क्योंकि हमें ऐसी पोस्ट पढ़ना बहुत अच्छा लगता है और कहीं ना कहीं हमें इन लोगों को देखकर प्रेरणा मिलती है कि हमें भी अपने लाइफ में कुछ करके दिखाना है. दोस्तों और सबसे मजेदार बात तो यह है कि इन में से कुछ लोग शुरूआत से ही अमीर नहीं थे वह शुरू में गरीब थे पर उनके जज्बात उनकी बड़ी सोच उनके जीवन में कुछ कर दिखाने का जुनून ने उनको आज दुनिया के सबसे अमीर आदमियों की लिस्ट में शामिल कर दिया है
गूगल एड सेंस के जरिए आप ब्लॉग पर विज्ञापन भी लगा सकते हैं, जिससे कुछ कमाई का जरिया बन सकता है। गूगल की सेवा adsense के द्वारा दिए जा रहे विज्ञापन को अपने ब्लॉग पर लगायें। यह आपको हर उस क्लिक के लिए भुगतान करेगा जो आपके ब्लॉग पर दिखाए गए विज्ञापन पर होगा। Google adsense आपको कई तरह के विज्ञापन देता है जैसे वीडियो, चित्र, टेक्स्ट, बैनर इत्यादि। आप इनमे से अपने लिए बेहतर विज्ञापन चुने और अपने ब्लॉग पर लगायें। हालांकि एक बेहतरीन ब्लॉग बनाना एक मुश्किल काम है।
मित्रों श्री राजीव दीक्षित के एक व्याक्यान में उन्होंने बताया था कि वे एक बार जर्मनी गए थे और वहां एक प्रोफेसर से उनका विवाद हो गया। विवाद का विषय था ”भारत महान या जर्मनी?” जब कोई निर्णय नहीं निकला तो उन्होंने एक रास्ता बनाया कि दोनों जन एक दूसरे से उसके देश के बारे में कुछ सवाल पूछेंगे और जिसके जवाब में सबसे ज्यादा हाँ का उत्तर होगा वही जीतेगा और उसी का देश महान। अब राजीव भाई ने प्रश्न पूछना शुरू किया। उनका पहला प्रश्न था-
तो internet se paise kamane ke tarike in hindi या online paise kaise kamaye अब आपको इन सवालों के जबाव मिल गए होंगे. अगर आपके पैसे कमाने की इक्छा है तो आपके पास एक लैपटॉप होना जरुरी है. अगर आपके पास नया लैपटॉप कमाने के पैसे नहीं है तो आप पुराना लैपटॉप खरीद कर भी काम कर सकते है पुराना लैपटॉप आपको olx और quickr जैसी वेबसाइट में मोबाइल की कीमत में मिल जायेंगे.
माध्यमिक शिक्षा परिषद में सभी स्कूलों को ऑनलाइन करने की प्रक्रिया चल रही है। स्कूलों में सृजित पदों के सापेक्ष शिक्षकों व शिक्षणेत्तर कर्मचारियों की नियुक्ति, मान्यता, भवन आदि से संबंधित डाटा ऑनलाइन किया जा रहा है। प्रमुख सचिव के निर्देशों पर 25 जून तक यह कार्य पूर्ण किया जाना है। माध्यमिक शिक्षा परिषद ने इसके लिए वेबसाइट एचटीटीपी://स्कूल्स डॉट आरएमएसए-यूपी डॉट इन शुरू की है। मगर, डाटा ऑनलाइन करने में स्कूल रुचि नहीं दिखा रहे। गुरुवार तक कुछ स्कूलों ने ही वेबसाइट पर अपना ब्यौरा ऑनलाइन किया था। इंटर की मार्कशीट आने के बाद तय समय पर यह कार्य पूर्ण करने को माध्यमिक शिक्षा परिषद ने बीच का रास्ता निकाला है। विभाग स्कूलों को मार्कशीट नहीं दे रहा है। उन्हें पहले वेबसाइट पर अपने स्कूल से संबंधित जानकारी अपलोड करने को कहा जा रहा है। इसकी प्रति जमा करने पर उन्हें मार्कशीट दी जाएगी।

भारत में बहुत लोग बेरोजगार है जिनमे बहुत तो ऐसे है जिन्हें अच्छी पढाई करने के बावजूद भी जॉब नहीं मिल पाती है लेकिन उन लोगो के लिए इन्टरनेट एक बेहतरीन जगह है जहां पैसे कमाने की कोई लिमिट नहीं है अगर आपको इन्टरनेट का थोड़ा बहुत नोलेज है तो भी आप इन्टरनेट से पैसे कमा सकते हैं. यहाँ पर सबसे बड़ी बात ये है की किसी काम के लिए आपसे आपकी कोई पढाई या डिग्री का प्रूफ नहीं माँगा जाता है.
इन्टरनेट से पैसे कमाने के लिए आपके ज्ञान ही जरुरी नहीं है अगर आपके पास कुछ अच्छा और अलग टैलेंट है तो आप इन्टरनेट से नाम भी कमा सकते है पोपुलर बन सकते और पैसे भी कमा सकते है आज कल बहोत सारे लोग यही काम कर रहे है इन्टरनेट सिर्फ जानकारी लेने के लिए नहीं बना है यहाँ पर आप अपने टैलेंट जैसे ऑनलाइन कुछ भी कर जैसे डांस सिखा के लोगो को पढ़ा के , गाना सुनाके लोगो को एंटरटेन करके भी अपने नाम कमा सकते है और सेलेब्रिटी भी बन सकते है और साथ ही साथ पैसे भी कमा सकते है तो आइये जान लेते है इंटरनेट से पैसे कमाने के अलग अलग तरीके.
×