मित्रों भारत को विश्व में सोने की चिड़िया कहा गया किन्तु एक बात सोचने वाली है कि यहाँ तो कोई सोने की खाने नहीं हैं फिर यहाँ विश्व का सबसे बड़ा सोने का भण्डार बना कैसे? यहाँ प्रश्न जरूर पैदा होते हैं किन्तु एक उत्तर यह मिलता है कि हम हमेशा से गरीब नहीं थे। अब जब भारत में सोना नहीं होता तो साफ़ है कि भारत में सोना आया विदेशों से। किन्तु हमने तो कभी किसी देश को नहीं लूटा। इतिहास में ऐसा कोई भी साक्ष्य नहीं है जिससे भारत पर ऐसा आरोप लगाया जा सके कि भारत ने अमुक देश को लूटा, भारत ने अमुक देश को गुलाम बनाया, न ही भारत ने आज कि तरह किसी देश से कोई क़र्ज़ लिया फिर यह सोना आया कहाँ से? तो यहाँ जानकारी लेने पर आपको कूछ ऐसे सबूत मिलेंगे जिससे पता चलता है कि कालान्तर में भारत का निर्यात विश्व का ३३% था। अर्थात विश्व भर में होने वाले कुल निर्यात का ३३% निर्यात भारत से होता था। हम ३५०० वर्षों तक दुनिया में कपडा निर्यात करते रहे क्यों की भारत में उत्तम कोटी का कपास पैदा होता था। तो दुनिता को सबसे पहले कपडा पहनाने वाला देश भारत ही रहा है। कपडे के बाद खान पान की अनेक वस्तुएं भारत दुनिया में निर्यात करता था क्यों कि खेती का सबसे पहले जन्म भारत में ही हुआ है। खान पान के बाद भारत में करीब ९० अलग अलग प्रकार के खनीज भारत भूमी से निकलते है जिनमे लोहा, ताम्बा, अभ्रक, जस्ता, बौक् साईट, एल्यूमीनियम और न जाने क्या क्या होता था। भारत में सबसे पहले इस्पात बनाया और इतना उत्तम कोटी का बनाया कि उससे बने जहाज सैकड़ों वर्षों तक पानी पर तैरते रहते किन्तु जंग नहीं खाते थे। क्यों की भारत में पैदा होने वाला लौह अयस्क इतनी उत्तम कोटी का था कि उससे उत्तम कोटी का इस्पात बनाया गया। लोहे को गलाने के लिये भट्टी लगानी पड़ती है और करीब १५०० डिग्री ताप की जरूरत पड़ती है और उस समय केवल लकड़ी ही एक मात्र माध्यम थी जिसे जलाया जा सके। और लकड़ी अधिकतम ७०० डिग्री ताप दे सकती है फिर हम १५०० डिग्री तापमान कहा से लाते थे वो भी बिना बिजली के? तो पता चलता है कि भारत वासी उस समय कूछ विशिष्ट रसायनों का उपयोग करते थे अर्थात रसायन शास्त्र की खोज भी भारत ने ही की। खनीज के बाद चिकत्सा के क्षेत्र में भी भारत का ही सिक्का चलता था क्यों कि भारत की औषधियां पूरी दुनिया खाती थी। और इन सब वस्तुओं के बदले अफ्रीका जैसे स्वर्ण उत्पादक देश भारत को सोना देते थे। तराजू के एक पलड़े में सोना होता था और दूसरे में कपडा। इस प्रकार भारत में सोने का भण्डार बना। एक ऐसा देश जहाँ गाँव गाँव में दैनिक जीवन की लगभग सभी वस्तुएं लोगों को अपने ही आस पास मिल जाती थी केवल एक नमक के लिये उन्हें भारत के बंदरगाहों की तरफ जाना पड़ता था क्यों कि नमक केवल समुद्र से ही पैदा होता है। तो विश्व का एक इ तना स्वावलंबी देश भारत रहा है और हज़ारों वर्षों से रहा है और आज भी भारत की प्रकृती इतनी ही दयालु है, इतनी ही अमीर है और अब तो भारत में राजस्थान में बाड़मेर, जैसलमेर, बीकानेर में पेट्रोलियम भी मिल गया है तो आज भारत गरीब क्यों है और प्रकृति की कोई दया नहीं होने के बाद यूरोप इतना अमीर क्यों?
महत्वपूर्ण : प्रथम प्रश्नपत्र में तत्वों की दीर्घ आवर्त सारिणी व उनमें उपस्थित तत्वों के गुणों में अवर्तता रसायन की मूल अवधारणाएं, आधुनिक परमाणु संरचना, विभिन्न रासायनिक बंध, तथा द्वितीय प्रश्नपत्र में कार्बन यौगिकों का नामकरण, विभिन्न क्रियात्मक समूहों के सामान्य लक्षण, रासायनिक अभिक्रियाओं की क्रियाविधि तथा पर्यावरणीय अध्ययन को अच्छी तरह से तैयार करें।
इस तरीके का इस्तमाल करके भी आप बहुत सारे पैसे YouTube से कमा सकते हो और वो भी बहुत ही कम समय में. इसके लिए आपको कोई भी अच्छा एक Product चुनना होगा, फिर उसे इस्तमाल कर उसके ऊपर एक Review video बनाना होगा और उसके बाद उसकी Purchase link देनी होगी description में जिससे की आपके Viewers उसे खरीद सकें और जिसके की आपको Purchase के हिसाब से commission मिलती है.

12 सुखी है वह इंसान जो परीक्षा में धीरज धरे रहता है+ क्योंकि परीक्षा में खरा उतरने पर वह जीवन का ताज पाएगा,+ जिसका वादा यहोवा* ने उनसे किया है जो हमेशा उससे प्यार करते हैं।+ 13 जब किसी की परीक्षा हो रही हो तो वह यह न कहे, “परमेश्‍वर मेरी परीक्षा ले रहा है।” क्योंकि न तो बुरी बातों से परमेश्‍वर की परीक्षा ली जा सकती है, न ही वह खुद बुरी बातों से किसी की परीक्षा लेता है। 14 लेकिन हर किसी की इच्छा उसे खींचती और लुभाती है,* जिससे वह परीक्षा में पड़ता है।+ 15 फिर इच्छा गर्भवती होती है और पाप को जन्म देती है और जब पाप कर लिया जाता है तो यह मौत लाता है।+


हेलो दोस्तों हर किसी के मन में एक यही सवाल चलता रहता है क्या अमीर कैसे बने हां तो दोस्तों आज मैं आपको बताऊंगा अमीर बनने के कुछ ऐसे तरीके जो फिर आप किसी से नहीं बोलोगे क्या अमीर कैसे बने अगर दोस्तों मेरे बताए हुए यह 3 नियम और 3 तरीके आजमाते हो तो आपको कोई भी अमीर बनने से नहीं रोक सकता दोस्तों अब आपको यह पूरा पोस्ट विस्तार से पढ़ना है ताकि आपके समझ में सब कुछ आ जाए
फोटो स्टॉक रखने वाली वेबसाइट भी आपके ऑनलाइन कमाई का जरिया बन सकती है। दुनिया भर में www.shutterstock.com ,www.shutterpoint.com और www. istockphoto.com जैसी कई वेबसाइट फोटो खरीदकर उसका भुगतान करती हैं। इन कंपनियों से टाइअप करके आप मंथली बेसिस पर कमाई कर सकते हैं। कंपनियां प्रोजेक्ट के तौर पर भी आपको असाइनमेंट देती हैं। मेंबर को फोटो वेबसाइट पर सब्मिट करना होता है। इसके बाद साइट की पॉलिसी के अनुसार आपको 15 से 85 फीसदी तक रॉयल्टी मिलती है। इसमें लाखों रुपए तक की कमाई संभव है।
On May 22, 2012, Musk and SpaceX made history when the company launched its Falcon 9 rocket into space with an unmanned capsule. The vehicle was sent to the International Space Station with 1,000 pounds of supplies for the astronauts stationed there, marking the first time a private company had sent a spacecraft to the International Space Station. Of the launch, Musk was quoted as saying, "I feel very lucky. ... For us, it's like winning the Super Bowl."
लक्जरी कार या महंगे मोबाइल जो नए-नए बाजार में आए हैं, को खरीदने से पहले खुद से कभी पूछा है कि, क्या तुम्हें वाकई इसकी जरुरत है या फिर तुम्हारे नजदीकी पड़ोसी या दोस्त ने ख़रीदा है इसलिए? तथ्य यह है कि, यहां तक कि सबसे बुद्धिमान लोग अपने पैसे के साथ बेवकूफाना हरकतें करते हैं- चाहे वह लापरवाह खर्च या समय के साथ जुड़ने वाले छोटे-छोटे खर्च हों. और जब वे चिंता करते रहते हैं कि उनके पैसे वास्तव में कहां जाते हैं, तो इन खर्चों के कारण उनके कड़ी मेहनत वाले पैसे खर्च हो चुके होते हैं.
क्यूबर आपको ऑनलाइन शॉपिंग पर कैशबैक का उल्लेख करने और अर्जित करने देता है जो आप करते हैं। आपको बस उस वेबसाइट का चयन करना है, जिसके माध्यम से आप क्यूबर आवेदन से खरीदारी करना चाहते हैं और आपको उस वेबसाइट पर पुनर्निर्देशित किया जाएगा या एक आवेदन जहां आप अपनी पसंद के उत्पाद खरीद सकते हैं। उसी के लिए कैशबैक जल्द ही आपके क्यूबर वॉलेट में जमा कर दिया जाएगा।
×