आज के समय में एफिलिएट मार्केटिंग (Affiliate Marketing) काफी ज्यादा पोपुलर हो रहा है लोग इससे काफी अच्छा पैसा कमा रहे है अगर आप किसी के प्रोडक्ट को बेचते है ऑनलाइन तो इसके लिए आपको काफी अच्छा कमिसन मिल जाता है अगर आपका कोई वेबसाइट है या ब्लॉग है तो आप उनके प्रोडक्ट को ऑनलाइन सेल करके काफी अच्छा पैसा कमा सकते है लेकिन इसके लिए आपके ब्लॉग  वेबसाइट या यूट्यूब चैनल होना जरुरी है जिसे पर रोजाना हजारो लोग आये आपके दुवारा प्रमोट किये गए प्रोडक्ट को ख़रीदे तभी आपको उस पर कमिसन मिलेगा

स्क्वाडरन एक ऐसा एप है जिसके इस्तेमाल से आप अपनी बोरिंग ज़िन्दगी को थोड़ा रोमांचकारी बना सकते है. इस एप के द्वारा आपको रोज़ नए टास्क दिए जाएंगे जिसे पूरा करके आप पैसे कमा सकते है. आपके हर मिशन पूरा करने के बाद आपको नए टास्क दिए जाएंगे जो कि आपके कौशल और अनुभव पर आधारित होंगे. जैसे-जैसे आप टास्क पूरा करते रहेंगे आपको पॉइंट्स मिलते रहेंगे जिसे आप अपने Paytm में ट्रांसफर कर सकते हैं. आपको बता दें कि यह पॉइंट्स जब 60 से ऊपर होंगे तभी आप इन्हें अपने Paytm अकाउंट ट्रांसफर कर पाएंगे.


Make Money in Hindi : अगर आप अपने काम से प्रेम करते हों, लेकिन उसमें ज़्यादा पैसा नहीं मिलता हो, तो आपकी दौलत-निर्माण (wealth Creation) की ऐसी रणनीति बनाने की ज़रूरत है, जो ‘दिन की नौकरी’ पर निर्भर न हो। अपने काम से प्रेम करना बहुत अच्छी बात है, लेकिन अगर आप दौलतमंद भी बनना चाहते हैं, तो आपको एक चीज़ सुनिश्चित कर लेनी चाहिए। नौकरी करने में इतने व्यस्त न हो जाएँ कि दौलतमंद बनने की बात भूल ही जाएँ। आपको यह कभी नहीं भूलना चाहिए कि आपकी प्रिय नौकरी के साथ आपको कौन से दूसरे काम या रणनीतियों का इस्तेमाल करने की ज़रूरत है, ताकि आपको दूसरी या वैकल्पिक आमदनी हो सके।
तो मित्रों अब यदि इन काले अंग्रेजों से आज़ादी चाहिए तो फिर से कोई स्वतंत्रता संग्राम छेड़ना होगा, कोई क्रान्ति को जन्म देना होगा। फिर से किसी को मंगल पण्डे बनना होगा, किसी को भगत सिंह तो किसी को सुभाष चन्द्र बोस बनना होगा। क्यों कि जीवन जीने के केवल दो हे तरीके इस देश में बचे हैं कि या तो जो हो रहा है उसे सहते रहो, शान्ति के नाम पर यथास्थिति बनाए रखो, और सब कूछ सहते सहते मर जाओ या फिर खड़े हो जाओ एक संकल्प के साथ और आवाज़ उठाओ अन्याय के विरुद्ध, फिर से खड़ी करो एक क्रान्ति, और केवल मै और मेरा पारिवार की विचारधारा से भार आकर मेरा राष्ट्र की विचारधारा को अपनाओ। किन्तु आज इस देश में यथास्थिति वाले लोग अधिक है। उन्ही से पूछना चाहूँगा कि क्या ये दिन देखने के लिये ही तुम्हारे पूर्वजों ने जीवन का बलिदान दिया था, क्या उनका त्याग व्यर्थ जाएगा, क्या आज तुम्हारे पूर्वजों को तुम प र गर्व होगा, क्या आने वाली पीढी को तुम पर गर्व होगा, क्या अपनी आने वाली पीढ़ी के लिये विरासत में तुम इन काले अंग्रेजों को छोड़ के जाओगे? आचार्य विष्णु गुप्त (चाणक्य) ने कहा था कि जितनी हानि इस राष्ट्र को दुर्जनों कि दुर्जनता से हुई है उससे कहीं अधिक हानि इस राष्ट्र को सज्जनों कि निष्क्रियता से हुई है। क्या आप सज्जन हमेशा निष्क्रीय ही बने रहेंगे? अब कोई भी यह पूछ सकता है कि हम क्या करें? मित्रों करने को बहुत कूछ है करने की इच्छा शक्ति होनी चाहिए। यदि आप में इच्छा शक्ति है, यदि आप में ज्ञान है तो आप खुद अपने लिये राह बना सकते हैं। चाणक्य ने मगध सम्राट धननंद के दरबार में उसे ही ललकारते हुए कहा था कि मेरे ज्ञान में अगर शक्ति है तो मै अपना पोषण कर सकने वाले सम्राटों का निर्माण स्वयं कर लूँगा।
मित्रों श्री राजीव दीक्षित के एक व्याक्यान में उन्होंने बताया था कि वे एक बार जर्मनी गए थे और वहां एक प्रोफेसर से उनका विवाद हो गया। विवाद का विषय था ”भारत महान या जर्मनी?” जब कोई निर्णय नहीं निकला तो उन्होंने एक रास्ता बनाया कि दोनों जन एक दूसरे से उसके देश के बारे में कुछ सवाल पूछेंगे और जिसके जवाब में सबसे ज्यादा हाँ का उत्तर होगा वही जीतेगा और उसी का देश महान। अब राजीव भाई ने प्रश्न पूछना शुरू किया। उनका पहला प्रश्न था-
अमीर लोग 50 फीसदी पैसे बचाते हैं. बाकी 50 फीसदी वहां निवेश कर रहे हैं जहां आपको अच्छे रिटर्न मिले. “क्या आपको पता है यदि आप निवेश साधन में तीस साल के लिए 800 रुपये प्रति माह मासिक नेटफ्लिक्स चार्ज को बचाते हैं और निवेश करते हैं जो सालाना 15 प्रतिशत देता है, तो आप 55 लाख रुपये जमा कर सकते हैं? यह बुद्धिमानी से निवेश करने का तरीका है. यदि आपकी आयु 30 वर्ष से कम हैं, तो इक्विटी/स्टॉक-लिंक्ड उत्पादों में अपनी बचत का एक बड़ा हिस्सा निवेश करें. ऋण केवल आपकी बचत का एक छोटा सा हिस्सा होना चाहिए.  म्यूचुअल फंड के माध्यम से, आप अपनी बचत को विभिन्न प्रकार के फंडों में फैला सकते हैं. सोने के लिए 5 फीसदी एक्सपोजर लें. 5 से 10 साल की अवधि के साथ रियल एस्टेट में निवेश न करें, और बेहतर विकल्प हैं, रेगो कहते हैं.

मित्रों जैसा कि आप सब लोग जानते ही होंगे कि विश्व में इस समय करीब २०० देश हैं। संयुक्त राष्ट्र संघ के पिछले वर्ष के एक सर्वेक्षण के अनुसार विश्व में ८६ महा दरिद्र देश हैं और उनमे भारत १७वे स्थान पर आता है। अर्थात ६९ महा दरिद्र देश भारत से ज्यादा अमीर हैं। केवल १६ महा दरिद्र देश विश्व में ऐसे हैं जो भारत के बाद आते हैं। दुनिया का सबसे अमीर देश इसके अनुसार स्वीटजरलैंड है। मित्रों अब प्रश्न यहाँ से उठता है कि स्वीटजरलैंड सबसे अमीर कैसे है? मेरे एक परीचित एवं अग्रज तुल्य देश के एक वैज्ञानिक श्री राजिव दीक्षित से मिली एक जानकारी के अनुसार स्वीटजरलैंड में कुछ भी नहीं होता। कुछ भी का मतलब कुछ भी नहीं। वहां किसी प्रकार का कोई व्यापार नहीं है, कोई खेती नहीं, कोई छोटा मोटा उद्योग भी नहीं है। फिर क्या कारण है कि स्वीटजरलैंड दुनिया का सबसे अमीर देश है?

In March 2017, SpaceX saw the successful test flight and landing of a Falcon 9 rocket made from reusable parts, a development that opened the door for more affordable space travel. A setback came in November 2017, when an explosion occurred during a test of the company's new Block 5 Merlin engine. SpaceX reported that no one was hurt, and that the issue would not hamper its planned rollout of a future generation of Falcon 9 rockets.


उदाहरण के तौर पर एक व्यक्ति ने मेहनत कर एक किताब लिखी उस पर कुछ रूपये लगा दिए और उसे पब्लिश करवा दीया साथ में अपनी रोयाल्टी भी ले ली अब क्या हुआ की वही किताब लोगों को पसंद आ गयी लोगों ने उसे इतना पसंद किया की वही किताब बेहिसाब बिकने लगी और साथ में फायदा ये हुआ की उसी किताब की कॉपी नहीं बनवाइ जा सकती थी क्योंकि किताब के मालिक ने किताब पर अपनी रोयाल्टी ले ली थी.
इस पोस्ट में आपको गूगल से पैसा कमाने के आसान तरीके ऑनलाइन कमाई के साधन पैसा कमाने के गलत तरीके इंटरनेट से पैसे कमाने के तरीके गांव में पैसे कमाने के तरीके वेबसाइट से पैसे कमाने के तरीके पैसे कमाने की वेबसाइट पैसा कमाने के उपाय  के बारे में बताया गया है अगर इसके अलावा आपका कोई भी सवाल या सुझाव हो तो नीचे कमेंट करके जरूर पूछें. और इस पोस्ट को शेयर जरूर करें ताकि दूसरे भी इस जानकारी को जान सकें.

भारतीय कोच हरेंद्र सिंह ने स्वीकार किया, ‘मलयेशिया जीत का हकदार था। हमने काफी गलतियां कीं और इसका खामियाजा भुगतना पड़ा। हम चीजों को सामान्य नहीं रख पाए। हमने अपना भारतीय कौशल दिखाने की कोशिश की और ऐसा करते हुए लय गंवा दी। यह भारतीय हॉकी के लिए बड़ा झटका है। ओलिंपिक के लिए राह अब कहीं अधिक मुश्किल होगी। हमने क्वॉलिफाइ करने का सबसे आसान मौका गंवा दिया।’
यदि आपके पास भी कोई ऐसा टैलेंट है या आपके पास ऐसी कोई प्रतिभा है जिसे आप दुनिया को दिखाना चाहते हैं और आपकी प्रतिभा लोगों के काम को आसान बनाती है तो आप एक YouTube चैनल बना सकते हैं जब आप अपनी वीडियो यूट्यूब पर अपलोड करेंगे तो लोगों को वह पसंद आनी चाहिए. जब आपकी वीडियो पर बहुत सारे व्यूज आने लगेंगे तो आप वीडियो को Google Adsense से कनेक्ट करके YouTube से पैसे कमा सकते है.

इन रिकॉर्ड्स में मेडिकल हिस्ट्री व फिजिकल रिपोर्ट, क्लिनिक रिपोर्ट, ऑफिस नोट्स, ऑपरेटिव नोट्स, कंसल्टेशन नोट्स, डिस्चार्ज समरी, मनोचिकित्सक आकलन, पैथोलॉजी-लैब रिपोर्ट व एक्सरे रिपोर्ट(Medical History, Physical Report, Clinical Report, Office Notes, Operative Notes, Consultation Notes, Discharge Summary, Psychiatrist Assessment, Pathological and Lab Reports and X-Ray Reports) इत्यादि शामिल हैं।


शंकर जी हमारे देश में राहुल गांधी कोई अकेला नेता नहीं है जो हमें उसी पर निर्भर होना पड़े| हमें राहुल गांधी की जरुरत नहीं है, हमें तो जरुरत है आप जैसे देश भक्तों की जो देश के लिये समर्पण का भाव रखते हैं, जो देश के इतिहास पर गर्व करते हैं, उसकी संस्कृती पर गर्व करते हैं, उसकी शक्ति पर गर्व करते हैं| केवल राहुल ही एक अकेला रास्ता नहीं है, यह देश इतना शक्तिशाली है कि खुद अपने लिये नए और उपयुक्त रास्ते बना सकता है| सबसे बड़ी शक्ति आवाम की है, आवाम खुद इतनी बड़ी शक्ति है कि बड़ी से बड़ी सत्ता को उखाड़ कर फेंक सकती है, बड़ी से बड़ी व्यवस्था को बदल सकती है| दुःख है तो बस इस बात का कि यह शक्ति बिखरी हुई है| जिस दिन यह शक्ति संगठित हो जाएगी तो जिस तरह अंग्रेज भागे थे हमारा देश छोड़ कर इन काले अंग्रेजो को भी हम देश से निकाल कर बाहर फेंक देंगे| जरुरत बस एक होने की है| आप और हम राष्ट्र आराधन करते रहें तो यह भी संभव है|


श्री दिवस दिनेश गौड़ जी को बहुत बहुत बधाई. आपने कुछ पराग्राफो में पूरा इतिहास (सच्चा इतिहास) लिख दिया है. यह वास्तविक सत्य है की हमारे देश में सच्चा इतिहास कभी पढाया नहीं जाता है. जो इतिहास पढाया जाता है वोह अंग्रजो द्वारा approved है. कहते है — दूध का जला —— —–. जब हमारे देश के लोगो को इतिहास नहीं पता होगा तो उनके खून में उबाल कहाँ से आएगा. फिर से गौड़ जी को धन्यवाद.
उसे YouTube पर लेकर आना है दोस्तों अगर आप पढ़ाना जानते हैं कॉमेडी वीडियो बनाना जानते हैं फनी वीडियोस बनाना जानते हैं या फिर कोई भी एक नॉलेज जो आप ज्यादा जानते हैं तो आप YouTube के माध्यम से वीडियो में शेयर कर सकते हैं अगर बंधुओं को आपकी वीडियो पसंद आती है लोग आपकी वीडियो देखते हैं तो आपको बहुत ज्यादा पैसा भी मिलेगा जिस दिन आप YouTube पर फेमस हो गए फिर आपके पीछे पैसा भागेगा पैसे के पीछे आप नहीं यह भी अमीर बनने का चांस है
Musk founded his third company, Space Exploration Technologies Corporation, or SpaceX, in 2002 with the intention of building spacecraft for commercial space travel. By 2008, SpaceX was well established, and NASA awarded the company the contract to handle cargo transport for the International Space Station—with plans for astronaut transport in the future—in a move to replace NASA’s own space shuttle missions.
◼Connect With Us On Social-media◼ ◾ Like Our Page On Facebook ▶www.facebook.com/techguptahindi ◾Follow Us On Twitter ▶ www.twitter.com/techguptahindi◾ Follows us on Instagram ▶ www.instagram.com/techguptahindi ==================== ==================== NOTE :- The Video is for education purpose, any misuse of the video, the channel won't be responsible. ▶ ALL THE IMAGES/PICTURES SHOWN IN THE VIDEO BELONGS TO THE RESPECTED OWNERS AND NOT ME.. ▶ I AM NOT THE OWNER OF ANY PICTURES SHOWED IN THE VIDEOS ▶ All content used is ©copyright to Techgupta , Use or commercial display or editing of the content without proper authorization is not allowed. ▶ Background Music ◀BACKGROUND MUSIC CRADIT GOES TO !!!

किसानों को बेहतर गुणवत्ता वाले बीज दिए जाएंगे। उनके खेत की मिट्टी की गुणवत्ता के हिसाब से बीज मिलेंगे। इसके अलावा गोदाम और कोल्ड स्टोरेज की चेन बनाने पर जोर होगा ताकि किसानों की फसल बरबाद न हो। इससे खाद्य प्रसंस्करण को भी मजबूती मिलेगी। राष्ट्रीय कृषि बाजार की स्थापना, फसलों की बेहतर कीमत के लिए 585 स्टेशनों पर ई-प्लेटफॉर्म, नई फसल बीमा योजना और मुर्गी पालन और सहायक गतिविधियों के जरिये किसानों की आय दोगुनी की जाएगी। 

ऐसे बहुत सारे लोग हैं जो अपनी website या blog बनाकर बहुत सारा पैसा कमाना चाहते हैं, लेकिन बहुत से लोगों के मन में कुछ सवाल आते हैं जैसे blog बनाने के लिए कितने पैसे खर्च करने पड़ेंगे ? Website बनाने में कितना खर्चा आता है ? Blog बनाने के लिए कितने पैसे चाहिए ? Website बनाने में कितना पैसा लगता है ? Blog या website बनाने में कितना पैसा लगता है ? इस तरह के सभी सवालों के जवाब आपको इस पोस्ट में मिल जाएंगे।

यहाँ पे skill(कला) का मतलब है Internet based skill, जैसे SEO, SMO, Coding, Web Designing, Link Building, Logo designing, etc. दिन ब दिन Internet merketing बढ़ रहा है. तो लोग अपना online business को बढ़ाने केलिए experts को ढून्दते है, जो पैसे के बदले उनका काम करदे. क्यूंकि वो अगर वोही काम करेंगे तो उनको बहुत time लग सकता है. अगर आप भी ऐसे किसी online काम में माहिर है तो आप भी घर बैठे पैसे कमा सकते हैं. अपनी skill के जरिये money कमाने का सबसे बेहतर platform है Fiverr. और भी बहुत सारे websites है, पर ये सबसे popular है.


के ऊपर बोकर हिलदक्षिण में कंबोडिया एक बार-घूमने वाले होटल, ग्लैमरस कैसीनो, कैथोलिक चर्च और विभिन्न शाही निवासों के टुकड़े टुकड़े करने वाले खंडहर खड़े हो जाओ। रिसॉर्ट का निर्माण अमीर फ्रांसीसी उपनिवेशवादियों और कंबोडिया के अभिजात वर्ग के लिए 1920s में गर्मी से बचने और देश भर में समुद्र और उससे बाहर के व्यापक विचारों का आनंद लेने के लिए किया गया था। बहुत से लोग कहते हैं कि रिज़ॉर्ट शुरू से ही बर्बाद हो गया था क्योंकि अफवाहें दावा करती हैं कि 1,000 पुरुषों पर रिसॉर्ट बनाने के लिए नौ महीने में तीव्र श्रम के कारण मृत्यु हो गई थी। हालांकि 1972 में जंगली दलों और जुआ एक अचानक अंत में आए जब खमेर रूज ने इस क्षेत्र को संभाला। बोकोर हिल एक प्रमुख युद्ध मैदान बन गया और खमेर रूज ने इसे 1990s में अच्छी तरह से गढ़ के रूप में रखा।
हम अपने खार्चो को तो रोक नहीं सकते। लिहाजा उन खर्चो में जो रुपए जबरन खर्च होते हैं उन्हें बचाकर हमारा काफी फायदा हो सकता है। जैसे खुल्ले पैसे हम संभालकर रखें, यहां-वहां चिल्लर रखकर भूल जाने की आदत को सुधारें, पुराने कपड़ों की जेब ठीक से चेक करें और पैसे संभाल लें। बाजार में कुछ खास जगहों पर चिल्लर की एवज में मोटे पैसे मिल जाते हैं। मसलन अगर आप 90 रुपए की चिल्लर बेचते हैं तो आपको इसके 100 रुपए मिलेंगे। ऐसे में आपकी 10 रुपए की कमाई हो सकती है। पुराने नोट और खास संख्या के नोट भी महंगे बिकते हैं, जिनके लोग हजारों रुपए तक देते हैं।
इसमें कोई शक नहीं सॉफ्टवेयर उद्योग दिन-ब-दिन बढ़ रही है. आप एक डेवलपर हैं तो आप आवेदन कार्यक्रमों बना सकते हैं और विभिन्न चैनलों पर बेच सकते हैं. आप जावा प्रोग्रामिंग ज्ञान पर पता करने की जरूरत, .जाल, सी # आदि. आप व्यापार के लिए Android अनुप्रयोगों को विकसित कर सकते हैं, शिक्षा, सांख्यिकी, ज्योतिष. आप Android अनुप्रयोगों और सॉफ्टवेयर उपकरण बना सकते हैं.
मित्रों भारत को विश्व में सोने की चिड़िया कहा गया किन्तु एक बात सोचने वाली है कि यहाँ तो कोई सोने की खाने नहीं हैं फिर यहाँ विश्व का सबसे बड़ा सोने का भण्डार बना कैसे? यहाँ प्रश्न जरूर पैदा होते हैं किन्तु एक उत्तर यह मिलता है कि हम हमेशा से गरीब नहीं थे। अब जब भारत में सोना नहीं होता तो साफ़ है कि भारत में सोना आया विदेशों से। किन्तु हमने तो कभी किसी देश को नहीं लूटा। इतिहास में ऐसा कोई भी साक्ष्य नहीं है जिससे भारत पर ऐसा आरोप लगाया जा सके कि भारत ने अमुक देश को लूटा, भारत ने अमुक देश को गुलाम बनाया, न ही भारत ने आज कि तरह किसी देश से कोई क़र्ज़ लिया फिर यह सोना आया कहाँ से? तो यहाँ जानकारी लेने पर आपको कूछ ऐसे सबूत मिलेंगे जिससे पता चलता है कि कालान्तर में भारत का निर्यात विश्व का ३३% था। अर्थात विश्व भर में होने वाले कुल निर्यात का ३३% निर्यात भारत से होता था। हम ३५०० वर्षों तक दुनिया में कपडा निर्यात करते रहे क्यों की भारत में उत्तम कोटी का कपास पैदा होता था। तो दुनिता को सबसे पहले कपडा पहनाने वाला देश भारत ही रहा है। कपडे के बाद खान पान की अनेक वस्तुएं भारत दुनिया में निर्यात करता था क्यों कि खेती का सबसे पहले जन्म भारत में ही हुआ है। खान पान के बाद भारत में करीब ९० अलग अलग प्रकार के खनीज भारत भूमी से निकलते है जिनमे लोहा, ताम्बा, अभ्रक, जस्ता, बौक् साईट, एल्यूमीनियम और न जाने क्या क्या होता था। भारत में सबसे पहले इस्पात बनाया और इतना उत्तम कोटी का बनाया कि उससे बने जहाज सैकड़ों वर्षों तक पानी पर तैरते रहते किन्तु जंग नहीं खाते थे। क्यों की भारत में पैदा होने वाला लौह अयस्क इतनी उत्तम कोटी का था कि उससे उत्तम कोटी का इस्पात बनाया गया। लोहे को गलाने के लिये भट्टी लगानी पड़ती है और करीब १५०० डिग्री ताप की जरूरत पड़ती है और उस समय केवल लकड़ी ही एक मात्र माध्यम थी जिसे जलाया जा सके। और लकड़ी अधिकतम ७०० डिग्री ताप दे सकती है फिर हम १५०० डिग्री तापमान कहा से लाते थे वो भी बिना बिजली के? तो पता चलता है कि भारत वासी उस समय कूछ विशिष्ट रसायनों का उपयोग करते थे अर्थात रसायन शास्त्र की खोज भी भारत ने ही की। खनीज के बाद चिकत्सा के क्षेत्र में भी भारत का ही सिक्का चलता था क्यों कि भारत की औषधियां पूरी दुनिया खाती थी। और इन सब वस्तुओं के बदले अफ्रीका जैसे स्वर्ण उत्पादक देश भारत को सोना देते थे। तराजू के एक पलड़े में सोना होता था और दूसरे में कपडा। इस प्रकार भारत में सोने का भण्डार बना। एक ऐसा देश जहाँ गाँव गाँव में दैनिक जीवन की लगभग सभी वस्तुएं लोगों को अपने ही आस पास मिल जाती थी केवल एक नमक के लिये उन्हें भारत के बंदरगाहों की तरफ जाना पड़ता था क्यों कि नमक केवल समुद्र से ही पैदा होता है। तो विश्व का एक इ तना स्वावलंबी देश भारत रहा है और हज़ारों वर्षों से रहा है और आज भी भारत की प्रकृती इतनी ही दयालु है, इतनी ही अमीर है और अब तो भारत में राजस्थान में बाड़मेर, जैसलमेर, बीकानेर में पेट्रोलियम भी मिल गया है तो आज भारत गरीब क्यों है और प्रकृति की कोई दया नहीं होने के बाद यूरोप इतना अमीर क्यों?
दोस्तों आप जो भी नौकरी या फिर कोई काम कर रहे हो उसको कभी मत छोड़ो उसके साथ-साथ कुछ और करने की हिम्मत रखो दोस्तों अगर आप अपने काम के साथ-साथ 1 से 2 घंटे कोई और काम करते हैं तो आपको बहुत ज्यादा बचत होगी वह काम क्या होंगे मैं आपको बताऊंगा दोस्तों मान लीजिए आप दिन में 8 घंटे ड्यूटी करते हैं जैसे कि अगर आप सुबह 8:00 बजे ड्यूटी पर जाते हैं शाम 5:00 बजे घर वापस आते हैं
11 भाइयो, एक-दूसरे के खिलाफ बोलना बंद करो। जो कोई किसी भाई के खिलाफ बोलता है या उस पर दोष लगाता है वह परमेश्‍वर के कानून के खिलाफ बोलता है और उस कानून पर दोष लगाता है। अगर तू कानून पर दोष लगाता है, तो तू उस पर चलनेवाला नहीं बल्कि उसका न्यायी ठहरा। 12 कानून देनेवाला और न्यायी तो एक ही है, जो बचा भी सकता है और नाश भी कर सकता है। मगर तू कौन होता है जो अपने संगी पर दोष लगाता है?

Internet से पैसे कमाने के लिए मैं जितने भी ऊपर Website बताई है | वह सब Real Payment करेगीं | अगर fake Website होती तो वह ज्यादा दिन तक नही चलती | और यह सब कई सालो से चलती आ रही है | Fraud Website 1-2 के अन्दर बंद हो जाती है | बाकी आप इन Website के terms पढ़कर उसके बारे में पता लगा सकते है, कि यह site कब से काम कर रही है | By The Way अगर आपको पोस्ट पसंद आये, तो जरुर share करें |
×