16 इसलिए तुम एक-दूसरे के सामने खुलकर अपने पाप मान लो और एक-दूसरे के लिए प्रार्थना करो, ताकि तुम अच्छे हो जाओ। जब नेक इंसान प्रार्थना में मिन्‍नतें करता है और जब ये प्रार्थनाएँ सुनी जाती हैं, तो उनका ज़बरदस्त असर हो सकता है। 17 एलिय्याह भी हमारे जैसी भावनाएँ रखनेवाला इंसान था, और फिर भी जब उसने प्रार्थना में बिनती की कि बारिश न हो, तो देश पर साढ़े तीन साल तक बारिश नहीं हुई। 18 और जब उसने फिर प्रार्थना की, तो आकाश से बारिश हुई और धरती ने अपनी पैदावार दी।
आप कोई भी goal सेट कर उससे पहले , author ने अपने आपसे एक question  पूछने के लिए कहा है। question :- " Are My Goal Equals To My Potentials ?”  author की मुताबिक हम खुद ही नहीं जानते की हमारा potential  कितना ज़्यदा है ? इसलिए वो हमें suggest करते है अब जो हमें हमारा highest potential   लग रहा  है उस्से 10 से multiply करके , उसके मुताबिक हमें Goal सेट करना चाहिए।  काफी समय क्या होता है , हम ऐसे goal सेट कर लेते है जो  हमारे potential को बिलकुल भी match नहीं करता है।  इस problem  की solution के तोर पर author कहते है  की हम सबको सबसे पहले 1 year के मुताबिक एक बड़ा goal सेट करना होगा ,जो हमारे potential   के मुताबिक हो , उसके बाद उसको 10 से multiply  करके फिर उसको target बनाना है।  उसके बाद archive करने के लिए हर month के मुताबिक और finally हर दिन में कितना प्रोग्रेस करना चाहिए , उस हिसाब से चलना चाहिए।    
सुन तस्करीका घटना पछिल्लो समय वृद्धि हुँदै गएका छन् । यसमाथि सरकारले अनुसन्धान बढाउँदै लगेपछि नयाँ–नयाँ रहस्यहरु सतहमा आएका छन् । बढ्दो सुन तस्करीलाई आज कान्तिपुर दैनिक र नयाँ पत्रिकाले केलाएका छन् । ‘सुन तस्करीको लहरो’ शीर्षकको मूल समाचारमा कान्तिपुरले लेखेको छ– उच्च प्रहरी अधिकारीसहित २० जनालाई पक्राउ गरी अनुसन्धान गरिरहेको विशेष समितिले घटना खोतल्दै जाँदा संगठित जालो क्रमशः खुल्दै गइरहेको छ ।’
इसमें कोई शक नहीं सॉफ्टवेयर उद्योग दिन-ब-दिन बढ़ रही है. आप एक डेवलपर हैं तो आप आवेदन कार्यक्रमों बना सकते हैं और विभिन्न चैनलों पर बेच सकते हैं. आप जावा प्रोग्रामिंग ज्ञान पर पता करने की जरूरत, .जाल, सी # आदि. आप व्यापार के लिए Android अनुप्रयोगों को विकसित कर सकते हैं, शिक्षा, सांख्यिकी, ज्योतिष. आप Android अनुप्रयोगों और सॉफ्टवेयर उपकरण बना सकते हैं.
मैंने जो भी तरीके आप लोगों से share करी वो सारे काम में ला सकने वाले तरीके हैं. पर जो याद रखने वाली बात हैं वो ये है की सबसे पहले Page को अच्छे तरीके से बनाने की सोचो फिर उससे कमाने की. आपका मकसद ये होना चाहिए की कैसे आप बेहतर से बेहतर जानकारी लोगों तक पहुंचाएं और न की सिर्फ advertisement links share करें. क्यूंकि लोगों को मुर्ख समझने की गलती न करो, उन्हें आपसे ज्यादा समझ है. जब तक आप अच्छे content publish करते रहोगे तब तक वो आपसे जुड़े रहेंगे और जब उन्हें लगा की आप और quality content publish नहीं कर रहे हो तब वो भी आपको छोड़ किसी दुसरे Page के तरफ रुख करेंगे.
और आज इन्ही काले अंग्रेजों की संताने आज हम पर शाशन कर रही हैं। वरना क्या वजह है कि मध्य प्रदेश के इंदौर शहर में नयी दुनिया नामक एक अखबार की पुस्तक का विमोचन करने पहुंचे चिताम्बरम ने यह कहा कि भारत तो हज़ारों वर्षों से भयंकर गरीब देश है। और इन्ही काले अंग्रेजों की एक और संतान हमारे प्रधान मंत्री जी हैं। जब ये प्रधान मंत्री बनने के बाद पहली बार ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय गए तो वहां उन्हà ��ंने कहा कि भारत तो सदियों से गरीब देश रहा है, ये तो भला हो अंग्रेजों का जिन्होंने आकर हमें अँधेरे से बाहर निकाला, हमारे देश में ज्ञान का सूरज लेकर आये, हमारे देश का विकास किया आदि आदि। अगले दिन लन्दन के सभी बड़े बड़े अखबारों में हैडलाइन छपी थी की भारत शायद आज भी मानसिक रूप से हमारा गुलाम है। और ये वही काले अंग्रेज हैं जो खुद तो देश का पैसा स्विस बैंक में जमा करते गए किन्तु गुजरात जैसे प्रदेश में भी विकास करने वाले नरेन्द्र भाई मोदी पर पता नहीं क्या क्या घटिया आरोप लगाते रहे। मानसिक गुलामी की बाढ़ इतनी आगे बढी कि हमारा मीडिया भी उसमे गोते खाने लगा। देश पर २०० साल तक राज़ करने वाली ईस्ट इण्डिया कम्पनी को एक भारतीय उद्योगपति संजीव मेहता ने १५० लाख डॉलर मूल्य देकर खरीद लिया, जिस कम्पनी ने भारत को २०० साल गुलाम बनाया वह कम्पनी आज एक भारतीय की गुलाम हो गयी है, किन्तु देश के किसी भी चैनल पर इसे नहीं देखा गया क्यों कि हमारा टीआरपी पसाद मीडिया तो उस समय सानिया शोएब की कथित प्रेम कहानी को कवर करने में बिजी था न, उस समय देश से ज्यादा शायद ये दो प्रेम के पंछी मीडिया के लिये जरूरी थे।
नमस्कार दोस्तों, मैं Prabhanjan, HindiMe(हिन्दीमे) का Technical Author & Co-Founder हूँ. Education की बात करूँ तो मैं एक Enginnering Graduate हूँ. मुझे नयी नयी Technology से सम्बंधित चीज़ों को सीखना और दूसरों को सिखाने में बड़ा मज़ा आता है. मेरी आपसे विनती है की आप लोग इसी तरह हमारा सहयोग देते रहिये और हम आपके लिए नईं-नईं जानकारी उपलब्ध करवाते रहेंगे. :) #We HindiMe Team Support DIGITAL INDIA
इन्टरनेट से पैसे कमाने के लिए आपके ज्ञान ही जरुरी नहीं है अगर आपके पास कुछ अच्छा और अलग टैलेंट है तो आप इन्टरनेट से नाम भी कमा सकते है पोपुलर बन सकते और पैसे भी कमा सकते है आज कल बहोत सारे लोग यही काम कर रहे है इन्टरनेट सिर्फ जानकारी लेने के लिए नहीं बना है यहाँ पर आप अपने टैलेंट जैसे ऑनलाइन कुछ भी कर जैसे डांस सिखा के लोगो को पढ़ा के , गाना सुनाके लोगो को एंटरटेन करके भी अपने नाम कमा सकते है और सेलेब्रिटी भी बन सकते है और साथ ही साथ पैसे भी कमा सकते है तो आइये जान लेते है इंटरनेट से पैसे कमाने के अलग अलग तरीके.
×