फोटो स्टॉक रखने वाली वेबसाइट भी आपके ऑनलाइन कमाई का जरिया बन सकती है। दुनिया भर में www.shutterstock.com ,www.shutterpoint.com और www. istockphoto.com जैसी कई वेबसाइट फोटो खरीदकर उसका भुगतान करती हैं। इन कंपनियों से टाइअप करके आप मंथली बेसिस पर कमाई कर सकते हैं। कंपनियां प्रोजेक्ट के तौर पर भी आपको असाइनमेंट देती हैं। मेंबर को फोटो वेबसाइट पर सब्मिट करना होता है। इसके बाद साइट की पॉलिसी के अनुसार आपको 15 से 85 फीसदी तक रॉयल्टी मिलती है। इसमें लाखों रुपए तक की कमाई संभव है।
4 तुम्हारे बीच लड़ाइयाँ और झगड़े कहाँ से आए? क्या इनकी जड़ तुम्हारे ही अंदर नहीं? क्या ये शरीर का सुख पाने की तुम्हारी ज़बरदस्त लालसाओं की वजह से नहीं, जो तुम्हारे अंगों में लगातार युद्ध करती रहती हैं? 2 तुम चाहते तो हो, फिर भी तुम्हें मिलता नहीं। तुम खून करते और लालच करते हो, और फिर भी हासिल नहीं कर पाते। तुम लड़ाइयाँ और युद्ध करते रहते हो। तुम्हारे पास इसलिए नहीं है, क्योंकि तुम माँगते नहीं। 3 तुम माँगते तो हो, और फिर भी नहीं पाते, क्योंकि तुम गलत इरादे से माँगते हो ताकि तुम इसे शरीर का सुख पाने की लालसाओं पर उड़ा दो।
हेलो दोस्तों, मेरा नाम एस. के. सिन्हा है. मुझे ऑनलाइन डिजिटल मार्केटिंग तथा कर्रेंट न्यूज़ के बारे में पढ़ना और लोगो को बताना पसंद है. किसी नॉलेज का सबसे अच्छा इस्तेमाल यही है की उसे सीखो और दुसरो तक पंहुचा दो. हम यह यही करेंगे. अब जैसे जैसे इंटरनेट का इस्तेमाल बढ़ रहा है वैसे ही इंडिया भी डिजिटल होता जा रहा है. तो हम भी कुछ सीखेंगे कुछ सिखाएगे, इंडिया को थोड़ा और डिजिटल तथा युवाओ को ससकत बनायगे.
ऐसे बहुत सारे लोग हैं जो अपनी website या blog बनाकर बहुत सारा पैसा कमाना चाहते हैं, लेकिन बहुत से लोगों के मन में कुछ सवाल आते हैं जैसे blog बनाने के लिए कितने पैसे खर्च करने पड़ेंगे ? Website बनाने में कितना खर्चा आता है ? Blog बनाने के लिए कितने पैसे चाहिए ? Website बनाने में कितना पैसा लगता है ? Blog या website बनाने में कितना पैसा लगता है ? इस तरह के सभी सवालों के जवाब आपको इस पोस्ट में मिल जाएंगे।

टाटा स्टाइल में आप पैसे से पैसा तो कमा सकते हैं, लेकिन 2 को 4 ही कर सकते हैं। अगर आपको अपना पैसा 2 से 10 करना है और वह भी फटाफट, तो आपको अंबानी स्टाइल में काम करना होगा। पहले स्टाइल में पैसा कमाना जरूरी तो होता है, लेकिन थोड़...ी ईमानदारी के साथ। अब तक टाटा का नाम सिर्फ माओवादियों को लेवी देने के लिए खराब हुआ है। जबकि दूसरे स्टाइल की खासियत यह है कि बस पैसा आना चाहिए। कैसे आ रहा है, यह नहीं देखा जाता! इस थ्योरी में माना जाता है कि पैसा कमाने के रास्ते में आने वाली बाधाओं को पैसे से ही साफ किया जा सकता है और ऐसा करने में कोई बुराई भी नहीं है। शायद यही वजह है कि टाटा आज भी टाटा ही हैं, जबकि अंबानी दुनिया के धन्ना सेठों की लिस्ट में बिल गेट्स को टक्कर देते हैं।

अगर आप आजीविका चलाने के लिए नौकरी करते हैं और आपको यह उम्मीद नहीं है कि वह नौकरी आपको अमीर बनाएगी, तब आप ज़रूर उस काम से प्रेम करते होंगे, है ना ? नहीं, यह कोई चालाकी भरा सवाल नहीं है। यह तो हमारी महत्वाकांक्षाओं की प्राथमिकता तय करने के बारे में है। अगर हम सिर्फ़ पैसे की खातिर काम करते हैं, तो इसमें समझदारी लगती है कि हम ज़्यादा से ज़्यादा कमाएँ, जितना हम कमा सकते हैं, जितना हम चाहते हैं।


इकनॉमिक टाइम्स| ઈકોનોમિક ટાઈમ્સ | Pune Mirror | Bangalore Mirror | Ahmedabad Mirror | ItsMyAscent | Education Times | Brand Capital | Mumbai Mirror | Times Now | Indiatimes | नवभारत टाइम्स | महाराष्ट्र टाइम्स | ವಿಜಯ ಕರ್ನಾಟಕ | Go Green | AdAge India | Eisamay | IGN India | NavGujarat Samay | Times of India | Samayam Tamil | Samayam Telugu | Miss Kyra | Bombay Times | Filmipop | BrainBaazi | BrainBaazi APP
हेलो दोस्तों, मेरा नाम Umair habib है. मुझे Online marketing के बारे में पढ़ना और लोगो को बताना पसंद है. किसी knowledge का सबसे अच्छा इस्तेमाल यही है की उसे सीखो और दुसरो तक पंहुचा दो. हम यह यही करेंगे अब जैसे जैसे internet का इस्तेमाल बढ़ रहा है वैसे ही India भी digital होता जा रहा है. तो हम भी कुछ सीखेंगे कुछ सिखाएगे, India को थोड़ा और Digital बनायगे.
आपने कई इस तरह के किस्से सुनें होंगे कि कैसे कोई रातों रात शेयरों में पैसा लगा कर अमीर बन गया। आपने यह भी सुना होगा कि कैसे कोई कम्पनी का शेयर कुछ ही समय में दो गुना, तीन गुना या कई गुना हो गया। इससे उलट यह भी सुना होगा कि कैसे कोई शेयर बाजार में निवेश कर के बहुत घाटे में आ गया। हमारा उद्देश्य होना चाहिए कि इस फ़ायदे और घाटे में संतुलन बना कर अपने निवेश पर ऐसा रिटर्न निरंतर प्राप्त कर सकें जिससे हमारा निवेश अधिक रिस्क में ना फँसे। तो जब हम इस ब्लॉग पर Share Market in Hindi के बारे में पढ़ेंगे तो यह भी सिखाने की कोशिश करेंगे कि कैसे अपने रिस्क को कम से कम कर सकते हैं।

Make Money in Hindi : अगर आप अपनी तनख़्वाह से नाखुश हैं और/या अपनी नौकरी से नफ़रत करते हैं, तो फिर आपको खुद से यह सवाल पूछना होगा कि आप उस नौकरी में क्यों खप रहे हैं? आप इसके अलावा क्या कर सकते हैं ? सबसे बुरी स्थिति यह होगी कि आप अपनी नौकरी में या तनख़्वाह से संतुष्ट नहीं हैं, लेकिन इसके बावजूद इसे करने में इतने व्यस्त हैं कि आपके पास ज़्यादा समृद्धि और सुख देने वाली रणनीति बनाने का समय ही न हो। अपना सिर झुकाकर आजीविका कमाते समय दौलतमंद बनने के दस लाख अवसर आपके सिर के ऊपर से गुज़र गए हैं और आप उन्हें देख भी नहीं पाए हैं। कल्पना करें कि दस साल बाद आप जागेंगे और तब आपको अपनी भूल का एहसास होगा। अगर आपकी स्थिति यह है, तो इसके बारे में अभी कुछ करें। अपने दृष्टिकोण को बदल डालें और तत्काल कुछ करें।
१३ वैशाख, काठमाडौं । आज बिहीबार, राजधानीबाट प्रकाशित राष्ट्रिय दैनिक पत्रिकाहरुको पहिलो प्राथमिकतामा आर्थिक विषय परेको छ । तथ्यांक विभागले सार्वजनिक गरेको आर्थिक तथ्यांकलाई आधार बनाउँदै देशको अर्थतन्त्रको समीक्षा गरेका छन् । पत्रपत्रिकाका अनुसार, प्रतिव्यक्ति आय १ लाख नाघेको छ । मुलुकको कुल ग्रार्हस्थ उत्पादन ३० खर्ब रुपैयाँमाथि पुगेपछि प्रतिव्यक्ति आम्दानी पनि त्यसैअनुसार बढेको हो ।
Thankew itne sare option btane k liye but Mujhe abhi bhi smjh me nhi aa rha Ki mai kya kru??? Ebook Ka idea accha lga but who hai Aadhar gyan kisi bhi cheej Ka bekar hota hai Maine blog likhne Ki bhi kosis Ki thi but vo bhi dung se nhi Hua Mai Akdum Frustrate ho gyee Hu Apni life se Mai bhi Kuch krna chahti Hu Kuch Bnna chahti Hu as a housewife Mai poori zindagi nhi rhna chahti. Mai koe aisa Kam krna chahti Hu Jisse Mai Bccho pe bhi poora dhyan de Pau Aur Kuch earn bhi kr Pau Plz Guide me.
9 भाइयो, तुम एक-दूसरे के खिलाफ गहरी आहें मत भरो, ताकि तुम दोषी न ठहरो। देखो! हम सबका न्यायी दरवाज़े तक आ पहुँचा है। 10 भाइयो, यहोवा के नाम से वचन सुनानेवाले भविष्यवक्‍ताओं ने जिस तरह बुराई सही और सब्र दिखाया, उसे अपने लिए एक नमूना मानकर चलो। 11 देखो! हम उन लोगों को सुखी कहते हैं जिन्होंने धीरज धरा है। तुमने अय्यूब के धीरज के बारे में सुना है और यह भी कि यहोवा ने उसे आखिर में इसका क्या फल दिया, जिससे तुम देख सकते हो कि यहोवा गहरी करुणा दिखाता है और दयालु परमेश्‍वर है।

पहले यह केवल mcent एप्लीकेशन थी जिसे बाद में browser में बदल दिया गया. mcent ब्राउज़र भी एप्लीकेशन की तरह ही काम करता है, इसमें आपको रेफर करना होता है. जब आप इस एप को आगे इस्तेमाल करेंगे तो आपको बहुत से एप्लीकेशन इंस्टाल करने होंगे जिससे आप पॉइंट्स कमा पाएंगे. यह अप्प बहुआयामी है. यहां आप केवल रेफर और एप्लीकेशन इंस्टाल करने पर ही नहीं बल्कि विज्ञापन देखकर भी पैसे कमा सकते हैं.


वैसे तो आपको इन्टरनेट पे हजारो वेबसाइट मिल जायेंगे जहा पे आप फ्रीलान्स कंटेंट राइटर बन सकते है जैसे की कंटेंट मार्ट (ContentMart) और ट्रूलांसर (Truelancer) इत्यादि वेबसाइट है जहा पर आप एक कंटेंट राइटर की तरह काम कर सकते है आप किसी भी टॉपिक पर कंटेंट लिख सकते है इसके आप इन्टरनेट का भी सहारा ले सकते रिसर्च कर सकते है और जितना लम्बा कंटेंट लिखेंगे आपको उसी हिसाब से पैसे मिलेंगे तो ये भी एक तरीका है ऑनलाइन इंटरनेट से पैसे कमाने का.
×