनिदाद और टोबैगो | ट्यूनीशिया | तुर्कस्तान | तुर्कमेनिस्तान | तुवालु | संयुक्त राज्य अमेरिका | युगांडा | यूके | यूक्रेन | संयुक्त अरब अमीरात | युनाइटेड किंगडम | संयुक्त राज्य | संयुक्त राज्य(संयुक्त राज्य अमेरिका) | उरुग्वे | उज़्बेकिस्तान | वानुअतु | वेटिकन | वेनेजुएला | वेनेजुएला के बोलिवर | वियतनाम | विंसेंट | यमन | जाम्बिया | जिम्बाब्वे | GDI | ग्लोबल डोमेन इंटरनेशनल, इंक. | GDI पंजीकरण भाषा मैनुअल - GDI खाता सेटअप भाषा गाइड | Freedom.WS | WEBSITE.WS | .WS डोमेन | .WS डोमेन संबद्ध | डॉट WS बुलबुला | डॉट कॉम बुलबुला | डॉट WS उछाल | डॉट कॉम बूम | जीवन के लिए आय | GDI पृथ्वी वेबसाइट | ग्लोबल पृथ्वी वेबसाइट | नेटवर्किंग लेख वेबसाइट |
एफिलिएट मार्केटिंग में करना क्या होता है, कि आपको ऑनलाइन शॉपिंग वेबसाइट है, उसमें एक या दो वेबसाइट से आपको एफिलिएट लेना होता है.  एफिलिएट लेने के लिए उनके वेबसाइट पर आपको रजिस्टर करना होता है. एफिलिएट लेने के बाद उनके प्रोडक्ट्स को अपने वेबसाइट के ऊपर लिंक के साथ पेस्ट करना होता है. कोई व्यक्ति जब उस प्रोडक्ट को आपके वेबसाइट के थ्रू जाकर प्रोडक्ट को परचेस कर लेता है, तो उसमें एक फिक्स कमीशन आपको मिलती है. यह कमीशन 4% से 15% तक होता है. घर बैठे पैसे कमाने के तरीके में सबसे अच्छा है. 
Internet से पैसे कमाने के लिए मैं जितने भी ऊपर Website बताई है | वह सब Real Payment करेगीं | अगर fake Website होती तो वह ज्यादा दिन तक नही चलती | और यह सब कई सालो से चलती आ रही है | Fraud Website 1-2 के अन्दर बंद हो जाती है | बाकी आप इन Website के terms पढ़कर उसके बारे में पता लगा सकते है, कि यह site कब से काम कर रही है | By The Way अगर आपको पोस्ट पसंद आये, तो जरुर share करें |
आज के टाइम में average  लोगो के लिए competition बहुत ही ज्यादा है और  आपको competition से उप्पर उठने का एक ही तरीका है। वो भी  Be Obsessed &  be extra –ordinary  अगर आप किसी भी successful इंसान को देखोगे की वो अपने काम को लेकर कितना ज्यादा Obsessed  रहते है।  उनको किसी और काम में ध्यान ही नहीं जाता।  उनका ध्यान सिर्फ और सिर्फ बस एक ही काम में होता है मतलब की वो लोग जिस तरह की focused और dedicated के साथ उस काम को करते है जिस्से देखकर एक normal इंसान को लगेगा की ये इंसान तो सच में पागल है या कोई बीमारी है। लेकिन सच बात तो ये है की obsession कोई बीमारी नहीं बल्कि गिफ्ट है। 
नई दिल्ली (जेएनएन)। आजकल कई ऐसे लोग हैं जो नौकरी के साथ-साथ घर बैठे पार्ट टाइम काम भी करना चाहते हैं। इससे उन्हें ज्यादा मेहनत नहीं करनी पड़ती और कहीं आना-जाना भी नहीं पड़ता। इसी के चलते घर बैठे ऑनलाइन पैसे कमाने का तरीका काफी पॉपुलर हो रहा है। इंटरनेट पर आज कई ऐसे तरीके मौजूद हैं जो किसी को भी पैसे कमाने का मौकै देते हैं। आंकड़ों पर गौर किया जाए तो भारत और दूसरे देशों में 65,000 से ज्यादा लोग हर महीने ऑनलाइन जॉब के जरिए 10,000 से 40,000 रुपये तक कमा रहे हैं। ऐसे में हम आपको 9 ऐसे तरीके बताने जा रहे है जिसके जरिए आप घर बैठे कमाई कर सकते हैं।
नमस्कार दोस्तों, स्वागत है आपका सक्सेस इन हिंदी के मंच पर इस पोस्ट में हम आपको बताने जा रहे हैं कैसे आप इंटरनेट की दुनिया में पैसे कमा सकते हैं वो भी बिना किसी इन्वेस्टमेंट के, वैसे तो इंटरनेट की दुनिया से पैसे कमाने के तरीकों के बारे में बहुत सारे लोग पहले से ही जानते हैं किन्तु ऐसे अभी बहुत सारे लोग हैं जिन्हें इसके बारे में जानकारी नहीं है. यह पोस्ट हमने आज उन्हीं लोगों के लिए लिखी है जो इंटरनेट की दुनिया में पैसे कमाना चाहते हैं और अभी उनके पास जानकारी नहीं है की कैसे कमाए ऑनलाइन पैसा.

After leaving Penn, Elon Musk headed to Stanford University in California to pursue a PhD in energy physics. However, his move was timed perfectly with the Internet boom, and he dropped out of Stanford after just two days to become a part of it, launching his first company, Zip2 Corporation. An online city guide, Zip2 was soon providing content for the new websites of both The New York Times and the Chicago Tribune. In 1999, a division of Compaq Computer Corporation bought Zip2 for $307 million in cash and $34 million in stock options.
एफिलिएट मार्केटिंग में करना क्या होता है, कि आपको ऑनलाइन शॉपिंग वेबसाइट है, उसमें एक या दो वेबसाइट से आपको एफिलिएट लेना होता है.  एफिलिएट लेने के लिए उनके वेबसाइट पर आपको रजिस्टर करना होता है. एफिलिएट लेने के बाद उनके प्रोडक्ट्स को अपने वेबसाइट के ऊपर लिंक के साथ पेस्ट करना होता है. कोई व्यक्ति जब उस प्रोडक्ट को आपके वेबसाइट के थ्रू जाकर प्रोडक्ट को परचेस कर लेता है, तो उसमें एक फिक्स कमीशन आपको मिलती है. यह कमीशन 4% से 15% तक होता है. घर बैठे पैसे कमाने के तरीके में सबसे अच्छा है. 
मित्रों मै जानता हूँ कि ये लेख कूछ अधिक लम्बा हो गया है और इसमें लिखी गयी सभी बातों को आप भी जानते होंगे, किन्तु फिर भी इन सब बातों को एक साथ पिरो कर आपके सामने लाना जरूरी था क्यों कि कूछ राष्ट्र विरोधी शक्तियां चर्चा के समय बहुत से ऊट पटांग सवाल कर सकती हैं, तथ्यों की मांग उनकी तरफ से होती रहती है, जहाँ तक हो सकता था मैंने बहुत कूछ लिख देने की कोशिश की है, इस लिये मैंने पूरा इतिहास ही लिख डाला। अब भी यदि किसी तथ्य की आवश्यकता है तो हम पुराने समय में नहीं जा सकते कि सब कूछ आप को सीधा प्रसारण दिखा सकें। आशा करता हूँ कि सभी प्रश्नों के उत्तर आपको मिल जाएंगे और फिर भी कूछ रह जाए तो मै उत्तर देने के लिये प्रस्तुत हूँ।
यह काला धन कैसा कहलाता है, वह समझाऊँ। यदि बाढ़ का पानी अपने घर में घुस जाए तो अपने को खुशी होती है कि घर बैठे पानी आया। तो जब वह बाढ़ का पानी उतरेगा तब पानी तो चला जाएगा, और फिर जो कीचड़ रहेगा, उस कीचड़ को धोकर निकालते-निकालते तेरा दम निकल जाएगा। यह कालाधन बाढ़ के पानी की तरह है, वह रोम-रोम में काटकर जाएगा। इसलिए मुझे सेठों से कहना पड़ा कि, ‘सावधानी से चलना।’
भारत की उभरती अर्थव्यवस्था ने कई ऐसे लोगों के सितारे बुलन्द किए, जो पहली बार बिजनेस में उतर रहे थे. आन्या गुप्ता ने उनसे लंबी बातचीत कर उनकी जिंदगियों का 'फर्स्ट पर्सन' ब्यौरा लिया और 'कैप्टनशिप 'नाम से किताब लिखी. ये सीरीज उन आत्मकथाओं का संक्षिप्त रूपांतर है. चित्र अनीता बालचंद्रन के हैं और प्रकाशन ब्लूम्सबरी का. मूल हिंदी अनुवाद भावना पांडेय का है.
सन १८३४ में अंग्रेज अधिकारी मैकॉले का भारत में आगमन हुआ। उसने अपनी डायरी में लिखा है कि ”भारत भ्रमण करते हुए मैंने भारत में एक भी भिखारी और एक भी चोर नहीं देखा। क्यों कि भारत के लोग आज भी इतने अमीर हैं कि उन्हें भीख मांगने और चोरी करने की जरूरत नहीं है और ये भारत वासी आज भी अपना घर खुला छोड़ कर कहीं भी चले जाते हैं इन्हें तालों की भी जरूरत नहीं है।” तब उसने इंग्लैण्ड जा कर कहा कि भार त को तो हम लूट ही रहे हैं किन्तु अब हमें कानूनन भारत को लूटने की नीति बनानी होगी और फिर मैकॉले के सुझाव पर भारत में टैक्स सिस्टम अंग्रेजों द्वारा लगाया गया। सबसे पहले उत्पादन पर ३५०%, फिर उसे बेचने पर ९०% । और जब और कूछ नहीं बचा तो मुनाफे पर भी टैक्स लगाया गया। इस प्रकार अंग्रजों ने भारत पर २३ प्रकार के टैक्स लगाए।

Book print ads| Online shopping | Matrimonial | Astrology | Jobs | Tech Community | Property | Buy car | Bikes in India | Free Classifieds | Send money to India | Used Cars | Restaurants in Delhi | Remit to India | Buy Mobiles | Listen Songs | News | TimesMobile | Real Estate Developers | Restaurant Deals in Delhi | Car Insurance | Gadgets Now | Free Business Listings | CouponDunia | Remit2India | Techradar | AliveAR | Getsmartapp App | ETMoney Finance App | Feedback | Auto

इसमें कोई शक नहीं सॉफ्टवेयर उद्योग दिन-ब-दिन बढ़ रही है. आप एक डेवलपर हैं तो आप आवेदन कार्यक्रमों बना सकते हैं और विभिन्न चैनलों पर बेच सकते हैं. आप जावा प्रोग्रामिंग ज्ञान पर पता करने की जरूरत, .जाल, सी # आदि. आप व्यापार के लिए Android अनुप्रयोगों को विकसित कर सकते हैं, शिक्षा, सांख्यिकी, ज्योतिष. आप Android अनुप्रयोगों और सॉफ्टवेयर उपकरण बना सकते हैं.


धनबाद, झरिया, गोविंदपुर में प्रदीप देवरालिया, कृष्ण गोपाल अग्रवाल, ओम प्रकाश डोकानिया, अतुल डोकानिया, अमित डोकानिया, रोहित शर्मा, योगेंद्र सिंह, अरुण कुमार सिंह, दो सीए सुमित कुमार सुल्तानियां (एस के सुल्तानिया एंड कंपनीज) तथा श्याम सुंदर साह शामिल हैं। दोनों चार्टर्ड एकाउंटेंट की भूमिका की टीम गंभीरता से जांच कर रही है। बताया गया कि पेपर कंपनियों के माध्यम से काले धन को सफेद करने से संबंधित कई दस्तावेज सीए के ठिकानों से मिले हैं। 50 से अधिक कंपनियों के दस्तावेज मिले हैं। देवरालिया एवं डोकानिया परिवार में कारोबारी साझेदारी के अलावा रिश्तेदारी भी है।  
यह एक और सबसे अच्छा ऑनलाइन व्यवसाय है जो किसी को भी शुरू कर सकते है. वहाँ की तरह कई स्वतंत्र साइटों रहे हैं Upwork, Fiverr, फ्रीलांसर जहां आप एक स्वतंत्र और बोली परियोजनाओं के रूप में शामिल हो सकते हैं. लेकिन अगर आप एक क्षेत्र पर कुछ विशेष कौशल की आवश्यकता है. सबसे फ्रीलांसरों और अधिक परियोजनाओं को पाने के लिए इतने सारे कौशल का उल्लेख है, लेकिन इस तरह से वे ठेके ढीला. बस क्या तुम नहीं, अपने प्रासंगिक sills में विशेषज्ञता रहे हैं उल्लेख.
उच्च प्रोफ़ाइल व्यक्तियों के हजारों जो अपने सामाजिक मीडिया प्रोफाइल का प्रबंधन करने के लिए समय नहीं है वहाँ रहे हैं. तुम अपनी खुद की एजेंसी शुरू और प्रबंध प्रोफाइल की सेवा प्रदान कर सकते हैं. क्योंकि अगर आप एक सामाजिक मीडिया प्रबंधक के रूप में वेतन से जुड़ने पर आप संतुष्ट नहीं हो सकता. लेकिन क्या आप फेसबुक जैसी विभिन्न सामाजिक मीडिया प्लेटफॉर्म पर अच्छा ज्ञान होना चाहिए, ट्विटर, लिंक्डइन आदि.

पैसे कमाने के लिए आपको कहीं जाने की जरूरत नहीं, आप घर बैठे भी कुछ आसान काम करके पैसा कमा सकते हैं। अपने फ्री टाइम में भी ये काम किए जा सकते हैं। इसके लिए आपके पास इंटरनेट और उसकी बेसिक नॉलेज होना जरूरी है। ऑनलाइन कमाई आपकी आमदनी बढ़ाने का एक शानदार जरिया है। इनमें से 3 पॉपुलर तरीकों की जानकारी हम आपको दे रहे हैं, जिनसे घर बैठे मोटी कमाई की जा सकती है। इसके लिए इंटरनेट पर कुछ वेबसाइट्स आपको पार्ट टाइम और फुल टाइम दोनों तरह से काम मुहैया कराती हैं। 


पछिल्लो समय आर्थिक गतिविधिमा आएको सुधारका कारण रोजगारी, उत्पादन तथा उत्पादकत्व बढ्दा प्रतिव्यक्ति आयमा सुधार आएको पूर्व अर्थसचिव डा. शान्तराज सुवेदीले बताए । ‘नेपालीको औसत आय बढ्नुमा पुनर्निर्माण, ठूला तथा राष्ट्रिय गौरवका आयोजनाका निर्माणले लिएको गति, सरकारी खर्चमा भएको बढोत्तरीले नेपालको कुल गार्हस्थ उत्पादन बढ्न जाँदा त्यसको प्रभाव प्रतिव्यक्ति आयमा देखियो’, पूर्व अर्थसचिव डा. सुवेदीले अन्नपूर्णसँग भनेका छन्, ‘पछिल्लो समय विद्युत् आपूर्ति बढ्न जाँदा उद्योग क्षेत्रको उत्पादन बढ्नुका साथै निर्माणमा प्रगति हुँदै गएको छ ।’
ये कोई मजाक नहिं है. आप चाहे तो आसानी से online यानि Internet से पैसे कमा सकते है. दुनिया में ऐसे लाखो करोड़ों लोग है जो घर बैठे पैसे कमा रहे है. ना उनको बाहर जाना पड़ता है, ना ही किसीके निचे काम करना पड़ता है. पर इसके लिए भी कुछ talent यानि कला की जरुरत है. ऐसा नहिं है के आपके पास कोई talent नहिं है, उपरवाला हर किसीको कुछ ना कुछ talent दे कर धरती पे भेजता है. आपके पास जो talent है, आप उसके जरिये आसानी से पैसे कमा सकते है. बस आपको उसको पहचानने की जरुरत है.
तो मित्रो इसका उत्तर यहाँ से मिलता है। उस समय अफ्रीका और लैटिन अमरीका तक व्यापार का काम दो देशों चीन और भारत से होता था। आप सब जानते ही होंगे कि अफ्रीका दुनिया का सबसे बड़ा स्वर्ण उत्पादक क्षेत्र रहा है और आज भी है। इसके अलावा अफ्रीका की चिकित्सा पद्धति भी अद्भुत रही है। सबसे ज्यादा स्वर्ण उत्पादन के कारण अफ्रीका भी एक बहुत अमीर देश रहा है। अंग्रेजों द्वारा दी गयी ४५० साल की गुलामी भी इस देश से वह गुण नहीं छीन पायी जो गुण प्रकृति ने अफ्रीका को दिया। अंग्रेजों ने अफ्रीका को न केवल लूटा बल्कि बर्बरता से उसका दोहन किया। भारत और अफ्रीका का करीब ३००० साल से व्यापारिक सम्बन्ध रहा है। भौगोलिक दृष्टि से समुद्र के रास्ते दक्षिण एशिया से अफ्रीका या लैटिन अमरीका जाने के लिये इंग्लैण्ड के पास से निकलना पड़ता था। तब इंग्लैण्ड वासियों की नज़र इन जहाज़ों पर पड़ गयी। और आप जानते होंगे कि इंग्लैण्ड में कूछ नही था, लोगों का काम लूटना और मार के खाना ही था, ऐसे में जब इन्होने देखा कि माल और सोने भरे जहाज़ भारत जा रहे हैं तो इन्होने जहाज़ों को लूटना शुरू किया। किन्तु अब उन्होंने सोचा कि क्यों न भारत जा कर उसे लूटा जाए।।। तब कूछ लोगों ने मिल कर एक संगठन खड़ा किया और वे इंग्लैण्ड के राजा रानी से मिले और उनसे कहा कि हम भारत में व्यापार करना चाहते हैं हमें लाइसेंस की आवश् यकता है। अब राज परिवार ने कहा कि भारत से कमाया गया धन राज परिवार, मंत्रिमंडल, संसद और अधीकारियों में भी बंटेगा। इस समझौते के साथ सन १७५० में थॉमस रो ईस्ट इण्डिया कम्पनी के नाम से जहांगीर के दरबार में पहुंचा और व्यापार करने की आज्ञा मांगी। और तब से १९४७ तक क्या हुआ है वह तो आप भी जानते है।
The company enjoyed another milestone moment in February 2018 with the successful test launch of the powerful Falcon Heavy rocket. Armed with additional Falcon 9 boosters, the Falcon Heavy was designed to carry immense payloads into orbit and potentially serve as a vessel for deep space missions. For the test launch, the Falcon Heavy was given a payload of Musk's cherry-red Tesla Roadster, equipped with cameras to "provide some epic views" for the vehicle's planned orbit around the sun.
टाटा स्टाइल में आप पैसे से पैसा तो कमा सकते हैं, लेकिन 2 को 4 ही कर सकते हैं। अगर आपको अपना पैसा 2 से 10 करना है और वह भी फटाफट, तो आपको अंबानी स्टाइल में काम करना होगा। पहले स्टाइल में पैसा कमाना जरूरी तो होता है, लेकिन थोड़...ी ईमानदारी के साथ। अब तक टाटा का नाम सिर्फ माओवादियों को लेवी देने के लिए खराब हुआ है। जबकि दूसरे स्टाइल की खासियत यह है कि बस पैसा आना चाहिए। कैसे आ रहा है, यह नहीं देखा जाता! इस थ्योरी में माना जाता है कि पैसा कमाने के रास्ते में आने वाली बाधाओं को पैसे से ही साफ किया जा सकता है और ऐसा करने में कोई बुराई भी नहीं है। शायद यही वजह है कि टाटा आज भी टाटा ही हैं, जबकि अंबानी दुनिया के धन्ना सेठों की लिस्ट में बिल गेट्स को टक्कर देते हैं।
क्यूबर आपको ऑनलाइन शॉपिंग पर कैशबैक का उल्लेख करने और अर्जित करने देता है जो आप करते हैं। आपको बस उस वेबसाइट का चयन करना है, जिसके माध्यम से आप क्यूबर आवेदन से खरीदारी करना चाहते हैं और आपको उस वेबसाइट पर पुनर्निर्देशित किया जाएगा या एक आवेदन जहां आप अपनी पसंद के उत्पाद खरीद सकते हैं। उसी के लिए कैशबैक जल्द ही आपके क्यूबर वॉलेट में जमा कर दिया जाएगा।
×