Hello friends, स्वागत हैं आपका careerinhindi.com पर | जैसा कि आप जानते हैं हम यहाँ पर आपको करियर से जुड़ी जानकारी प्रदान करते रहते हैं | आज की इस पोस्ट “घर बैठे पैसे कमाने के तरीके” में हम आपको बताएँगे कि कैसे आप बिना कहीं जॉब करे अच्छा पैसा कमा सकते हैं | तो चलिए शुरू करते हैं, बस आप इस पोस्ट को ध्यान से पढ़ें आपको वाकई में बहुत महत्वपूर्ण जानकारी मिलने वाली हैं इस पोस्ट में |
गुरुवार को प्रेसवार्ता के दौरान जानकारी देते हुए एसपी डॉ सत्यप्रकाश ने बताया कि बुधवार की सुबह बारुण ओवरब्रिज के समीप डेहरी के व्यवसायी संजीत कुमार जायसवाल की स्कार्पियो लूटने के उद्देश्य से गोली मारकर हत्या कर दी थी. पूछताछ के क्रम में बताया है कि इस घटना में श्रवण पासवान व अमित सिंह भी शामिल थे. स्कार्पियो को लूट कर रांची में ले जाना था और वहां पर किसी बड़े आदमी का अपहरण कर फिरौती की वसूली करनी थी.
इकनॉमिक टाइम्स| ઈકોનોમિક ટાઈમ્સ | Pune Mirror | Bangalore Mirror | Ahmedabad Mirror | ItsMyAscent | Education Times | Brand Capital | Mumbai Mirror | Times Now | Indiatimes | नवभारत टाइम्स | महाराष्ट्र टाइम्स | ವಿಜಯ ಕರ್ನಾಟಕ | Go Green | AdAge India | Eisamay | IGN India | NavGujarat Samay | Times of India | Samayam Tamil | Samayam Telugu | Miss Kyra | Bombay Times | Filmipop | BrainBaazi | BrainBaazi APP
किन्तु आज भी अंग्रेजों के बनाए सभी क़ानून यथावत चल रहे हैं अंग्रेजों की चिकित्सा पद्धति यथावत चल रही है। और कूछ काम तो हमारे देश के नेताओं ने अंग्रेजों से भी बढ़कर किये। अंग्रेजों ने भारत को लूटने के लिये २३ प्रकार के टैक्स लगाए किन्तु इन काले अंग्रेजों ने ६४ प्रकार के टैक्स हम भारत वासियों पर थोप दिए। और इसी टैक्स को बचाने के लिये देश के लोगों ने टैक्स की चोरी शुरू की जिससे काला बाजारी जैसी समस्या सामने आई। मंत्रियों ने इतने घोटाले किये कि देश की जनता भूखी मरने लगी। भारत की आज़ादी के बाद जब पहली बार संसद बैठी और चर्चा चल रही थी राष्ट्र निर्माण की तो कई सांसदों ने नेहरु से कहा कि वह इंग्लैण्ड से वह उधार की राशी मांगे जो द्वितीय विश्व युद्ध के समय अंग्रेजों ने भारत से उधार के तौर पर ली थी और उसे राष्ट्र निर्माण में लगाए। किन्तु नेहरु ने कहा कि अब वह राशि भूल जाओ। तब सांसदों का कहना था कि इन्होने जो २०० साल तक हम पर जो अत्याचार किया है क्या उसे भी भूल जाना चाहिए? तब नेहरु ने कहा कि हाँ भूलना पड़ेगा, क्यों कि अंतर्राष्ट्रीय संबंधों में सब कूछ भुलाना पड़ता है। और तब यही से शुरुआत हुई सता की लड़ाई की और राष्ट्र निर्माण तो बहुत पीछे छूट गया था।
आपको इस बात से अवगत होना चाहिए कि बचाया गए धन से ही पैसा कमाया जाता है. इसलिए, आज रात बाहर खाने, उस नए महंगे फोन को खरीदने और लंबे सप्ताहांत पर अवांछित यात्रा आदि पर जाने जैसे तत्काल संतुष्टि देने से रोकें. “यह कहने के लिए फैशनेबल हो सकता है कि ‘मैं जिंदगी जीने के लिए यात्रा करता हूं’ या ‘अगर मैं ऐसा नहीं करता, तो जीवन का क्या मतलब है’ जैसे अनावश्यक व्यय के औचित्य को साबित करने में लग जाते हैं. एक भी पैसे को खर्च करने से पहले खुद से एक सवाल पूछें – क्या यह वाकई जरुरी है? अगर उत्तर तत्काल हां नहीं है, तो आपको इनसे बचना चाहिए. अपने सहकर्मी को देखकर दबाब न बनाएं. सिर्फ इसलिए कि आपके करीबी दोस्त, परिवार या परिचित कुछ कर रहे हैं, इसका मतलब यह नहीं है कि आपको भी इसपर खर्च करना होगा,राइट होरिजन के संस्थापक और सीईओ अनिल रेगो कहते हैं.

तो मित्रो इसका उत्तर यहाँ से मिलता है। उस समय अफ्रीका और लैटिन अमरीका तक व्यापार का काम दो देशों चीन और भारत से होता था। आप सब जानते ही होंगे कि अफ्रीका दुनिया का सबसे बड़ा स्वर्ण उत्पादक क्षेत्र रहा है और आज भी है। इसके अलावा अफ्रीका की चिकित्सा पद्धति भी अद्भुत रही है। सबसे ज्यादा स्वर्ण उत्पादन के कारण अफ्रीका भी एक बहुत अमीर देश रहा है। अंग्रेजों द्वारा दी गयी ४५० साल की गुलामी भी इस देश से वह गुण नहीं छीन पायी जो गुण प्रकृति ने अफ्रीका को दिया। अंग्रेजों ने अफ्रीका को न केवल लूटा बल्कि बर्बरता से उसका दोहन किया। भारत और अफ्रीका का करीब ३००० साल से व्यापारिक सम्बन्ध रहा है। भौगोलिक दृष्टि से समुद्र के रास्ते दक्षिण एशिया से अफ्रीका या लैटिन अमरीका जाने के लिये इंग्लैण्ड के पास से निकलना पड़ता था। तब इंग्लैण्ड वासियों की नज़र इन जहाज़ों पर पड़ गयी। और आप जानते होंगे कि इंग्लैण्ड में कूछ नही था, लोगों का काम लूटना और मार के खाना ही था, ऐसे में जब इन्होने देखा कि माल और सोने भरे जहाज़ भारत जा रहे हैं तो इन्होने जहाज़ों को लूटना शुरू किया। किन्तु अब उन्होंने सोचा कि क्यों न भारत जा कर उसे लूटा जाए।।। तब कूछ लोगों ने मिल कर एक संगठन खड़ा किया और वे इंग्लैण्ड के राजा रानी से मिले और उनसे कहा कि हम भारत में व्यापार करना चाहते हैं हमें लाइसेंस की आवश् यकता है। अब राज परिवार ने कहा कि भारत से कमाया गया धन राज परिवार, मंत्रिमंडल, संसद और अधीकारियों में भी बंटेगा। इस समझौते के साथ सन १७५० में थॉमस रो ईस्ट इण्डिया कम्पनी के नाम से जहांगीर के दरबार में पहुंचा और व्यापार करने की आज्ञा मांगी। और तब से १९४७ तक क्या हुआ है वह तो आप भी जानते है।
इस तरीके का इस्तमाल करके भी आप बहुत सारे पैसे YouTube से कमा सकते हो और वो भी बहुत ही कम समय में. इसके लिए आपको कोई भी अच्छा एक Product चुनना होगा, फिर उसे इस्तमाल कर उसके ऊपर एक Review video बनाना होगा और उसके बाद उसकी Purchase link देनी होगी description में जिससे की आपके Viewers उसे खरीद सकें और जिसके की आपको Purchase के हिसाब से commission मिलती है.

उसके बाद १८७० में अंग्रेजों के विरुद्ध क्रान्ति छेड़ी हमारे देश के गौरव स्वामी दयानंद सरस्वती ने, उनके बाद लोकमान्य तिलक, लाला लाजपतराय, वीर सावरकर जैसे वीरों ने। फिर गांधी जी, भगत सिंह, उधम सिंह, चंद्रशेखर जैसे बीरों ने। अंतिम लड़ाई लड़ने वालों में नेताजी सुभाष चन्द्र बोस रहे हैं। सन १९३९ में द्वितीय विश्व युद्ध के समय जब हिटलर इंग्लैण्ड को मारने के लिये तैयार खड़ा था तो अंग्रेज साकार ने भारत से एक हज़ार ७३२ करोड़ रुपये ले जा कर युद्ध लड़ने का निश्चय किया और भारत वासियों को वचन दिया कि युद्ध के बाद भारत को आज़ाद कर दिया जाएगा और यह राशि भारत को लौटा दी जाएगी। किन्तु अंग्रेज अपने वचन से मुकर गए।
कुछ लोगों ने तो बेईमानी को सही ठहराने के लिए ईमानदारी की परिभाषा ही बदल दी। वित्तीय कारोबार में काम करनेवाला टॉम कहता है: “लोगों के हिसाब से ईमानदारी का मतलब सच का साथ देना नहीं है, बल्कि इस तरह बेईमानी करना है कि पकड़े न जाओ।” डेविड जो पहले एक कंपनी में बड़े पद पर काम करता था, कहता है: “बेईमानी करनेवाले का जब भाँडा फूटता है, तो सब उस पर थू-थू करते हैं। लेकिन अगर वही इंसान कानून से साफ बच जाए तो कोई कुछ नहीं कहता। उलटा लोग दाद देते हैं: ‘मानना पड़ेगा उसे, कमाल का दिमाग पाया है!’”
पछिल्लो समय आर्थिक गतिविधिमा आएको सुधारका कारण रोजगारी, उत्पादन तथा उत्पादकत्व बढ्दा प्रतिव्यक्ति आयमा सुधार आएको पूर्व अर्थसचिव डा. शान्तराज सुवेदीले बताए । ‘नेपालीको औसत आय बढ्नुमा पुनर्निर्माण, ठूला तथा राष्ट्रिय गौरवका आयोजनाका निर्माणले लिएको गति, सरकारी खर्चमा भएको बढोत्तरीले नेपालको कुल गार्हस्थ उत्पादन बढ्न जाँदा त्यसको प्रभाव प्रतिव्यक्ति आयमा देखियो’, पूर्व अर्थसचिव डा. सुवेदीले अन्नपूर्णसँग भनेका छन्, ‘पछिल्लो समय विद्युत् आपूर्ति बढ्न जाँदा उद्योग क्षेत्रको उत्पादन बढ्नुका साथै निर्माणमा प्रगति हुँदै गएको छ ।’
अपनी Post में दूसरी Post की Link और कम से कम एक Image जरूर Add करें | क्योकि एक Image 1000 Letter के बराबर है | Post में जहाँ पर भी Image की जरूरत है | वहाँ पर Image जरूर Add करें |और आप अपने Blog को अच्छी तरह से Design करें | और बढ़िया Template Upload और Widget भी Add करें | और आप अपने Blog की Traffic बढ़ाने के लिए Facebook जैसे Social Site का Page बनाएं और इनका Widget भी अपने Blog में Add करें |
7 इसलिए, खुद को परमेश्‍वर के अधीन करो, मगर शैतान* का सामना करो और वह तुम्हारे पास से भाग जाएगा। 8 परमेश्‍वर के करीब आओ और वह तुम्हारे करीब आएगा। अरे पापियो, अपने हाथ धोओ, अरे दुचित्ते लोगो, अपने दिलों को शुद्ध करो। 9 अपनी दुर्दशा पर मातम करो और रोओ। तुम्हारी हँसी मातम में और तुम्हारी खुशी उदासी में बदल जाए। 10 यहोवा की नज़रों में खुद को नम्र करो और वह तुम्हें ऊँचा करेगा।

दोस्तों अगर आप ब्लॉग पर लिखना नहीं चाहते हो तो आप YouTube पर विडियो डाल कर भी Google से पैसे कमा सकते हो, आपकी विडियो अगर लोगो को पसंद आने लगती है और आपके बहुत सारे YouTube पर फेन बन चुके है, तो आप अपनी विडियो मे Advertise करके भी बहुत अच्छे पैसे कमा सकते है अगर आपका YouTube Channel बहुत बड़ा बन गया तो आप उस चैनल से इतने पिआसे कमा सकते हो जितना आपने कभी सोचा भी नही होगा |

Website – आपको एक वेबसाइट बनाना होगा और उसमे आर्टिकल्स लिखना होगा। वेबसाइट को आप FREE मेभी बना सकते हैं और वेबसाइट बनाना बहुत ही आसान है जोकि 10 मिनट में बन जाता है। आप वेबसाइट के नाम से घबराइए नहीं क्यूंकि ये बहुत ही आसान है और कोई भी इसे बना सकता है। आप इस आर्टिकल को पढ़ रहे हैं तो आप 100 % वेबसाइट भी बना सकते हैं| मैं आपको वेबसाइट बनाने का तरीका भी बताऊंगा ।
गुरुवार को प्रेसवार्ता के दौरान जानकारी देते हुए एसपी डॉ सत्यप्रकाश ने बताया कि बुधवार की सुबह बारुण ओवरब्रिज के समीप डेहरी के व्यवसायी संजीत कुमार जायसवाल की स्कार्पियो लूटने के उद्देश्य से गोली मारकर हत्या कर दी थी. पूछताछ के क्रम में बताया है कि इस घटना में श्रवण पासवान व अमित सिंह भी शामिल थे. स्कार्पियो को लूट कर रांची में ले जाना था और वहां पर किसी बड़े आदमी का अपहरण कर फिरौती की वसूली करनी थी.
2 मेरे भाइयो, क्या तुम हमारे महिमा से भरपूर प्रभु यीशु मसीह पर विश्‍वास दिखाने के साथ-साथ भेदभाव भी कर रहे हो? 2 अगर कोई इंसान तुम्हारी सभा में सोने की अंगूठियाँ और शानदार कपड़े पहनकर आता है और एक गरीब आदमी मैले-कुचैले कपड़ों में आता है, 3 तो तुम शानदार कपड़े पहननेवाले को तो अच्छी नज़र से देखते हो और उससे यह कहते हो: “इस बढ़िया जगह पर बैठ” मगर गरीब से यह कहते हो: “तू खड़ा रह,” या “यहाँ ज़मीन पर मेरे पाँव की चौकी के पास बैठ,” 4 तो क्या तुम्हारे बीच ऊँच-नीच का भेदभाव नहीं और क्या तुम ऐसे न्यायी न ठहरे जो दुष्टता से फैसले करते हैं?
Youtube के बारे में पहले एक Post में आपको बता चुका हूँ | कि Youtube से पैसे कैसे कमाए Video Upload करके | Youtube एक Video Sharing Website है,  जिसके द्वारा आप अपने Video को All World में Share कर सकते है | और Video पर Ads लगाकर पैसे भी कमा सकते है | Youtube पर पैसे कमाने के लिए ये Post पढ़े | Youtube Video को Monetize करके Adsense से पैसे कैसे कमाए ?
एशियन गेम्स 2018 के 12वें दिन गुरुवार को भारत के लिए गौरवान्वित होने वाले कई पल आए। भारतीय ऐथलीट्स ने शानदार खेल का प्रदर्शन किया। इनकी बदौलत भारत ने एथलेटिक्स में दो गोल्ड सहित कुल पांच पदक जीते। भारत की ओर से जिनसन जॉनसन ने पुरुषों के 1500 मीटर दौड़ में गोल्ड मेडल जीता। यही नहीं, 4x400 मीटर दौड़ में महिलाओं ने लगातार पांचवीं बार भारत के लिए सोने का तमगा हासिल किया। पीयू चित्रा ने जहां महिलाओं की 1500 मीटर दौड़ में कांस्य पदक हासिल किया, तो पुरुषों की 4x400 रिले टीम ने सिल्वर पदक पर कब्जा जमाया। इन सबके अलावा डिसकस थ्रो में सीमा पूनिया ने भारत के लिए ब्रॉन्ज मेडल जीता।
यह एप आपको ऑनलाइन दुनिया से ऑफलाइन दुनिया में ले जाता है. यह एप आपको उन रेस्टोरेंट्स और स्पा में जाने को कहता है जो इस एप के साथ साझेदार हैं. जब आप उनके द्वारा कहे जगह पर खाना खाने, शॉपिंग करने, मूवी देखने जाते हैं तो आपको अपने बिल की फोटो अपलोड करना होता है जिससे आपको कैशबैक मिलता है. जैसे ही आप बिल अपलोड करेंगे तब आपको कुछ कैशबैक मिलेगा जिसका उपयोग कर आप नई मूवी देखने या ऑनलाइन शॉपिंग में कर सकते हैं.
और इसी लूट मार से परेशान भारतीयों ने पहली बार एकत्र होकर सब १८५७ में अंग्रेजों के विरुद्ध क्रांति छेड़ दी। इस क्रांती की शुरुआत करने वाले सबसे पहले वीर मंगल पाण्डे थे और अंग्रेजों से भारत की स्वतंत्रता के लिये शहीद होने वाले सबसे पहले शहीद भी मंगल पांडे ही थे। देखते ही देखते इस क्रान्ति ने एक विशाल रूप धारण किया। और इस समय भारत में करीब ३ लाख २५ हज़ार अंग्रेज़ थे जिनमे से ९०% इस क्रांति में मारे गए। किन्तु इस बार भी कूछ कायरों ने ही इस क्रान्ति को विफल किया और अंग्रेजों द्वारा सहायता मांगने पर उन्होंने फिर से अपने बंधुओं पर प्रहार किया।

आज के टाइम में average  लोगो के लिए competition बहुत ही ज्यादा है और  आपको competition से उप्पर उठने का एक ही तरीका है। वो भी  Be Obsessed &  be extra –ordinary  अगर आप किसी भी successful इंसान को देखोगे की वो अपने काम को लेकर कितना ज्यादा Obsessed  रहते है।  उनको किसी और काम में ध्यान ही नहीं जाता।  उनका ध्यान सिर्फ और सिर्फ बस एक ही काम में होता है मतलब की वो लोग जिस तरह की focused और dedicated के साथ उस काम को करते है जिस्से देखकर एक normal इंसान को लगेगा की ये इंसान तो सच में पागल है या कोई बीमारी है। लेकिन सच बात तो ये है की obsession कोई बीमारी नहीं बल्कि गिफ्ट है। 

ई-कॉमर्स कंपनियों का उदाहरण है जो घर के उपकरणों से शुरू शारीरिक उत्पादों को बेचने के लिए ले लो, पुस्तकें सब कुछ करने के लिए apparels. किताबें जलाने का उदाहरण लें, पर ऑनलाइन पाठ्यक्रम Udemy, ई बुक्स, सॉफ्टवेयर है जो जानकारी आधारित उत्पादों रहे हैं. सेवा के मामले में, आप आभासी सहायक की तरह विभिन्न सेवाएं प्रदान कर सकते हैं, ग्राहक सेवा, दिन देखभाल, कोचिंग आदि.


यह अब कोई राज़ की बात नहीं है कि देश के तमाम विकास परियोजनाओं ने सबसे ज्यादा विकास नेताओं का किया है और इसमें उनके परिवार और महिला- पुरुष मित्रों ने अहम भूमिका निभाई है। दिल्ली को ही लीजिए। ब्लूलाइन बस से लेकर ऑटो तक और जल बोर्ड के पानी टैंकरों से लेकर प्रॉपर्टी के बिजनेस तक, नेताओं के सगे-संबंधियों की ही तूती बोलती है, नेताजी कहीं नहीं होते। वे होते हैं, तो बस पर्दे के पीछे।

तो अगर आपके पास है कोई क्रिएटिव आईडिया तो आपका उस पर विडियो बनके यूट्यूब प्लेटफार्म अपना एक यूट्यूब चैनल बनाके आसानी से पैसे कमा सकते है आज कल हजारो लोग यूट्यूब से हजारो लाखो यहाँ ताकि करोडो रूपये भी कमा रहे है अगर आप जानना चाहते है की यूट्यूब से पैसे कैसे कमाए घर बैठे तो इसके लिए आप ये पोस्ट पढ़े यूट्यूब चैनल बनाके पैसे कैसे कमाए पूरी जानकारी  तो जैसे ही आप चैनल बना लेते है और आपके चैनल पर यूट्यूब मोनेटायिजेसन एक्टिवेट हो जाता है इसके बाद आपके वीडियोस पर गूगल ऐडसेंस की तरफ सेप्रचार दिखाए जायेंगे जिसे आपको पैसे मिलेंगे और इस पैसे को सीधा अपने बैंक में भेज सकते है.

×