मित्रों भारत को विश्व में सोने की चिड़िया कहा गया किन्तु एक बात सोचने वाली है कि यहाँ तो कोई सोने की खाने नहीं हैं फिर यहाँ विश्व का सबसे बड़ा सोने का भण्डार बना कैसे? यहाँ प्रश्न जरूर पैदा होते हैं किन्तु एक उत्तर यह मिलता है कि हम हमेशा से गरीब नहीं थे। अब जब भारत में सोना नहीं होता तो साफ़ है कि भारत में सोना आया विदेशों से। किन्तु हमने तो कभी किसी देश को नहीं लूटा। इतिहास में ऐसा कोई भी साक्ष्य नहीं है जिससे भारत पर ऐसा आरोप लगाया जा सके कि भारत ने अमुक देश को लूटा, भारत ने अमुक देश को गुलाम बनाया, न ही भारत ने आज कि तरह किसी देश से कोई क़र्ज़ लिया फिर यह सोना आया कहाँ से? तो यहाँ जानकारी लेने पर आपको कूछ ऐसे सबूत मिलेंगे जिससे पता चलता है कि कालान्तर में भारत का निर्यात विश्व का ३३% था। अर्थात विश्व भर में होने वाले कुल निर्यात का ३३% निर्यात भारत से होता था। हम ३५०० वर्षों तक दुनिया में कपडा निर्यात करते रहे क्यों की भारत में उत्तम कोटी का कपास पैदा होता था। तो दुनिता को सबसे पहले कपडा पहनाने वाला देश भारत ही रहा है। कपडे के बाद खान पान की अनेक वस्तुएं भारत दुनिया में निर्यात करता था क्यों कि खेती का सबसे पहले जन्म भारत में ही हुआ है। खान पान के बाद भारत में करीब ९० अलग अलग प्रकार के खनीज भारत भूमी से निकलते है जिनमे लोहा, ताम्बा, अभ्रक, जस्ता, बौक् साईट, एल्यूमीनियम और न जाने क्या क्या होता था। भारत में सबसे पहले इस्पात बनाया और इतना उत्तम कोटी का बनाया कि उससे बने जहाज सैकड़ों वर्षों तक पानी पर तैरते रहते किन्तु जंग नहीं खाते थे। क्यों की भारत में पैदा होने वाला लौह अयस्क इतनी उत्तम कोटी का था कि उससे उत्तम कोटी का इस्पात बनाया गया। लोहे को गलाने के लिये भट्टी लगानी पड़ती है और करीब १५०० डिग्री ताप की जरूरत पड़ती है और उस समय केवल लकड़ी ही एक मात्र माध्यम थी जिसे जलाया जा सके। और लकड़ी अधिकतम ७०० डिग्री ताप दे सकती है फिर हम १५०० डिग्री तापमान कहा से लाते थे वो भी बिना बिजली के? तो पता चलता है कि भारत वासी उस समय कूछ विशिष्ट रसायनों का उपयोग करते थे अर्थात रसायन शास्त्र की खोज भी भारत ने ही की। खनीज के बाद चिकत्सा के क्षेत्र में भी भारत का ही सिक्का चलता था क्यों कि भारत की औषधियां पूरी दुनिया खाती थी। और इन सब वस्तुओं के बदले अफ्रीका जैसे स्वर्ण उत्पादक देश भारत को सोना देते थे। तराजू के एक पलड़े में सोना होता था और दूसरे में कपडा। इस प्रकार भारत में सोने का भण्डार बना। एक ऐसा देश जहाँ गाँव गाँव में दैनिक जीवन की लगभग सभी वस्तुएं लोगों को अपने ही आस पास मिल जाती थी केवल एक नमक के लिये उन्हें भारत के बंदरगाहों की तरफ जाना पड़ता था क्यों कि नमक केवल समुद्र से ही पैदा होता है। तो विश्व का एक इ तना स्वावलंबी देश भारत रहा है और हज़ारों वर्षों से रहा है और आज भी भारत की प्रकृती इतनी ही दयालु है, इतनी ही अमीर है और अब तो भारत में राजस्थान में बाड़मेर, जैसलमेर, बीकानेर में पेट्रोलियम भी मिल गया है तो आज भारत गरीब क्यों है और प्रकृति की कोई दया नहीं होने के बाद यूरोप इतना अमीर क्यों?
आज कल ज्यादातर लोग offline से ज्यादा online course लेना पसंद कर रहे हैं. आखिर ये online course होता क्या है? ये एक platform है जहाँ लोग पैसे खर्च करके अपना मन पसंद skill सिख सकते है. मान लीजिये आपको Photography में interest है. तो ये सिखने केलिए आपको एक academy को join करना होगा. अब ये तो मुमकिन नहिं के आप जो पढ़ना या सीखना चाहते हैं वो आपके घर के पास हो; इसके लिए आपको बाहर भी जाना पड़ सकता है. पर online tution के जरिये कोई भी घर बैठे अपना मन चाहा course ले सकता है.
केंद्रीय कृषि मंत्री ने बताया कि उद्यम विकास का मार्ग प्रशस्त करने के लिए आरकेवीवाई के दिशा निर्देशों में परिवर्तन किया जा रहा है। कृषि, सहकारिता एवं किसान कल्याण विभाग ने 2017-18 तक 24 मिलियन टन दलहन उत्पादन करने की कार्य योजना तैयार कर ली है। प्रति बूंद अधिक फसल का लक्ष्य प्राप्त करने के लिए नाबार्ड ने 5000 करोड़ रुपये की प्रारंभिक धनराशि के साथ एक समर्पित सूक्ष्म सिंचाई कोष बनाया गया है।
क्या आपको पता है की Youtube से पैसे कैसे कमाए? यदि हाँ तो शायद आपने YouTube के बारे में पहले से ही जानकरी होगी जो की अच्छी बात है लेकिन यदि नहीं तो चिंता करने की कोई आत नहीं क्यूंकि आज में आप लोगों को Youtube से पैसे कैसे कमाए के बारे में पूरी जानकारी देने वाला हूँ जिससे की आपके मन में मेह्जुद सारी संकाएँ दूर हो सकेंगी और आप भी दुसरे Youtubers की तरह इससे अच्छा खासा पैसे कम सकेंगे.
अच्छी तरह से संरक्षित शहर एक चट्टानी रिज पर बैठता है। इसकी छः किलोमीटर की दीवार की दीवार के भीतर सुंदर लाल बलुआ पत्थर से बने विस्तृत नक्काशीदार संरचनाओं का एक कॉर्नुकोपिया है। इनमें भारत की सबसे बड़ी मस्जिदों में से एक, तीन महल और अन्य प्रारंभिक मुगल संरचनाएं शामिल हैं, जो मुस्लिम और हिंदू वास्तुकला दोनों प्रभावों का प्रदर्शन करती हैं। यह त्याग किया हुआ शहर अभी भी अपने महलों और अदालतों की वायुमंडलीय सुंदरता के कारण कई आगंतुकों को आकर्षित करता है।

◼Connect With Us On Social-media◼ ◾ Like Our Page On Facebook ▶www.facebook.com/techguptahindi ◾Follow Us On Twitter ▶ www.twitter.com/techguptahindi◾ Follows us on Instagram ▶ www.instagram.com/techguptahindi ==================== ==================== NOTE :- The Video is for education purpose, any misuse of the video, the channel won't be responsible. ▶ ALL THE IMAGES/PICTURES SHOWN IN THE VIDEO BELONGS TO THE RESPECTED OWNERS AND NOT ME.. ▶ I AM NOT THE OWNER OF ANY PICTURES SHOWED IN THE VIDEOS ▶ All content used is ©copyright to Techgupta , Use or commercial display or editing of the content without proper authorization is not allowed. ▶ Background Music ◀BACKGROUND MUSIC CRADIT GOES TO !!!
Link Shortening का मतलब यह होता है किसी भी लिंक को छोटा करना, अगर किसी भी वेबसाइट को हम छोटा करते है तो हमें दूसरी वेबसाइट मिल जाएगी लेकिन उस वेबसाइट कि लोकेशन उसी वेबसाइट पर पहुचेगी जो आपने इंटर की थी, Shorten लिंक वाली वेबसाइट पर और जितने भी लोग आपकी छोटी वाली लिंक पर विजिट करेंगे उतना ही आपकों पैसा मिलेगा इस तरह से भी आप Ghar Baithe Paisa Kama सकते हो |
दोस्तों हमने आज आपको हमारी इस पोस्ट मे बताया की Google se Paise Kaise Kamaye हमने हमारी इस पोस्ट को आसान से आसान भाषा मे लिखने की कोशिस की है, अगर आपको हमारी पोस्ट पसंद आई हो कृपया करके इस पोस्ट को ज्यादा से ज्यादा शेयर कीजिये, आप हमारी वेबसाइट पर बेल आइकॉन को प्रेस करके हमारी हर एक नयी आने वाली पोस्ट से जुड़े रह सकते है, हमने आपको हमारी पिछली पोस्ट मे यह भी बताया था Whatsapp se Paise Kaise Kamaye और यह भी बताया था की Whatsapp Kaise Download Kare
मोबाइल फोन रिचार्ज करना और बिल भुगतान करना तेजी से और कुशल मोबाइल एप्लिकेशन के साथ आसान हो गया है क्यूबर के साथ, आप तुरंत किसी भी फोन को रिचार्ज कर सकते हैं, पोस्ट-पेड बिल भुगतान कर सकते हैं, डीटीएच, गैस, बिजली बिल, प्रीपेड / पोस्ट-पेड डेटाकॉर्ड बिल, पुस्तक बस या फ्लाईट ऑनलाइन आदि के लिए भुगतान कर सकते हैं। आपके रिचार्ज के साथ आगे बढ़ सकते हैं यह केवल कुछ ही कदम दूर है।
×