शेयर बाजार के अलावा मैं आपको यहाँ हिंदी में बताऊंगा बीमा, निवेश और म्यूच्यूअल फण्ड के बारे में भी. इसके आलावा जानिये टैक्स बचाने के तरीके. साथ ही पैसा बचाने के तरीके और फाइनेंस जगत की तमाम छोटी बड़ी जानकारियाँ हिंदी में. शेयर बाज़ार में निवेश करने का सबसे आसान तरीक़ा है म्यूचूअल फ़ंड के ज़रिए निवेश करना। यहाँ हमारा अलग से पूरा एक वर्ग म्यूचूअल फ़ंड्ज़ को समझने और उनके बारे में जानकारी देने का भी है। Share Market in Hindi  के अलावा पर्सनल फ़ाइनैन्स, टैक्स बचत, रेटायरमेंट और पैसा बचाने के टिप्स भी दिए जाएँगे।

Hi friends : आज में आप लोगो को इस Post के माध्यम से घर बैठे Online पैसे कमाने का सबसे आसान तरीका बताने जा रहा हूँ | जिससे आप इस Technology की दुनिया में Internet द्वारा Online पैसे कमा सकते है | जैसाकि आप ये जानते ही होंगे | कि आज के समय में internet का उपयोग कितना बढता जा रहा है | और आज कल हमारे सभी काम Internet से ही होते है | जैसे Net Banking से हम Mobile Recharge, Online Shopping आदि जैसे और भी बहुत सारे काम कर सकते हैं |
10 क्योंकि जो कोई मूसा के सारे कानून का पालन करता है, मगर सिर्फ एक ही आज्ञा को तोड़ता है, तो वह सारे कानून को तोड़ने का कसूरवार ठहरता है। 11 क्योंकि जिस परमेश्‍वर ने यह कहा: “तू शादी के बाहर यौन-संबंध न रखना,” उसी ने यह भी कहा: “तू खून न करना।” इसलिए अगर तू ने शादी के बाहर यौन-संबंध नहीं रखे, मगर तू ने खून किया, तो तू कानून को तोड़ने का गुनहगार ठहरा। 12 तुम उन लोगों की तरह बोलो और उन लोगों की तरह काम करते रहो, जिनका न्याय आज़ाद लोगों के कानून के मुताबिक होनेवाला है। 13 क्योंकि जो दया नहीं दिखाता उसका न्याय भी बिना दया दिखाए किया जाएगा। दया, दंड पर जीत हासिल करती है।
Filed Under: Make Money Online Tagged With: earn money online free, earn money online from home, earn money online without investment, how to make money online without investment data entry, make money online, make money online free, make money online without investment, make money online without investment easy way, make money online without investment in hindi, ऑनलाइन पैसे कमाने का तरीका, घर बैठे पैसे कमाने के उपाय, घर बैठे बिजनेस, घर बैठे रोजगार, पैसा कमाने के आसान तरीके, पैसा कमाने के सरल उपाय
इस तरीके का इस्तमाल करके भी आप बहुत सारे पैसे YouTube से कमा सकते हो और वो भी बहुत ही कम समय में. इसके लिए आपको कोई भी अच्छा एक Product चुनना होगा, फिर उसे इस्तमाल कर उसके ऊपर एक Review video बनाना होगा और उसके बाद उसकी Purchase link देनी होगी description में जिससे की आपके Viewers उसे खरीद सकें और जिसके की आपको Purchase के हिसाब से commission मिलती है.
के ऊपर बोकर हिलदक्षिण में कंबोडिया एक बार-घूमने वाले होटल, ग्लैमरस कैसीनो, कैथोलिक चर्च और विभिन्न शाही निवासों के टुकड़े टुकड़े करने वाले खंडहर खड़े हो जाओ। रिसॉर्ट का निर्माण अमीर फ्रांसीसी उपनिवेशवादियों और कंबोडिया के अभिजात वर्ग के लिए 1920s में गर्मी से बचने और देश भर में समुद्र और उससे बाहर के व्यापक विचारों का आनंद लेने के लिए किया गया था। बहुत से लोग कहते हैं कि रिज़ॉर्ट शुरू से ही बर्बाद हो गया था क्योंकि अफवाहें दावा करती हैं कि 1,000 पुरुषों पर रिसॉर्ट बनाने के लिए नौ महीने में तीव्र श्रम के कारण मृत्यु हो गई थी। हालांकि 1972 में जंगली दलों और जुआ एक अचानक अंत में आए जब खमेर रूज ने इस क्षेत्र को संभाला। बोकोर हिल एक प्रमुख युद्ध मैदान बन गया और खमेर रूज ने इसे 1990s में अच्छी तरह से गढ़ के रूप में रखा।
अमीर लोग 50 फीसदी पैसे बचाते हैं. बाकी 50 फीसदी वहां निवेश कर रहे हैं जहां आपको अच्छे रिटर्न मिले. “क्या आपको पता है यदि आप निवेश साधन में तीस साल के लिए 800 रुपये प्रति माह मासिक नेटफ्लिक्स चार्ज को बचाते हैं और निवेश करते हैं जो सालाना 15 प्रतिशत देता है, तो आप 55 लाख रुपये जमा कर सकते हैं? यह बुद्धिमानी से निवेश करने का तरीका है. यदि आपकी आयु 30 वर्ष से कम हैं, तो इक्विटी/स्टॉक-लिंक्ड उत्पादों में अपनी बचत का एक बड़ा हिस्सा निवेश करें. ऋण केवल आपकी बचत का एक छोटा सा हिस्सा होना चाहिए.  म्यूचुअल फंड के माध्यम से, आप अपनी बचत को विभिन्न प्रकार के फंडों में फैला सकते हैं. सोने के लिए 5 फीसदी एक्सपोजर लें. 5 से 10 साल की अवधि के साथ रियल एस्टेट में निवेश न करें, और बेहतर विकल्प हैं, रेगो कहते हैं.
YouTube के बारे में कौन नहिं जानता. फिर भी जानकारी केलिए बता देता हूँ के ये world का 3rd most popular website है, जहाँ हर रोज millions views होते है. जो ये नहिं जानते में उन्हें बताना चाहूँगा के YouTube एक बेहतर जरिया है पैसे कमाने का. Content लिखने को Blogging कहते है और Video के जरिये पैसे कमाने को Vlogging कहते है. Vlogging यानि video blogging. मैंने पहले भी Blogging vs Vlogging के बारे में एक post लिखा था, आप चाहे तो उसे पढ़ सकते हैं. इसमें भी आपके पास दो चीजों का होना बहुत जरुरी है.
माध्यमिक शिक्षा परिषद में सभी स्कूलों को ऑनलाइन करने की प्रक्रिया चल रही है। स्कूलों में सृजित पदों के सापेक्ष शिक्षकों व शिक्षणेत्तर कर्मचारियों की नियुक्ति, मान्यता, भवन आदि से संबंधित डाटा ऑनलाइन किया जा रहा है। प्रमुख सचिव के निर्देशों पर 25 जून तक यह कार्य पूर्ण किया जाना है। माध्यमिक शिक्षा परिषद ने इसके लिए वेबसाइट एचटीटीपी://स्कूल्स डॉट आरएमएसए-यूपी डॉट इन शुरू की है। मगर, डाटा ऑनलाइन करने में स्कूल रुचि नहीं दिखा रहे। गुरुवार तक कुछ स्कूलों ने ही वेबसाइट पर अपना ब्यौरा ऑनलाइन किया था। इंटर की मार्कशीट आने के बाद तय समय पर यह कार्य पूर्ण करने को माध्यमिक शिक्षा परिषद ने बीच का रास्ता निकाला है। विभाग स्कूलों को मार्कशीट नहीं दे रहा है। उन्हें पहले वेबसाइट पर अपने स्कूल से संबंधित जानकारी अपलोड करने को कहा जा रहा है। इसकी प्रति जमा करने पर उन्हें मार्कशीट दी जाएगी।

थॉमस रो ने सबसे पहले सूरत के एक महल नुमा घर को लूटा जो आज भी मौजूद है। फिर पड़ोस के गाँव में और फिर और आगे। खाली हाथ आये इन अंग्रजों के पास जब करोड़ों की संपत्ति आई तो इन्होने अपनी खुद की सेना बनायी। उसके बाद सन १७५७ में रोबर्ट क्लाइव बंगाल के रास्ते भारत आया उस समय बंगाल का राजा सिराजुद्योला था। उसने अंग्रेजों से संधि करने से मना कर दिया तो रोबर्ट क्लाइव ने युद्ध की धमकी दी और केवल ३५० अंग्रेज सैनिकों के साथ युद्ध के लिये गया। बदले में सिराजुद्योला ने १८००० की सेना भेजी और सेनापति बनाया मीर जाफर को। तब रोबर्ट क्लाइव ने मीर जाफर को पत्र भेज कर उसे बंगाल की राज गद्दी का लालच देकर उससे संधि कर ली। रोबर्ट क्लाइव ने अपनी डायरी में लिखा था कि बंगाल की राजधानी जाते हुए मै और मीर जाफर सबसे आगे, हमारे पीछे मेरी ३५० की अंग्रेज सेना और उनके पीछे बंगाल की १८००० की सेना। और रास्‍ते में जितने भी भारतीय हमें मिले उन्होंने हमारा कोई विरोध नहीं किया, उस समय यदि सभी भारतीयों ने मिल कर हमारा विरोध किया होता या हम पर पत्थर फैंके होते तो शायद हम कभी भारत में अपना साम्राज्य नहीं बना पाते। वो डायरी आज भी इंग्लैण्ड में है। मीर जाफर को राजा बनवाने के बाद धोखे से उसे मार कर मीर कासिम को राजा बनाया और फिर उसे मरवाकर खुद बंगाल का राजा बना। ६ साल लूटने के बाद उसका स्थानातरण इंग्लैण्ड हुआ और वहां जा कर जब उससे पूछा गया कि कितना माल लाये हो तो उसने कहा कि मै सोने के सिक्के, चांदी के सिक्के और बेश कीमती हीरे जवाहरात लाया हूँ। मैंने उन्हें गिना तो नहीं किन्तु इन्हें भारत से इंग्लैण्ड लाने के लिये मुझे ९०० पानी के जहाज़ किराये पर लेने पड़े। अब सोचो एक अकेला रोबर्ट क्लाइव ने इतना लूटा तो भारत में उसके जैसे ८४ ब्रीटिश अधीकारी आये जिन्होंने भारत को लूटा। रोबर्ट क्लाइव के बाद वॉरेन हेस्टिंग्स नामक अंग्रेज अधीकारी आया उसने भी लूटा, उसके बाद विलियम पिट, उसके बाद कर्जन, लौरेंस, विलियम मेल्टिन और न जाने कौन कौन से लुटेरों ने लूटा। और इन सभी ने अपने अपने वाक्यों में भारत की जो व्याख्या की उनमे एक बात सबमे सामान है। सबने अपने अपने शब्दों में कहा कि भारत सोने की चिड़िया नहीं सोने का महासागर है। इनका लूटने का प्रारम्भिक तरीका यह था कि ये किसी धनवान व्यक्ति को एक चिट्ठी भेजते थे जिसमे एक करोड़, दो करोड़ या पांच करोड़ स्वर्ण मुद्राओं की मांग करते थे और न देने पर घर में घुस कर लूटने की धमकी देते थे। ऐसे में एक भारतीय सोचता कि अभी नहीं दिया तो घर से दस गुना लूट के ले जाएगा अत: वे उनकी मांग पूरी करते गए। धनवानों के बाद बारी आई देश के अन्य राज्यों के राजाओं की। वे अन्य राज परीवारों को भी ऐसे ही पत्र भेजते थे। कूछ राज परिवार जो कायर थे उनकी मांग मान लेते थे किन्तु कूछ साहसी लोग ऐसे भी थे जो उन्हें युद्ध के लिये ललकारते थे। फिर अंग्रेजों ने राजाओं से संधि करना शुरू कर दिया।

गुरुवार को प्रेसवार्ता के दौरान जानकारी देते हुए एसपी डॉ सत्यप्रकाश ने बताया कि बुधवार की सुबह बारुण ओवरब्रिज के समीप डेहरी के व्यवसायी संजीत कुमार जायसवाल की स्कार्पियो लूटने के उद्देश्य से गोली मारकर हत्या कर दी थी. पूछताछ के क्रम में बताया है कि इस घटना में श्रवण पासवान व अमित सिंह भी शामिल थे. स्कार्पियो को लूट कर रांची में ले जाना था और वहां पर किसी बड़े आदमी का अपहरण कर फिरौती की वसूली करनी थी.
11. ऑनलाइन बिक्रीः ऐसे कई लोग हैं जो अपने प्रॉडक्ट को ईबे, अमेजन, फ्लिपकार्ट जैसी बड़ी शॉपिंग वेबसाइट्स पर बेचकर लाखों कमा रहे हैं. आपको सिर्फ एक अच्छा प्रॉडक्ट चाहिए, इसके बाद ऐसी किसी भी साइट पर साइनअप करें, अपने प्रॉडक्ट को प्राइस के साथ लिस्ट करें और बेचना शुरू कर दें. आपको किसी से बात करने की भी जरूरत नहीं. आपको ऑर्डर मेलबॉक्स के जरिए मिल जाएगा और कुरियर कंपनी के जरिए उसे डिलिवर कर दें, बस.
नमस्कार दोस्तों, स्वागत है आपका सक्सेस इन हिंदी के मंच पर इस पोस्ट में हम आपको बताने जा रहे हैं कैसे आप इंटरनेट की दुनिया में पैसे कमा सकते हैं वो भी बिना किसी इन्वेस्टमेंट के, वैसे तो इंटरनेट की दुनिया से पैसे कमाने के तरीकों के बारे में बहुत सारे लोग पहले से ही जानते हैं किन्तु ऐसे अभी बहुत सारे लोग हैं जिन्हें इसके बारे में जानकारी नहीं है. यह पोस्ट हमने आज उन्हीं लोगों के लिए लिखी है जो इंटरनेट की दुनिया में पैसे कमाना चाहते हैं और अभी उनके पास जानकारी नहीं है की कैसे कमाए ऑनलाइन पैसा.
अमीर होने का मतलब यह है कि आप किसी भी ऋण से मुक्त हैं. अधिकांश अमीर लोग अपने माथे कोई व्यक्तिगत ऋण नहीं लेते हैं. उद्योगपतियों में से कोई भी, जो अन्यथा ऋण से भरे कंपनियों को चलाता है, को व्यक्तिगत रूप से दिवालिया घोषित किया जाता है. लेकिन एक आम आदमी कर्ज लेता है क्योंकि उनके पास अब खर्च करने के लिए पैसा नहीं है. जब आप पैसे खर्च करना चाहते हैं और आपके पास पैसे ना हों तो आपको ऋण की जरुरत होती है. इसलिए, आप अपनी भविष्य की आय उधार लेते हैं और उस आय को भारी ब्याज के साथ चुकाते हैं. यदि आप कमाने से ज्यादा चुकाते हैं, तो आप कभी भी अमीर कैसे होंगे? ऋण या खर्च हमारी आय की शक्ति को दूर कर देते हैं क्योंकि अंत में वे बैंक या वित्तीय संस्थान के खाते में जमा हो जाते हैं. यदि आप 15 साल के लिए हर महीने 20,000 EMI का भुगतान करते हैं, तो आप 36 लाख रुपये का भुगतान करने में असमर्थ हैं. यदि आप कर्ज लेते हैं, तो आप कभी भी अमीर नहीं होंगे.
आप कोई भी goal सेट कर उससे पहले , author ने अपने आपसे एक question  पूछने के लिए कहा है। question :- " Are My Goal Equals To My Potentials ?”  author की मुताबिक हम खुद ही नहीं जानते की हमारा potential  कितना ज़्यदा है ? इसलिए वो हमें suggest करते है अब जो हमें हमारा highest potential   लग रहा  है उस्से 10 से multiply करके , उसके मुताबिक हमें Goal सेट करना चाहिए।  काफी समय क्या होता है , हम ऐसे goal सेट कर लेते है जो  हमारे potential को बिलकुल भी match नहीं करता है।  इस problem  की solution के तोर पर author कहते है  की हम सबको सबसे पहले 1 year के मुताबिक एक बड़ा goal सेट करना होगा ,जो हमारे potential   के मुताबिक हो , उसके बाद उसको 10 से multiply  करके फिर उसको target बनाना है।  उसके बाद archive करने के लिए हर month के मुताबिक और finally हर दिन में कितना प्रोग्रेस करना चाहिए , उस हिसाब से चलना चाहिए।    
‘ऑनेस्टी इज़ द बेस्ट पोलिसी’ रखनी चाहिए। लेकिन यह वाक्य अब बेअसर हो गया है। इसलिए अब से हमारा नया वाक्य रखना, ‘डिसओनेस्टी इज़ द बेस्ट फूलिशनेस’। वह पहलेवाला पॉज़िटिव वाक्य लिखकर तो लोग घनचक्कर हो गए हैं। ‘बीवेयर ऑफ थीव्ज़’ का बोर्ड लिखा है, फिर भी लोग लुट गए तो फिर बोर्ड किस काम का? फिर भी लोग यह ‘ऑनेस्टी इज़ द बेस्ट पोलिसी’ का बोर्ड लगाते हैं, फिर भी ऑनेस्टी रह नहीं पाती। तो वह बोर्ड किस काम का? अब तो नये शास्त्रों की और नये सूत्रों की ज़रूरत है। इसलिए हम कहते हैं कि, ‘डिसऑनेस्टी इज़ द बेस्ट फूलिशनेस’ का बोर्ड लगाना।
Internet पर बहुत सारी ऐसी Website है, Online Income करके पैसे कमा सकते हैं । मैं नहीं कहता कि उनमें से सभी स्कैम(घोटाला) होते हैं, लेकिन विश्वास के लिए उनमें से बहुत से Scam होते हैं। उनमें से कुछ कंपनियां हिट और रन होती है। जिसका Payment प्राप्त करने के इंतजार में रह जाएंगे। पैसे के लिए शॉर्टकट जैसी कोई चीज नहीं होती, परंतु हां, कुछ ऐसे आसान तरीके हैं जैसे, Affiliate Marketing से पैसे कमाना, चीजें बेचना, Servey Form भरना, Captcha Code solver से कमाना, Facebook, Instagram से Income करना, ऐसे और भी बहुत सारी चीजें हैं जिसे अच्छी कमाई कर सकते हैं परंतु जब भी आप कोई भी Website पर काम करे तो उसका review और फीडबैक जरूर पढ़ें अन्यथा आप Online Scam के शिकार हो सकते हैं।
×